BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

बुधवार, अक्तूबर 21, 2009

जरा सामने तो आओ छलिये..


कांग्रेस के महासचिव राहुल गांधी निजी दौरे पर उत्तराखंड पहुंच गए हैं। दौरे की गोपनीयता का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि खुफिया एजेंसियों, अफसरों व पुलिस के आला अधिकारियों को भी इसकी जानकारी नहीं हैं। सूत्रों की मानें तो शताब्दी एक्सप्रेस से राहुल रुड़की पहुंचे और वहां से हर्षिल (उत्तरकाशी) चले गए। उनका ट्रेकिंग का लुत्फ उठाने का कार्यक्रम है। मजेदार बात यह रही कि राहुल ने अपना गेटअप भी बदल रखा था। मिलने-जुलने में खासी दिलचस्पी रखने वाले श्री गांधी देवभूमि में इस बार कुछ अलग अंदाज में आए हैं। उनकी एक झलक देखने के लिए देहरादून, रुड़की व हरिद्वार रेलवे स्टेशनों पर कांग्रेसी कार्यकर्ता इंतजार करते ही रह गए। राहुल गांधी के दौरे का पता लगते ही पार्टी कार्यकर्ता झंडे, बैनर व पुष्पगुच्छों के साथ देहरादून, रुड़की और हरिद्वार के रेलवे स्टेशनों पर पहुंच गए। सूचना यह थी कि शताब्दी एक्सप्रेस से श्री गांधी देहरादून पहुंच रहे हैं। ऐसे में अपने चहेते नेता की झलक पाने की होड़ लग गई। तीनों रेलवे स्टेशनों पर इंतजार में खड़े कांग्रेसी एक-दूसरे से संपर्क करते रहे। करीब साढ़े 11 बजे यह सूचना आई कि रुड़की रेलवे स्टेशन पर श्री गांधी उतर गए हैं और हर्षिल (उत्तरकाशी) के लिए कार से रवाना हुए हैं। बताया जा रहा है कि राहुल गांधी का गेटअप एकदम बदला हुआ था। वे एक टीनएजर दिख रहे थे। इस जानकारी के बावजूद कुछ चुनिंदा कांग्रेस नेता दून रेलवे स्टेशन पर जमे रहे। शताब्दी एक्सप्रेस दून रेलवे स्टेशन पर पहुंची तो कांग्रेसी पुष्प गुच्छ व बैनर लेकर बोगी के पास पहुंचे। पुलिस, खुफिया व रेलवे के अधिकारी भी स्टेशन पर तैनात रहे। सारे यात्री बाहर निकल गए, तब सभी को अहसास हुआ कि वास्तव में श्री गांधी की रुड़की में उतरने की सूचना ठीक थी। मायूस कार्यकर्ताओं ने रेलवे स्टेशन पर अपने नेता के समर्थन में नारेबाजी की और वहां से चले गए। रुड़की संवाददाता के अनुसार श्री गांधी रेलवे स्टेशन उतरे और यहां से कार से उत्तरकाशी के लिए रवाना हो गए। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी के अनुसार श्री गांधी का कार्यक्रम अति गोपनीय रखा गया। पहले तय कार्यक्रम के अनुसार उन्हें एसपीजी की सुरक्षा में हरिद्वार में उतरना था पर बाद में एसपीजी ने कार्यक्रम बदल दिया। रुड़की में श्री गांधी को कोच के दूसरी तरफ से उतारा गया। सीओ टै्रफिक नवनीत सिंह को मार्ग की जानकारी के लिए उनके काफिले के साथ भेजा गया। हरिद्वार संवाददाता के अनुसार श्री गांधी के आने की सूचना मिलने पर कांग्रेसी कार्यकर्ता रेलवे स्टेशन पहुंच गए। इनकी तैयारी उस समय धरी रह गई, जब उन्हें पता चला कि वह रुड़की में ही उतर गए हैं। कुल मिलाकर श्री गांधी के कार्यक्रम को लेकर दिनभर शासन-प्रशासन ही नहीं, बल्कि कांग्रेसी भी परेशान रहे। मुख्य सचिव इंदुकुमार पांडे के अनुसार उनके कार्यक्रम की कोई अधिकृत सूचना शासन के पास नहीं है। इधर पता चला है कि राहुल का उत्तरकाशी में ट्रेकिंग का भी कार्यक्रम है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज