Dabwalinews.com Dabwalinews.com Author
Title: एक ही गौत्र में शादी को वैज्ञानिक दृष्टि से भी अनुचित माना जाता है --अजय सिंह चौटाला
Author: Dabwalinews.com
Rating 5 of 5 Des:
डबवाली - ग्रामीण आंचल में खेले जाने वाले पारम्परिक खेल दिनों- दि नों पिछड़ते जा रहे हैं और हुड्डा सरकार की ओर से इन खेलों को बढ़ावा देने के...
डबवाली - ग्रामीण आंचल में खेले जाने वाले पारम्परिक खेल दिनों-दिनों पिछड़ते जा रहे हैं और हुड्डा सरकार की ओर से इन खेलों को बढ़ावा देने के लिए कोई प्रयास नहीं किए गए। इनेलो इन खेलों को बढ़ावा देने के लिए प्रयासरत है और अगले वर्ष होने वाले विश्व कबड्डी प्रतियोगिता का एक मैच डबवाली शहर में करवाया जाएगा। यह बात इनेलो के प्रधान महासचिव व स्थानीय विधायक डॉ. अजय सिंह चौटाला ने कही। वे आज पार्टी कार्यालय में हलके के लोगों की समस्याऐं सुनने से पूर्व पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।
एक सवाल के जवाब में डॉ. चौटाला ने कहा कि एक ही गौत्र में शादी को वैज्ञानिक दृष्टि से भी अनुचित माना जाता है और हमारी वैदिक संस्कृति भी यही रही है कि सबगौत्र और दूधगौत्र में विवाह न किया जाए। उन्होंने कहा कि खाप पंचायतों का अतीत में एक गौरवशाली इतिहास रहा है और हत्या तक के मामलों को पंचायतें आपस में मिल बैठकर सुलझाती रही हैं। उन्होंने कहा कि सामाजिक मामलों को निपटाने के लिए राज्य सरकार को भी पहल करनी चाहिए।
पुरानी सामाजिक परम्पराओं व संस्कारों की रक्षा के लिए हिन्दू विवाह अधिनियम में संशोधन किए जाने को लेकर हुड्डा सरकार राज्य विधानसभा में अगर कोई प्रस्ताव लाती है तो इनेलो इसका समर्थन करेगी। इनेलो विधायक ने कहा कि हरियाणा सरकार व मुख्यमन्त्री की इस मामले में चुप्पी बेहद निन्दनीय है और सरकार को इस मामले में अपना स्टैंड स्पष्ट करना चाहिए। उन्होंने कहा कि पंचायतें समाज को जोडऩे में अहम् भूमिका निभाती रही हैं और अब भी उसे आपसी पे्रम-प्यार और भाईचारा बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभानी चाहिए जिससे सामाजिक परम्पराऐं व संस्कार भी कायम रह सकें और समाज में कटुता व टकराव की स्थिति भी पैदा न हो। इनेलो विधायक ने प्रदेश में दिनोंदिन पैदा हो रहे बिजली-पानी संकट और बिगड़ती कानून व्यवस्था की स्थिति पर भी गहरी चिन्ता जताते हुए कहा कि सरकार लोगों की मूलभूत समस्याओं और दिक्कतों को सुलझाने की तरफ कोई ध्यान नहीं दे रही है। उन्होंने कहा कि अभी गर्मी का मौसम शुरू हुआ है और अभी बिजली-पानी का इतना गम्भीर संकट बना हुआ है। प्रदेश में 60 प्रतिशत जोहड़ सूख चुके हैं और पशुओं के पीने के पानी के लाले पड़ गए हैं। उन्होंने कहा कि अभी से यह हाल है तो इससे सहज ही अन्दाजा लगाया जा सकता है कि आने वाले दिनों में भीषण गर्मी के दौरान प्रदेश की क्या स्थिति होगी। विधायक अजय चौटाला ने कहा कि डबवाली में रेलवे फाटकों के मामले पर वह पूरी तरह से गंभीर हैं और इस समस्या का हल निकलवाने के लिए वह लगातार प्रयास कर रहे हैं और इस दिशा में संबंधित मंत्रालयों से बातचीत की है।
उन्होंने कहा कि प्रदेश में सड़कों का बुरा हाल है और सरकार सिरसा क्षेत्र के साथ लगातार भेदभाव बरत रही है। उन्होंने कहा कि डबवाली संगरिया जैसी मुख्य सड़क का बुरा हाल है वहीं गांवों को शहरों से जोडऩे वाली सड़कें जर्जर हो चुकी हैं। सवालों के जवाब में इनेलो नेता ने कहा कि प्रदेश में होने वाले पंचायत व स्थानीय निकायों के चुनाव पूरी तरह से भाईचारे के चुनाव होते हैं और लोगों को इन चुनावों में आपसी भाईचारा बरकरार रखते हुए मिल-जुलकर अच्छे प्रतिनिधियों का चयन करना चाहिए। उन्होंने कहा कि इनेलो ने स्थानीय निकाय चुनाव अपने चुनाव चिह्न पर लडऩे का अभी तक कोई फैसला नहीं किया है और अन्य दल अगर अपने चुनाव चिह्न पर स्थानीय निकाय चुनाव लड़ेंगे तो इनेलो भी इस पर विचार करेगी। इस अवसर पर राधेराम गोदारा, सरदार जगरूप सिंह सकता खेड़ा, महावीर सहारण, रणबीर सिंह राणा, टेक चंद छाबड़ा, गुरजीत सिंह, महेंद्र डूडी, गिरधारी बिस्सु, सर्वजीत मसीतां, बलदेव कुमार, दर्शन मान, गुरजीत सिंह, प्रहलाद सिंह सहित अन्य कार्यकर्ता उपस्थित थे।
प्रतिक्रियाएँ:

About Author

Advertisement

एक टिप्पणी भेजें