BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

गुरुवार, नवंबर 12, 2009

तवांग के बौद्ध हिंदी संगीत और ऐश्वर्या राय के दीवाने

तवांग, भाषा : अरुणाचल प्रदेश के मोनपा (स्थानीय निवासियों) भले ही बौद्धधर्म को मानते हों लेकिन वे हिंदी संगीत और बालीवुड सितारों अमिताभ बच्चन, शाहरुख खान तथा ऐश्वर्या राय के दीवाने हैं। मेघालय और मिजोरम के स्थानीय निवासी पश्चिमी संगीत पसंद करते हैं और वाद्य यंत्र बजाना उनका शौक होता है। लेकिन अरुणाचल प्रदेश में लोगों को तिब्बती गीत और हिन्दी फिल्में अच्छी लगती हैं। बालीवुड ब्लाकबस्टर्स यानी लोकप्रिय सुपरहिट हिन्दी फिल्मों के लिए उनकी दीवानगी उन्हें पूर्वोत्तर में अन्य लोगों से अलग बना देती है। एक स्थानीय निवासी शीला सेरिंग कहती हंै, मेरी 12 साल की बेटी ने मंगलवार को दलाई लामा की धार्मिक सभा में जाने के बजाय शाहरुख खान की नई फिल्म देखना पसंद किया। स्कूल और कालेज के विद्यार्थियों में बालीवुड के सितारे खासे लोकप्रिय हैं। कालेज की छात्रा मोनपी लामा कहती है कि हम अमिताभ बच्चन, शाहरुख खान और ऐश्वर्या राय की कोई भी फिल्म नहीं छोड़ते। बाजारों में चीनी सामानों, चीनी संगीत की सीडी की भरमार है लेकिन बालीवुड की फिल्मों की लोकप्रियता का इनसे कोई मुकाबला नहीं है। वीडियो शाप म्यूजिक व‌र्ल्ड के मालिक रिचानी कहते हैं कि कभी कभार वे तिब्बती भाषा में चीनी गानों के वीडियो बेचते हैं। उन्होंने कहा, हिन्दी फिल्मों के वीडियो कैसेट्स के लिए लोग दीवाने हैं। तेजपुर (असम) से माल आने के बाद देखते ही देखते बिक जाता है। पूर्वोत्तर के राज्यों, नगालैंड, मणिपुर और मिजोरम में हिन्दी बहुत ही कम बोली जाती है। लेकिन तवांग में स्थानीय विक्रेता भी धाराप्रवाह हिन्दी बोलते नजर आते हैं। एक सेवानिवृत्त अध्यापक नोनी सेरिंग ने बताया, अरुणाचल प्रदेश पर चीन के लगातार दावे के बाद हिन्दी के प्रति प्रेम बढ़ गया है। लोग यह कहने में नहीं हिचकिचाते कि वे भारतीय हैं और अरूणाचल प्रदेश भारत का अभिन्न हिस्सा है। दलाई लामा के दौरे का चीन द्वारा विरोध किए जाने के बारे में 75 वर्षीय सेरिंग ने कहा कि दलाई लामा कहीं भी जाने के लिए स्वतंत्र हैं। उन्होंने कहा, इस तरह के बेतुके बयान देकर चीनी स्थानीय निवासियों के दिलों से भी दूर होते जा रहे हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज