BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

सोमवार, जनवरी 28, 2013

4 साल की बच्ची की रेप के बाद हत्या कर शव सीवरेज तालाब में फैंकने से शहर में सनसनी


डबवाली -कबीर बस्ती की एक नंबर में गली में खेल रही 4 साल की बच्ची को उसी गली के दो नशेड़ी युवकों ने किडनैप कर गायब कर दिया। पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर उनकी निशानदेही पर शहर के बाहर स्थित सीवरेज गट्टर में बच्ची के शव की तलाश शुरू कर दी है। बच्ची की रेप के बाद हत्या किए जाने की आशंका है।कबीर बस्ती निवासी मीठूराम दर्जी ने बताया कि उसकी 4 वर्षीया पोती महक रानी पुत्री पेंटर सुरेंद्र उर्फ टींकू बीते शुक्रवार को गली में खेल रही थी। इसी दौरान एक युवक महक को उठाकर ले गए जबकि उसके साथ खेल रही दोहती 8 वर्षीय कोमल रानी ने घर आकर घटना बताई। इस पर उन्होंने बच्ची की तलाश शुरू की और इस घटना के बाद मोहल्ले में कोहराम मच गया। रात्रि को बच्ची का पता नहीं चलने पर शनिवार को परिजनों ने पुलिस को घटना की शिकायत दी। इस पर पुलिस ने आरोपी युवक मोहल्लावासी विक्की पुत्र बृजलाल को गिरफ्तार कर लिया। शहर थाना प्रभारी रवि खुंडिया व सीआईए प्रभारी अरूण बिश्रोई ने बताया कि पूछताछ के दौरान विक्की ने लड़की को उठाकर सीवरेज तालाब किनारे ले जाने की बात स्वीकारते हुए बताया कि इस दौरान उसके साथ मोहल्लावासी छिल्ला पुत्र सुरजीत कुुमार भी था। बाद में दोनों ने नशे की हालत में बलात्कार की नीयत से बच्ची को उठाया था। उन्होंने बताया कि जबरदस्ती के बाद उन्होंने बच्ची को अचेतावस्था में चली गई जिसे उन्होंने सीवरेज तालाब में फेंक दिया। इस पर पुलिस ने शव की तलाश के लिए गोताखोर सीवरेज तालाब में उतारे लेकिन शाम तक शव नहीं मिला। वहीं कबीर बस्ती में घटित हुए मामले के बाद लोगों में पुलिस के खिलाफ रोष पनप गया है। शहरवासियों का कहना है कि नशेडिय़ों पर लगाम लगाने में पुलिस नाकाम है जिससे ऐसी नृशंस घटनाएं बढ़ती जा रही है।

सीवरेज तालाब पर जमा हुई भीड़सीवरेज तालाब मे बच्ची का शव होने की बात पता चलने पर पुलिस ने गोताखोरों से तालाब में शव की तालाश शुरू कर दी लेकिन तालाब में सीवरेज का पानी 10 फीट से भी अधिक भरा होने के कारण गोताखोर शव का पता नहीं लगा पाए। इस दौरान जनस्वास्थ्य विभाग कर्मी भी मौके पर पहुंचे और पानी कम करने के लिए मोटर चालित पंप लगाया। मौके पर एकत्रित शहरवासी विभागीय अधिकारियों से बड़े पंप लगाकर तेजी से पानी निकालने की मांग करते रहे लेकिन दिनभर तालाब पर दूसरा पंप भी नहीं लगाया गया। इस नृशंस घटनाक्रम के खुलासे से शहरवासियों में भी रोष पनप गया है।
 
 

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज