BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

गुरुवार, अगस्त 19, 2010

चौधरी देवीलाल की प्रतिमा को उखाडऩे के प्रयासों व उसे पहुंचाए गए नुकसान देश के महान स्वतन्त्रता सेनानियों का अपमान करने की कुचेष्टा ---चौटाला

चंडीगढ़,18 अगस्त। इनेलो ने हुड्डा सरकार द्वारा करनाल में चौधरी देवीलाल की प्रतिमा को उखाडऩे के प्रयासों व उसे पहुंचाए गए नुकसान की तीखी आलोचना करते हुए इसे सरकार की नकारात्मक सोच व असंवेदनशील रवैये का सूचक बताया। इनेलो के प्रधान महासचिव व डबवाली के विधायक अजय सिंह चौटाला ने आज करनाल में प्रतिमास्थल का दौरा कर वहां की गई तोडफ़ोड़ को देश के महान स्वतन्त्रता सेनानियों का अपमान करने की कुचेष्टा बताते हुए इसे तुरन्त ठीक करवाए जाने की मांग की है। उन्होंने कहा कि सरकार व प्रशासन ने अगर प्रतिमास्थल की पहले जैसी स्थिति बहाल न की तो प्रदेश की जनता इसे किसी भी कीमत पर सहन नहीं करेगी और हुड्डा सरकार को इस बात का खमियाजा उठाना पड़ेगा। उन्होंने चौधरी देवीलाल के प्रतिमास्थल को नुकसान पहुंचाने वाले अधिकारियों के खिलाफ भी तुरन्त कड़ी कार्रवाई किए जाने की मांग की।
इनेलो के प्रधान महासचिव ने कहा कि युगपुरुष चौधरी देवीलाल न सिर्फ महान स्वतन्त्रता सेनानी थे बल्कि हरियाणा के निर्माता व किसानों के मसीहा थे जिन्होंने अपना पूरा जीवन गरीब, मजदूर, किसान व कमेरे वर्ग के हितों के लिए संघर्ष किया और उन्हें अपने हितों के लिए जागरूक बनाने का काम किया। उन्होंने कहा कि चौधरी देवीलाल किसी व्यक्ति विशेष का नाम नहीं बल्कि किसान मजदूरों के लिए संघर्ष करने वाली एक संस्था व सोच का नाम है जिन्होंने देश की आजादी के लिए अनेक बार जेलें काटी और अपनी युवा अवस्था से लेकर हर समय देश व प्रदेश हित के लिए कार्यरत रहे। उन्होंने कहा कि देवीलाल को कभी किसी बड़े से बड़े पद का भी लोभ लालच नहीं था और अपना वचन निभाने के लिए उन्होंने देश के प्रधानमन्त्री चुने जाने के बावजूद अपना प्रधानमन्त्री पद का ताज वीपी सिंह के सिर पर रख दिया था।
अजय सिंह चौटाला ने कहा कि जबसे प्रदेश में हुड्डा सरकार आई है तो मुख्यमन्त्री अपनी छोटी व ओछी राजनीतिक सोच के चलते आए दिन स्वतन्त्रता सेनानियों व महान देशभक्तों की प्रतिमाओं व उनके नाम पर बनी संस्थाओं से नाम व प्रतिमाएं हटाने के कुप्रयास करते रहे हैं। उन्होंने कहा कि हुड्डा सरकार यह काम प्रशासनिक अधिकारियों के माध्यम से एक षडय़ंत्र के तहत कर रही है जिसे किसी भी कीमत पर सहन नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि पहले पानीपत ताप बिजली घर से ताऊ देवीलाल का नाम हटाने का प्रयास किया गया और फिर गुडग़ांव में भी चौधरी देवीलाल की आदमकद प्रतिमा को हाल से हटाकर कबाडख़ाने में डलवा दिया गया। उन्होंने कहा कि चौधरी देवीलाल का नाम देश के करोड़ों लोगों के दिलों पर लिखा हुआ है जिसे सरकार द्वारा अपनाए जा रहे ओछे हथकंडों से मिटाया नहीं जा सकता।
इससे पहले अजय चौटाला व अन्य इनेलो नेताओं के करनाल में चौधरी देवीलाल की प्रतिमास्थल पहुंचने पर इनेलो कार्यकत्र्ताओं ने न सिर्फ इनेलो नेताओं का जोरदार स्वागत किया बल्कि सरकार व प्रशासन के खिलाफ जोरदार नारेबाजी करते हुए सरकार के खिलाफ अपना रोष जताया। कार्यकत्र्ताओं ने इनेलो नेताओं को पूरे घटनाक्रम का ब्यौरा देते हुए बताया कि किस तरह एक षडय़ंत्र के तहत चौधरी देवीलाल के प्रतिमास्थल को सरकार के चहेते अधिकारियों द्वारा जानबूझकर नुकसान पहुंचाया गया। अजय सिंह चौटाला ने पार्टी कार्यकत्र्ताओं से धैर्य व संयम बनाए रखने का आह्वान करते हुए कहा कि प्रदेश की जनता में हुड्डा सरकार के खिलाफ दिनोंदिन पनप रहे आक्रोश से सरकार पूरी तरह बौखला गई है और लोगों का ध्यान मुख्य मुद्दों से हटाने के लिए ऐसे घटिया हथकंडों पर उतर आई है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज