BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

शुक्रवार, अगस्त 13, 2010

सेनेटरी की दुकान में विस्फोट,

डबवाली- वीरवार मध्य रात्रि लड़कों के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय के समीप हंसराज भूषण कुमार की सेनेटरी की दुकान में रहस्य परिस्थितियों में विस्फोट होने से दुकान के शटर और दीवारों के परखच्चे उडऩे के उपरांत दुकान में आग लग गई। जिससे लाखों रुपयों की संपत्ति नष्ट हो गई। इस हादसे में एक मोटर साइकिल जल कर राख हो गया और दो जने घायल हो गये। घायलों को यहां के एक निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया उनकी गंभीर हालत को देखते हुए उन्हें बठिंडा रेफर कर दिया गया। विस्फोट का धमाका इतना जबरदस्त था कि आस पड़ोस की दुकानों व मकान की दीवारों में भी दरारें पड़ गई और लोग दहशतजदा हो कर घरों से बाहर निकल आये। पुलिस ने इस मामले में संपत्ति नष्ट करने के आरोप में मामला दर्ज कर चार लोगों का नामजद किया है। जिनमें कपड़ा व्यापारी वेद प्रकाश पुत्र मोहन लाल और उसके दोनों बेटे अमित कुमार उर्फ धन्ना और नरेंद्र कुमार उर्फ नीला के अलावा दुकान पर कार्यरत कर्मचारी सोनी शामिल है। जिले के फोरेंसिक विशेषज्ञ डा. जोगिंद्र सिंह ने अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंच कर घटनास्थल निरीक्षण करने के बाद घटना में विस्फोट पदार्थ का प्रयोग होने की पुष्टी करते हुए 6 अलग-अलग स्थानों पर सैंपल भर कर जांच के लिए मधुबन प्रयोगशाला में भेज दिये है। दुकान के मालिक राकेश कुमार बांसल पुलिस को दिये ब्यान में बताया कि उनका दो वर्षों से वेद प्रकाश पुत्र मोहन लाल से संपत्ति को लेकर विवाद चल रहा है। जिसका मामला डबवाली के न्यायालय में विचाराधीन है। उन्होंने बताया कि वीरवार सायं करीब आठ बजे दुकान को मंगल कर घर चल गये थे। कि रात करीब 11 बजे उनके पड़ोसी ऋषभ पुत्र सुरेंद्र मोहन ने आ कर बताया कि उनकी दुकान पर जोरदार हुए धमके के बाद आग लग गई है। उन्होंने मौके पर पहुंच कर देखा कि फायर बिग्रेड के कर्मचारी दुकान में लगी आग को बुझा रहे थे। राकेश ने बताया कि वहां पर एक हीरो होंडा मोटर साइकिल जला हुआ पड़ा था जो कि उसके प्रतिद्वंद्वी वेद प्रकाश गुप्ता के परिवार का है। उन्होंने आरोप लगाया कि वेद प्रकाश व उसके लड़के पटाखे बेचने का कार्य करते हुए। उनका आरोप है कि उन्होंने ने ही रात को बारूद से विस्फोट कर उनकी दुकान तोडऩे का प्रयास किया। जिससे दुकान के तीनों शटर और दुकान की छत उड़ गई और दुकान में आग लग गई जिससे दुकान में रखा लाखों रुपयों का सामान जल गया। इसी विस्फोट की चपेट में आने से अमित और उनकी दुकान का करींदा सोनी घायल हो गये तथा उनका मोटर साइकिल जल कर राख हो गया। वहीं घटना स्थल पर मौजूदऋषभ व सोहन लाल ने बताया कि विस्फोट इतना जोरदार था कि उनके घरों की दीवारों में दरारें आ गई और डर कर घरों से बहार निकल आये। उन्होंने दुकान में आग लगने की सूचना दुकान मालिक और दमकल विभाग को दी। दमकल विभाग के कर्मचारियों ने मौके पर पहुंच कर काफी जद्दोजहद के बाद आग पर काबू पाया। धमाके की सूचना पा कर गोल बाजार पुलिस चौंकी के प्रभारी कृष्ण कुमार मौके पर पहुंच गये। उन्होंने दुकान के चारों पुलिस तैनात कर उसे सील कर दिया और घटना की सूचना उच्चाधिकारियों को दे दी। शुक्रवार को फोरेंसिक विशेषज्ञ डॉ. जोगेंद्र सिंह ने अपनी टीम के साथ पहुंच कर मौके का मुआयना करने के उपरांत घटना में विस्फोटक पदार्थ प्रयोग किये जाने की पुष्टी करते हुए। वहां पर जली हुई 6 वस्तुओं के नमूने ले कर जांच के लिए मधुबन प्रयोगशाला में भेज दिये है। उन्होंने बताया कि जांच रिपोर्ट आने के बाद ही बताया जा सकेगा कि इस घटना में किस तरह का विस्फोट पदार्थ प्रयोग किया गया है। थाना प्रभारी विक्रम नेहरा ने बताया कि पुलिस ने चार जनों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच आरंभ कर दी है आरोपियों की तलाश की जा रही है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज