BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

सोमवार, दिसंबर 24, 2012

तेरा साथ है तो मुझे किया कमी है


राजीव वढेरा, डबवाली
भीषणतम त्रसदियों में से एक डबवाली अग्निकांड में अपंग हो चुके पीड़ितों को अपना जीवन साथी बना कर ऐसी नजीर पेश करने वालों की जिंदादिली को दुनिया सलाम करती है। जीवन साथी चुन कर इन ‘नायकों’ ने न केवल पीड़ितों के जख्म पर मरहम लगाया बल्कि जीने की नई राह भी दिखाई। पीड़ितों की मुस्कुराहट पर निसार इन नायकों की जिंदगी में झांकने का प्रयास किया दैनिक जागरण ने :
अशोक ने बताया जीने का मकसद: स्नातक की परीक्षा पास कर चुकी सीमा बलाना के लिए अभी जीवन की शुरुआत ही थी कि इस हादसे ने उसके दोनों पैरों को छीन जीवन भर की खुशियों को ग्रहण लगा दिया। भाई गोल्डी बलाना और भाभी पूजा बलाना के प्रयासों ने अपने इस दुख को शिक्षा की लौ से कम करने का हौसला एमए और बीएड की परीक्षा पास कर दिखाया। ऐसे समय में पंजाब के कपूरथला शहर के निवासी अशोक मनचंदा का परिवार उसके के लिए नई उमंग लेकर आया।
पूजा ने दी उमेश को नई रोशनी : हिसार के संभ्रात परिवार की बेटी पूजा भी अग्निकांड में अपने दोनों हाथों की अंगुलियों और सिर के बालों को खो चुके उमेश मित्तल के जीवन में नई रोशनी लेकर आई है। इसी वर्ष दोनों 24 फरवरी को विवाह के बंधन में बंधे हैं।
फरिश्ता बनकर आए रोहित : शमशेर सिंह मिस्त्री और उनकी पत्नी परमजीत कौर की युवा पुत्री गगन के जीवन में राजस्थान के श्रीगंगानगर जिले के निवासी अधिवक्ता रोहित धवन का आगमन किसी फरिश्ते से कम नहीं रहा। 23 दिसंबर के काले दिन अग्निकांड में गगन अपनी दोनों टांग खो चुकी थी। आज वह पति के साथ हंसी खुशी शादीशुदा जीवन जी रही है।



कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज