BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

मंगलवार, दिसंबर 11, 2012

रेलवे विभाग द्वारा मनवीय अधिकारों से वंचित करने का प्रयास


डबवाली-रेलवे विभाग द्वारा जहां करोड़ो रूपये खर्च कर रेलवे स्टेशन का सौंदर्यकरण किया जा रहा है वहीं यात्रियों और शहर वासियों को पहले से मिल रही सुविधाओं को बंद कर उनके मनवीय अधिकारों से वंचित करने का प्रयास हो रहा है। रेलवे विभाग की इन जनता विरोधी नीतियों के खिलाफ शहरवासी लामबध हो गये है और उन्होंने विभाग के खिलाफ आंदोलन का बिगुल बजा दिया है। सोमवार को दो दर्जन से ज्यादा लोगों ने हस्ताक्षरित एक ज्ञापन देश के प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह को भेज कर रेलवे द्वारा बंद किये फुटब्रिज पर विरोध जताया है। वहीं विभाग द्वारा अब रेलवे से गोल बाजार को जाने वाले रास्ते को बंद करने के प्रयासों पर भी रोष जताते हुए प्रदर्शन किया है।
प्रदर्शनकारी विनोद नीलू, महेश मिढ़ा, जगतार सिंह, हरविंद्र सिंह, गुरदीप सिंह, पवन कुमार ओम प्रकाश सुखचैन सिंह, नरपाल सिंह, बृज मोहन सहित अन्य दुकानदारो ने बताया कि रेलवे विभाग सौंदर्यकरण के नाम पर जनताविरोधी नीतियों पर उतर आया है। रेलवे लाईन शहर के मध्य में से गुजरने के कारण शहर दो भागों में बटा हुआ है। यात्री और माल गाडिय़ों का आवागमन अधिक होने के कारण शहर के दोनों रेलवे फाटक बंद रहते है। जिस कारण हजारों की संख्या में यात्री रेलवे लाइनों को पार करने के लिए फुट ब्रिज का प्रयोग करते थे लेकिन रेलवे विभाग ने दूसरा प्लेट फार्म बनाने की योजना के दौरान इस फुटब्रिज को ढाह कर एक प्लेट फार्म से दूसरे प्लेट फार्म तक जाने के लिए ब्रिज का निर्माण कर दिया। इससे शहर वासियों को मीना बाजार से गोल बाजार तक जाने के लिए एक मात्र साधन फुट ब्रिज समाप्त हो गया।
बात यही समाप्त नहीं हुई रेलवे विभाग ने पिछले एक शताब्दी से रेलवे स्टेशन से कालोनी रोड़ को मिलाने वाली सड़क को पहले बंद कर चुका विभाग अब गोल बाजार के रास्त को भी बंद करने के मनसूबे पाल रहा है। शहर वासियों ने विभाग के अधिकारियो को चेतावनी दी है कि वे सौंदर्यकरण के नाम पर शहरवसियों को मिल रही सुविधाओं से न वंचित करे वरना उन्हें संघर्ष का रास्ता अपनाना पड़ेगा।

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज