Young Flame Young Flame Author
Title: एएनएम के समर्थन में आए विभिन्न कर्मचारी संघ,समझोता हुआ
Author: Young Flame
Rating 5 of 5 Des:
डबवाली- पिछले दिनों स्वास्थ विभाग हरियाणा के सब सैंटर गांव मंागेयाना में तैनात एएनएम द्वारा गांव देसुजोधा के पीएचसी इंचार्...
डबवाली-पिछले दिनों स्वास्थ विभाग हरियाणा के सब सैंटर गांव मंागेयाना में तैनात एएनएम द्वारा गांव देसुजोधा के पीएचसी इंचार्ज मंैडिकल आफिसर पर चैकिग के बहाने उससे अश£ील हरकतें करने का मामला उस समय तूल पकड़ गया जब इस मामले को अन्य कर्मचारी संघ एमपीएचडब्लू एसोसिशयन के राज्य स्तरीय पदाधिकारी स्थानीय सिविल अस्पताल मे धरने पर बैठकर नारेबाजी करने लगे और आरोपी डाक्टर को जल्द से जल्द सस्पैंड करने उसकी गिरफतारी की मांग रखी। इस मौके के एमपीएचडब्लू एसोसिशन की राज्य स्तरीय प्रधान निर्मल बलारा, हरियाणा कर्मचारी महासंघ के उपप्रधान मनोज शर्मा, सर्कल सचिव एचएसईडी ओमप्रकाश शर्मा , स्टेट ओडिटर एमपीएचडब्लू एसोसिशयन रमेश मान राम बिलास चैयरमैंन एसपीएचडब्लू एसोसिशन(हरियाणा) ने जारी एक सयुक्त ब्यान में मांग की कि मागेंयाना स्थित सबसैटर में तैनात एएनएम सत्यादेवी के साथ अश£ील हरकत करने वाले डाक्टर गुरजीत ङ्क्षसह पर जल्द करवाई हो उन्होने कहा कि पिछले पांच दिनों से डाक्टर गुरजीत ङ्क्षसह पर कोई कार्यवाई होने से स्पष्ट है कि थाना प्रभारी, एसडीएम इस मामले को हल्के मे ले रहे है गरीब और अंगहीन लडकी पर हुए अश्लील अत्याचार की कोई सुनवाई नही कर रहे है। उन्होने प्रशासन को चेतावनी भरे लहजे कहा कि अगर उक्त डा. के खिलाफ शीघ्र कोई कार्यवाई नही हुई तो वह चक्का जाम, थाने का घिराव करने और इस आदोलन को सारे हरियाणा में फैलाने से कोई प्रहेज नही करेेेंगे उधर जब इस बारे में डाक्टर गुरजीत ङ्क्षसह से बात की गई तो उन्होने सभी आरोपो को बेबुनियाद बताया। उन्होने कहा कि उन्हे इस जानबूझ कर इस मामले में फसाया जा रहा है क्योकि मैडिकल आफिसरहोने के नाते मांगेयाना स्थित सबसैंटर की चैंकिग की थी जिसमे सत्यादेवी को अपनी डयूटी में लापरवाही करने का दोषी पाया गया था वहंा से काफी मात्रा मेे ऐसी दवाऐं पाई गई जो एक्सपाईरी तिथि की थी जिसके कारण जब सत्यादेवी से इनके बारे में पुछा गया तो वह तिलमिला गई और किसी भी तरह का जवाब नही दे पाई और डाक्टर गुरजीत ङ्क्षसह के अनुसार वह अपनी इस लापरवाही को छुपाने के लिए ही यह सब कुछ कर रही है जब गुरजीत ङ्क्षसह से यह पुछा गया कि उन्होने इस मामले की शिकायत उच्चअधिकारियों को क्यों नही की तो उन्होने कहा कि एएनएम सत्यादेवी अंगहीन गरीब परिवार से है जिसके कारण शिकायत करना उचित नही समझा और यही भूल उन पर आज भारी पड़ रही है
लेकिन सोमवार को भिन्न-भिन्न कर्मचारी संघठनो प्रयास से समझोता हो चूका है जिसमें डा. गुरजीत ङ्क्षसह ने एएनएम से माफी मांग कर इस मसले को रफा दफा कर दिया है।जिसपर दोनो पक्ष राजी हो गऐ। उल्लेखनहीय है कि 28 मई को एएनएम सत्यादेवी निवासी डबवाली ने डाक्टर गुरजीत ङ्क्षसह मैंडिकल अफसर प्राथामिक स्वास्थय कैंन्द्र देसुजोधा पर अश£ील हरकत करने का आरोप लगाया था ।
प्रतिक्रियाएँ:

About Author

Advertisement

एक टिप्पणी भेजें