Young Flame Young Flame Author
Title: डॉ0 शमीम शर्मा ने ली स्वेच्छा से सेवानिवृति विद्यापीठ में पुन: संभालेंगी निदेशक का पदभार
Author: Young Flame
Rating 5 of 5 Des:
डबवाली : राजकीय कॉलेज मण्डी डबवाली में बतौर प्राचार्य कार्यरत डॉ 0 शमीम शर्मा ने अपने पद से स्वेच्छा से सेवानिवृति ले ली ...
डबवाली : राजकीय कॉलेज मण्डी डबवाली में बतौर प्राचार्य कार्यरत डॉ0 शमीम शर्मा ने अपने पद से स्वेच्छा से सेवानिवृति ले ली है। उन्होंने अपने 29 वर्षों की सरकारी सेवा की शुरूआत हिन्दी प्रवक्ता के रूप में की थी। अपने लम्बे सेवाकाल में उन्होंने एफ.सी. कॉलेज हिसार, हिन्दू कॉलेज सोनीपत, माता हरकी देवी कॉलेज ओढ़ा में बतौर प्राचार्य तथा जेसीडी विद्यापीठ में कार्यकारी निदेशक के रूप में अपनी सफल सेवाएं प्रदान की है।
डॉ0 शमीम शर्मा ने बताया कि वे 3 सितम्बर 2011 से अपनी सरकारी सेवा से सेवानिवृति उपरांत पुन: जेसीडी विद्यापीठ की निदेश का पदभार संभालेंगी तथा इसके साथ-साथ वे माता हरकी देवी कॉलेज, ओढ़ा में प्राचार्य का कार्यभार भी देंखेगी।
डॉ0 शमीम शर्मा की राज्यभर में एक जागरूक शिक्षाविद्, लोकप्रिय लेखिका, प्रभावी प्रशासक एवं एक सशक्त, कर्मठ व ईमानदार समाजसेविका के रूप में पहचान है। उनकी इन बहुमुखी विशेषताओं के कारण ही उन्हें हरियाणा के राज्यपाल एवं भारत के राष्ट्रपति द्वारा सम्मानित भी किया जा चुका है। इतना ही नहीं वे अब तक 30 बार से अधिक रक्तदान भी कर चुकी हैं, जिसके लिए उन्हें राज्य सरकार की ओर से सम्मानित भी किया जा चुका है। उन्होंने गत वर्ष हरियाणा एन्साइक्लोपीडिया (विश्वकोश) का 10 खण्डों में (7000 पृष्ठ) का संपादन भी किया, जिसका लोकार्पण दिल्ली के पुस्तक मेले में हरियाणा के मुख्यमंत्री चौ0 भूपेन्द्र सिंह हुड्डा द्वारा किया गया तथा मुख्यमंत्री की ओर से डॉ0 शमीम शर्मा को एक लाख रूपए नगद राशि प्रदान कर सम्मानित भी किया गया। डॉ0 शमीम शर्मा गत 11 वर्षों से नियमित हिन्दी समाचार पत्रों दैनिक ट्रिब्यून, चण्डीगढ़ व दैनिक हिन्दी मिलाप, हैदराबाद में स्तम्भ लेखन कर रही हैं। वे सामाजिक मुद्दों तथा हास्य व्यंग्य पर 10 से अधिक पुस्तकें लिख चुकी हैं।
प्रतिक्रियाएँ:

About Author

Advertisement

एक टिप्पणी भेजें