BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

गुरुवार, नवंबर 26, 2009

डबवाली समाचार

डबवाली(अभी-अभी) - उपमण्डल के गांव शेरगढ़ में मजदूरी का कार्य निपटा कर घर जा रहे वृद्ध मजदूर की अज्ञात वाहन की चपेट में आने से घटनास्थल पर ही मृत्यु हो गई। प्राप्त जानकारी अनुसार कालझरानी पंजाब निवासी प्रीतम ङ्क्षसह पुत्र चूड़ ङ्क्षसह का परिवार वर्तमान में वङ्क्षडग़ खेड़ा स्थित ईंट-भट्टा पर लेबर का कार्य करता है तथा स्वयं प्रीतम ङ्क्षसह साथ लगते गांव शेरगढ़ में मजदूरी करने हेतु आता था तथा बीती सायं जब प्रीतम ङ्क्षसह दिहाड़ी करने के उपरान्त अपने घर वङ्क्षडग़ खेड़ा जा रहा था कि पीछे से किसी अज्ञात वाहन ने टक्कर मार दी। जिसके फलस्वरूप उसकी घटनास्थल पर ही मृत्यु हो गई। इस घटना की सूचना गांव के चौकीदार मनीराम द्वारा पुलिस को दी गई। सूचना मिलते ही थाना शहर पुलिस घटनास्थल पर पहुंची तथा प्राथमिक कार्रवाई उपरान्त शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हेतु स्थानीय सिविल अस्पताल पहुंचाया। जब देर रात्रि प्रीतम ङ्क्षसह अपने घर वापिस नहीं पहुंचा तो उसके परिजनों को उसकी चिन्ता सताने लगी तथा उन्होंने आस-पास के क्षेत्र में प्रीतम ङ्क्षसह की तालाश भी की। परन्तु उन्हें कोई सफलता नहीं मिली, तभी किसी ने उन्हें सूचित किया कि बीते दिवस देर सायं गांव शेरगढ़ के पास सड़क हादसे में एक वृद्ध की मृत्यु हो गई है। हादसे की सूचना मिलते ही प्रीतम ङ्क्षसह के परिजन आज स्थानीय सिविल अस्पताल पहुंचे तथा गुरचरण ङ्क्षसह ने मृतक की पहचान अपने पिता प्रीतम ङ्क्षसह के रूप में की। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करवा कर शव परिजनों को सौंप दिया। थाना शहर पुलिस ने अज्ञात वाहन के खिलॉफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।


डबवाली (अभी-अभी)- स्थानीय नई अनाज मण्डी के मजदूरों द्वारा उस समय काम-काज ठप्प कर दिया। जब गत दिवस मंगलवार को उपमण्डल के गांव गंगा में नरमा तोलने गए मजदूरों को चोरी के प्रकरण में पूछताछ हेतु गोरीवाला पुलिस अपने साथ ले गई।
प्राप्त जानकारी अनुसार गांव गंगा निवासी भोला ङ्क्षसह पुत्र माड़ू ङ्क्षसह के घर नरमा तोलने गई लेबर यूनियन के मजदूर सदस्यों सुरेन्द्र, मनोज, हरि प्रकाश, विरेन्द्र, सतीश, रामवरन रमेश कुमार गए हुए थे तथा नरमा की तुलाई के पश्चात नरमा की ट्राली को डबवाली रवाना कर दिया एवं स्वयं वह गांव अबूबशहर में नरमा तोलने के लिए प्रस्थान कर गए। इस दौरान भोला ङ्क्षसह घर पर नहीं था। जब वह घर पहुंचा तो उसने देखा की घर के अन्दर पड़ा ट्रंक का ताला टूटा हुआ था तथा उसमें रखा 5 तोले सोना गायब था। भोला ङ्क्षसह ने इसकी सूचना अपने आढ़ती प्रकाश चन्द बांसल को दी तथा श्री बांसल रमेश झालरिया को लेकर भोला ङ्क्षसह के घर गए तथा उसको साथ लेकर गांव अबूबशहर ढाणी पहुंचे। जहां उपरोक्त लेबर नरमें की तुलाई का कार्य कर रहे थे। वहां पहुंचने के उपरान्त इन्होंने सभी मजदूरों की तालाशी लेनी शुरू कर दी परन्तु परिणाम शून्य ही रहा। इसके बाद भोला ङ्क्षसह ने गोरीवाला पुलिस को दी एक शिकायत में शक मजदूरों पर जाहिर किया। जिसके फलस्वरूप बीते दिवस पुलिस ने शक के आधार पर सभी मजदूरों को पूछताछ हेतु हिरासत में ले लिया। अपने साथियों की हिरासत की सूचना मिलते ही सभी मजदूर एकत्रित होकर गोरीवाला थाना परिसर में जा पहुंचे तथा अपनी जिम्मवारी पर सभी मजदूरों को छुड़वाकर डबवाली ले आए तथा तथा इस चोरी के झूठे प्रकरण में मजदूरों को हिरासत में लिए जाने से खफा उनके साथी मजदूरों ने आज नई अनाज मण्डी में हड़ताल कर दी तथा कहा कि जब तक चोरी का इल्जाम वापिस नहीं लिया जाता तब तक कोई मजदूर नरमें की तुलाई नहीं करेगा तथा उन्होंने पुलिस प्रशासन के खिलॉफ नारेबाजी शुरू कर दी। आज बाद दोपहर कच्चा आढ़तिया ऐसोसिऐशन के प्रधान प्रकाश चन्द बांसल ने गंगा निवासी भोला ङ्क्षसह को अपनी दुकान पर बुलवाया तथा उन्हें विश्वास दिलवाया गया कि जो चोरी की घटना उनके घर घटित हुई है उसमें इन मजदूरों का कोई हाथ नहीं है तथा पुलिस जांच में सच्चाई सामने आ ही जाऐगी। मजदूर यूनियन के पदाधिकारी व सभी सदस्य जब बिल्कुल आश्वस्त हो गए तो उन्होंने अपनी हड़ताल समाप्त कर कार्य शुरू कर दिया।



डबवाली(अभी-अभी) - खेलों को बढ़ावा देने के लिए जहां हरियाणा सरकार प्रत्येक गांवों व नगरों में खेल स्टेडियम का निर्माण करवा रही है। वहीं करोड़ो रूपयों की लागत से बना स्थानीय इण्डोर स्टेडियम आजकल स्टेडियम कम कबूतरखाना ज्यादा नज़र आता है। इस इण्डोर स्टेडियम में सुविधाओं के अभाव में खेलने आने वाले खिलाड़ी नाममात्र रह गए हैं। बैडङ्क्षमटन खिलाड़ी हरदेव ङ्क्षसह, सुखविन्द्र विरदी, दिनेश कुमार, अमित जिन्दल, गोरव कुमार, सुनील, गोरा व पाला ने बताया कि इण्डोर स्टेडियम में सफाई का बेहद बुरा हाल है। क्योंकि हरियाणा सरकार की तरफ से सफाई कर्मचारी की नियुक्ति नहीं है तथा पीने के पानी की भी कोई उचित व्यवस्था नहीं है। उन्होंने रोष व्यक्त करते हुए बताया कि जब भी वह खेल परिसर में खेलने के लिए जाते हैं तो ग्राऊण्ड में सफाई न होने के चलते उन्हें स्वयं ग्राऊण्ड को साफ करना पड़ता है। उन्होंने बातचीत के दौरान आगे बताया कि जहां एक तरफ खिड़कियों के शीशे टूटे हुए हैं। वहीं ऊपर व नीचे लगे दरवाजे खस्ताहाल हैं। उन्होंने बताया कि उपरोक्त स्टेडियम में लाखों रूपयों की लागत से बने जिम व बैडङ्क्षमटन ग्राऊण्ड का ठेका एक बेरोजगार युवक जसवीर ङ्क्षसह को दिया गया है तथा हम सभी खिलाड़ी प्रत्येक माह 200 से 250 रूपये का शुल्क अदा करते हैं तथा जिम में आने वाले अधिवक्ता जितेन्द्र ङ्क्षसह खैरां ने बताया कि हम जिम में आने हेतु 250 रूपये महीना शुल्क देते हैं। लेकिन जिम के अन्दर सफाई व्यवस्था का बुरा हाल है तथा पानी के अभाव में जिम में बने बाथरूम व टॉयलेट की स्थिति तो ओर भी दयनीय है। जब इस बारे में प्रशासन व ठेकेदार जसवीर ङ्क्षसह से बात की गई तो उन्होंने माना की सफाई व्यवस्था व पीने के पानी की उचित व्यवस्था न रहने से खिलाडिय़ों का आना कम होता जा रहा है तथा उन्हें भी आॢथक नुक्सान उठाना पड़ रहा है। श्री ङ्क्षसह ने बताया कि उन्होंने इसके बारे में कई बार डीएसओ सिरसा श्रीमती वीणा शर्मा को अवगत करवाया है। परन्तु उन्होंने कोई उचित कार्रवाई नहीं की। बैडङ्क्षमटन खिलाडिय़ों ने बताया कि बैडङ्क्षमटन कोर्ट में पोल, नेट आदि स्वयं बनवाऐं हैं तथा लाईट की व्यवस्था के लिए जनरेटर का प्रबन्ध भी अपने निजी पॉकेट से खर्च कर करवाया है। सभी खिलाडिय़ों ने प्रशासन व प्रदेश सरकार से मांग की है कि खेल परिसर में एक ट्रेंड कोच नियुक्त किया जाए तथा खिलाडिय़ों को पूरी सुविधाऐं उपलब्ध करवाई जाऐं। इण्डोर खेल स्टेडियम में आने वाले तमाम खिलाडिय़ों व खेलों में विशेष रूचि रखने वाले लोगों का एक शिष्टमण्डल शीघ्र ही खेल मन्त्री गोपाल काण्डा से मिलेगा।


डबवाली (अभी-अभी)- उपमण्डल के गांव मलिकपुरा में स्थित राजकीय उच्च विद्यालय के अध्यापकों की एक टीम ने बीते दिवस ग्रामीणों को व्यक्तिगत सोखता गढ्ढे व केंचुआ खाद बनाने की जानकारी दी। इस टीम का नेतृत्व विज्ञान अध्यापक भारत भूषण शर्मा ने किया। उपरोक्त टीम ने गांव में जाकर ग्रामीणों को इस बारे विस्तृत जानकारी देते हुए व्यक्तिगत सोखता गढ्ढे व केंचुए खाद बनाने के प्रति प्रेरित किया। ग्रामवासियों ने इसे गम्भीरता से सुना तथा इसे अपनाने का आश्वासन भी दिया। यह जानकारी देते हुए कार्यकारी मुख्याध्यापक सोमप्रकाश शर्मा ने बताया कि उपरोक्त टीम में स्कूल के बच्चों सहित गणित अध्यापक भारत भूषण अग्रवाल, कला अध्यापक विनोद कुमार ने भी पूर्ण सहयोग दिया।

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज