BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

मंगलवार, जनवरी 05, 2010

'कुज ता करों यारो'' के माध्यम से रंगकॢमयों ने स्वार्थी राजनीतिज्ञयों की नकारात्मक प्रणाली पर गहरी चोट मारी

डबवाली(सुखपाल) स्थानीय वरच्युस कल्ब द्वारा अपने स्थापना दिव के अवसर पर उत्तर क्षेत्रीय सांस्कृतिक केन्द्र पटियाला एंव हरियाणा पंजाबी सहित्य अकादमी के सौजन्य से करवाये जा रहे नाटक महोत्सव के दूसरे दिन आज डा. अनीता देवगन द्वारा निर्देशित नाटक 'कुज ता करों यारो' के माध्यम से रंगकॢमयों ने डबवाली के रंगमंच पर देश के स्वार्थी राजनीतिज्ञयों की नकारात्मक प्रणाली पर गहरी चोट व्यंगात्मक शैली द्वारा प्रस्तुत की गई। नाटक में परिवार के माध्यम से समुचित भारत देश को दर्शाया गया की हम भारतीय एक दूसरे पर समस्यों को लेकर छींटाकाशी करते है। समस्याओं का हल न करके नई समस्याओं को जन्म देते है और एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप करते है। नाटक में समाज के प्रति हर नागरिक के समाजिक, राजनैतिक जिम्मेवारियों के प्रति जागृत किया गया है और समाज देश के उत्थान के लिए कुछ ना कुछ करने के लिए प्रेरित किया गया है। समापन समारोह का दूसरा नाटक प्रौफेसर अजमेर सिंह औलख द्वारा निर्देशित 'अवेसले युद्धां की नायिका के माध्यम से ज्वलंत सामाजिक समस्या कन्याभ्रुण हत्या एंव नशाखोरी के खिलाफ जन-जागरण अभियान में रंगमंच की आवाज को बुलन्द किया और औरत के बलिदान एंव आत्मसम्मान की व्यथा प्रस्तुत की गई। इस नाटक की माॢमक पटकथा को लेकर दर्शको ंकी आंखे नम हो गई। कार्यक्रम के दौरान हरियाणा पंजाबी सहित्य अकादमी के निर्देशक सी.आर. मोदगिल ने नौजवान नाटककार प्रिंस कमलजीत सिंह की पहली नाटक कथा 'चंद जदों रोटी लगदा है का विमोचन किया और कार्यक्रम के मुख्य अतिथि डा. के.वी सिंह ने नाटककार को वरच्युस अवार्ड से सम्मानित किया। इस अवसर पर डा. के.वी सिंह ने दर्शकों से रूबरू होते हुये कहा की रंगमंच समाज का आईना है और वर्तमान दौर में यह अपनी भूमिका व दायित्व बखुबी निभा रहा है। देश समाज को रंगकॢमयों, कलाकारों, चित्रकारों व कवियों का सम्मान करना चाहिए और जो राष्ट्र इनका सम्मान नही करता वह अपनी सभ्यता और सांस्कृति को भूल जाता है। कार्यक्रम के अध्यक्ष डा. रामस्वरूप अग्रिहोत्री ने कहा की रंगमंच काल्पनिक नही बल्कि सच्चाई दर्शाता है और ऐसे कार्यक्रम समाज के लिए प्रेरणादायक है। नाटक महोत्सव के दौरान हरियाणा पंजाबी सहित्यक अकेदमी की और से सी.आर. मोदगिल ने डा. के.वी सिंह, डा. रामस्वरूप अग्रिहोत्री एंव कल्ब के संस्थापक केशव शर्मा को सम्मानित किया। सभी अतिथियों का स्वागत जतिन्द्र शर्मा ने किया जबकि मंच संचालन नरेश शर्मा व संजीव शाद ने किया।




चित्र डी.बी.एल.1 नवोदित नाटककार को सम्मानित करते हुये डा. के.वी सिंह 2.नाटक केे दौरन कलाकार अपनी प्रस्तुती देते हुये........(सुखपाल)

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज