Dabwalinews.com Dabwalinews.com Author
Title: संदिग्ध परिस्थितियों में नशा मुक्ति केंद्र पर व्यक्ति की मौत
Author: Dabwalinews.com
Rating 5 of 5 Des:
डबवाली : बठिडा रोड स्थित नई किरण नशा मुक्ति केंद्र में उपचाराधीन एक व्यक्ति की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। मृतक की पहचान प्रीतम लाल...
डबवाली: बठिडा रोड स्थित नई किरण नशा मुक्ति केंद्र में उपचाराधीन एक व्यक्ति की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। मृतक की पहचान प्रीतम लाल पुत्र मक्खन सिंह निवासी चक निधान वाला जिला फिरोजपुर के रूप में की गई है। प्रीतम ¨सह फिरोजपुर थाने में वायरलेस आपरेटर के पद पर तैनात था। प्रीतम ¨सह को कल ही नई दिशा नशा मुक्ति केंद्र में नशा छुड़ाने के लिए भर्ती करवाया था। प्रीतम सिंह को जब सिविल अस्पताल में लाया गया तब उसकी मौत हो चुकी थी। मृतक के भाई तिलक राज ने पुलिस को दिये बयान में बताया कि उसका भाई शराब के नशे का आदि था। कल ही वह छुट्टी पर घर वापस आया था और उसके शराब के नशे को छुड़वाने के लिए उन्होंने उसे डबवाली के नई किरण नशा मुक्ति केंद्र में भर्ती करवाया था। उन्होंने बताया कि आज दोपहर बाद केंद्र से उनके पास फोन आया कि प्रीतम सिंह की हालत गंभीर है। वे तुरंत ही वहा से रवाना हो कर डबवाली के सिविल अस्पताल में पहुंचे लेकिन उनके पहुचने से पहले ही उसकी मौत हो चुकी थी। पुलिस ने मृतक के भाई बयान पर सीआरपीसी की धारा 174 के तहत कार्रवाई करते हुए शव का पोस्टमार्टम करवाकर उसके परिजनों को सौंप दिया। सिविल अस्पताल के वरिष्ठ चिकित्सक डा. टीआर मित्तल ने बताया कि जब प्रीतम को सिविल अस्पताल में लाया तब उसकी मौत हो चुकी थी। उन्होंने बताया कि बिना जाच के मौत के कारणों का तो पता नहीं लग सकता है। लेकिन जो लक्षण केंद्र संचालकों ने उन्हे बताये हैं उससे प्रथम दृष्टा में लगता है कि प्रीतम सिंह को हृदयाघात हुआ हो। हृदयाघात होने के कई कारण हो सकते हैं। जिसमें एकदम से नशा छुड़ाना भी एक कारण हो सकता है। गौरतलब है कि एक अरसा पूर्व अग्निकाड स्थल के पास बनाये गये नई दिशा नशा मुक्ति केंद्र पर उपचाराधीन रोगी के साथ मारपीट करने के कारण रोगी मौत हो गई थी। जिसके कारण विभाग ने अवैध तौर पर चल रहे नशा मुक्ति केंद्रों पर छापामारी का अभियान चलाया था। इसके उपरात आज फिर नशा मुक्ति केंद्र पर हुई मौत से कई सवाल खड़े हो गये है। कि बिना चिकित्सकों की देखरेख चल रहे ये केंद्र कहीं जाने अनजाने में यहा पर भर्ती लोगों की मौत का कारण तो नहीं बन रहे?

- रिपोर्ट के मुताबिक होगी कार्यवाही

मामले की जाच कर रहे सहायक उपनिरीक्षक सूबे सिंह ने बताया कि पोस्ट मार्टम रिपोर्ट में मृत्यु का कारण स्पष्ट होने के बाद आगामी कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने बताया मृतक के परिजनों ने अपने बयान में रिपोर्ट आने के बाद उचित कानूनन कार्यवाही करने के लिए कहा है। - क्या कहते हैं केंद्र संचालक नई किरण नशा मुक्ति केंद्र के संचालक सुनील गुलाटी ने बताया कि दोपहर करीब साढे़ बारह बजे प्रीतम सिंह की अचानक तबीयत खराब हो गई और वह जोर-जोर से सास लेने लगा उसे तुरत सिविल अस्पताल में ले जाया गया लेकिन रास्ते में उसने दम तोड़ दिया। उन्होंने बताया कि इस समय केंद्र में 33 व्यक्तियों का उपचार चल रहा है और काउसलिंग द्वारा नशा छोड़ने के लिए प्रेरित किया जाता है।
प्रतिक्रियाएँ:

About Author

Advertisement

एक टिप्पणी भेजें