Dabwalinews.com Dabwalinews.com Author
Title: स्पीकर को पार्टी व जाति में बांधने से सोनिया का किनारा
Author: Dabwalinews.com
Rating 5 of 5 Des:
नई दिल्ली, बिहार कांग्रेस कार्यकारिणी की सूची में लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार के नाम और जाति के उल्लेख पर जहां प्रदेश कांग्रेस में घमासान शुरू...
नई दिल्ली, बिहार कांग्रेस कार्यकारिणी की सूची में लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार के नाम और जाति के उल्लेख पर जहां प्रदेश कांग्रेस में घमासान शुरू हो गया, वहीं पार्टी हाईकमान इस चूक से हो रही सियासी फजीहत के डैमेज कंट्रोल में जुट गया। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने खुद को विवादित सूची से यह कहते हुए किनारा कर लिया कि मैं इस बारे में नहीं जानती। इसके बाद बिहार की नवगठित कार्यकारिणी सवालों के घेरे में आ गई है। मंगलवार को राष्ट्रपति भवन में एक कार्यक्रम के बाद पत्रकारों के सवालों से असहज सोनिया ने इस विषय में अपनी अनिभज्ञता जताई। वहीं लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार ने कांग्रेस की विवादास्पद सूची से किनारा कर लिया। कुमार ने कहा कि मैं एक राजनीतिक दल से संबद्ध हूं मगर स्पीकर के तौर पर मैं आसन की दृढ़ निष्पक्षता में विश्र्वास करती हूं। इससे उन्होंने साफ कर दिया कि बिहार कांग्रेस की जाति सूचक लिस्ट में खुद को शामिल किए जाने की जानकारी उन्हें नहीं थी। सूत्रों के अनुसार इस चूक के लिए पार्टी हाईकमान ने बिहार कांग्रेस के अध्यक्ष अनिल शर्मा को जमकर फटकार लगाई है तो प्रभारी जगदीश टाइटलर के सूची जारी करने के तरीके पर नाखुशी का इजहार किया है। पार्टी के एक वरिष्ठ महासचिव ने अनिल शर्मा को फोन कर जाति सूचक सूची को सार्वजनिक करने के लिए लताड़ लगाई। पार्टी के एक वरिष्ठ पदाधिकारी ने इस मामले में अनौपचारिक सफाई देते हुए कहा कि दरअसल यह सूची सामाजिक समीकरणों का ध्यान रखने के लिए आंतरिक तौर पर बनाई गई थी। हाईकमान से मंजूरी के बाद सूची से जाति का विवरण हटाकर एआईसीसी लिस्ट जारी करता है, लेकिन इसमें जल्दबाजी करते हुए टाइटलर ने सूची अनिल शर्मा को थमा दी और उनके जरिए यह सूची ही मीडिया के पास पहुंच गई। इस बीच सूची को लेकर बिहार कांग्रेस में अंदरूनी घमासान शुरू हो गया है। अनुसूचित जाति और जनजाति के कई नेता व कार्यकर्ता नाराजगी लेकर हाईकमान के दरबार में पहुंच गए। कांग्रेस मुख्यालय 24, अकबर रोड पर मंगलवार को लोगों ने अनिल शर्मा और टाइटलर के खिलाफ शिकायतों का पुलिंदा लेकर पूरे दिन चक्कर लगाए। मगर पार्टी के बड़े नेताओं ने इनसे कन्नी काटने में ही भलाई समझी। भाजपा प्रवक्ता राजीव प्रताप रूडी ने कांग्रेस की सूची को कानून का उल्लंघन तथा संवैधानिक परंपरा के खिलाफ बताते हुए इसकी निंदा की।
प्रतिक्रियाएँ:

About Author

Advertisement

एक टिप्पणी भेजें