Young Flame Young Flame Author
Title: मनप्रीत की तरफ से डेरा सिरसा की फेरी
Author: Young Flame
Rating 5 of 5 Des:
सांझा मोर्चा पंजाब के नेता और पूर्व ख़ज़ाना मंत्री मनप्रीत सिंह बादल ने आ रही विधान सभा चयन के मद्देनज़र डेरा सच्चा सौदा सिरसा की फेरी पाई।...

सांझा मोर्चा पंजाब के नेता और पूर्व ख़ज़ाना मंत्री मनप्रीत सिंह बादल ने आ रही विधान सभा चयन के मद्देनज़र डेरा सच्चा सौदा सिरसा की फेरी पाई। मनप्रीत सिंह बादल की फेरी तों

लग्गदा है कि सांझा मोर्चा ने भी डेरा सिरसा की वोटों पर टेक रखी हुई है। पूर्व ख़ज़ाना मंत्री पहले डेरा सिरसा में शरणार्थी की मजलिस में शामल हुए। उस के बाद में उन्हों ने डेरा प्रमुख के साथ मुलाकात की। प्राप्त जानकारी अनुसार पीपलज़ पार्टी आफ पंजाब (पी.पी.पी.) के नेता मनप्रीत सिंह बादल करीब चार
कु दिन पहले शरणार्थी समय पर डेरा सिरसा गए थे। पी.पी.पी. के गठन बाद में यह उन की पहली डेरा सिरसा की फेरी है। मनप्रीत ने डेरा प्रमुख से आशीरवाद लिया और सांझे मोर्चो की हिमायत के लिए अपील की। उन करीब 20 मिनट डेरा सिरसा के राजनैतिक टेढ़ापन के साथ भी मीटिंग की। मीटिंग में डेरो के राजनैतिक टेढ़ापन पंजाब के चेयरमैन राम सिंह के इलावा चार ओर मैंबर भी मौजूद थे।
विधान सभा मतदान के मद्देनज़र मनप्रीत की फेरी काफ़ी अहम समझी जा रही है। सूत्रों अनुसार पूर्व ख़ज़ाना मंत्री ने असिद्धे तौर पर आगामी विधान सभा मतदान के लिए सांझे मोर्चो के उम्मीदवारों के लिए डेरा सिरसा से हिमायत की माँग की। चाहे डेरे की तरफ से कोई स्वीकृति तो नहीं भरा गया परंतु इतना ज़रूर कहा गया कि डेरा अच्छे उम्मीदवारों को आगे लाने का हामी है। डेरा के प्रमुख ने पूर्व ख़ज़ाना मंत्री को आशीरवाद दिया। उन कोई राजनैतिक बात नहीं की। सूत्रों अनुसार पूर्व ख़ज़ाना मंत्री ने राजनैतिक टेढ़ापन के साथ मीटिंग में कहा कि देश को बचाने ख़ातिर अच्छे उम्मीदवारों का साथ दिया जाये। उन्हों ने देश में फैले भ्रिशटाचार और बढ़ रही बेचैनी का मसला भी रखा। यह पता नहीं लग सका कि मनप्रीत अकेले ही गए थे या फिर उन के साथ ओर भी राजनैतिक नेता थे। उन्हों ने यह फेरी गुप्त ही रखी। यह फेरी इस बातों भी विशेश महत्व रखती है कि डेरे की तरफ से अभी तक श्रोमनी अकाली दल और कांग्रेस पार्टी से एक ही जितनी दूरी रखी जा रही है। यहाँ तक कि डेरो के अखबार में भी कांग्रेस की पिछले समय से कवरेज धीमा हो गई है।
डेरो के राजनैतिक टेढ़ापन (पंजाब) के चेयरमैन राम सिंह ने इस पत्रकार को बताया कि मनप्रीत सिंह बादल कुछ दिन पहले डेरा सिरसा आए थे और उन्हों ने मजलिस श्रवण बाद में डेरा सिरसा की मैनेजमेंट और राजनैतिक टेढ़ापन के साथ सांझी मीटिंग भी की थी। मनप्रीत ने वोटों की राजनीति की बात नहीं की और सिर्फ़ देश को बचाने के लिए सहयोग की माँग की थी। उन मीटिंग में कहा कि देश को बचाने के लिए हमें सभी को मिल कर प्रयास मारना चाहिए। राम सिंह ने बताया कि गुरू जी (डेरा प्रमुख) की तरफ से मनप्रीत को आशीरवाद ज़रूर दिया गया, परन्तु कोई बात नहीं की गई। श्री राम सिंह ने बताया कि कुछ समय पहले कैप्टन अमरिन्दर सिंह भी डेरा सिरसा आए थे। राम सिंह के बताने अनुसार डेरा सिरसा ने अभी पंजाब विधान सभा मतदान सम्बन्धित कोई फ़ैसला नहीं लिया है।
मनप्रीत की तरफ से पुशटी
श्री मनप्रीत सिंह बादल का डेरा फेरी बारे कहना था कि वह तो अपने हलके की संगत के साथ वहाँ गए थे, जिस पीछे कोई राजनैतिक मकसद नहीं था। उन कहा कि हलके लोगों पर कहने पर ही वह उन के साथ डेरा सिरसा चले गए थे। वह तो पहले हलके लोगों के साथ चिंतपुरनी भी जा कर आए हैं। वह हर धर्म का सत्कार करते हैं
प्रतिक्रियाएँ:

About Author

Advertisement

एक टिप्पणी भेजें