BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

मंगलवार, जनवरी 08, 2013

सिखों ने प्रशासन व सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए डेरा मुखीपर बलात्कार के नए एक्ट तहत केस दर्ज कर गिरफ्तार करने क मांग की



 डबवाली--गोल चौक पर आज दोपहर एक बजे संत बलजीत सिंह दादू समर्थकों ने नेशनल हाइवे जाम कर दिया। करीब आधे घंटे गोल चौक की चौटाला रोड पर सिख समर्थक बैठे रहे और प्रशासन से डेरामुखी को गिरफ्तार करने और संत बलजीत सिंह दादू के खिलाफ दफा 307 हटाने की मांग में नारेबाजी की। जाम के दौरान सिखों को संबोधित करते हुए सुबेग सिंह ऐलनाबाद व बाबा प्रदीप सिंह चांदपुरा ने कि पुलिस प्रशासन सरकार के दवाब में कार्य कर रहा है और प्रदेश में अल्पसंख्यक सिखों के खिलाफ बेवजह लगातार मुकद्मे दर्ज कर रहा है। उन्होंनें कहा कि बीते वर्ष जीवननगर, ऐलनाबाद व सिरसा में सिखों पर सरेआम मारपीट व जानलेवा हमले हुए जिसमें घायलों को डीसी डॉ. जे गणेशन व एसएसपी डॉ. राजश्री ने खुद उपचाराधीन कराया था। लेकिन अब तक पुलिस ने किसी को गिरफ्तार नहीं किया है। जिससे पुलिस की झूठी कार्रवाई उजागर होती है। उन्होंने कहा संत बलजीत सिंह दादूवाल पर जगह-जगह झूठे मामले दर्ज कर दिए जाते हंै जिन्हें रद्द किया जाना चाहिए। साथ ही मांग की उन्हें भगौड़ा घोषित करना और घुकांवाली मामले में दफा 307 लगाना नाजायज है जिसे हटाया जाना चाहिए। सिखों ने प्रशासन व सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए डेरा मुखी पर   बलात्कार के नए एक्ट तहत केस दर्ज कर गिरफ्तार करने क मांग की। उन्होंने कहा कि हरियाणा में सिखों को किसी जगह एकत्रित नहीं होने देते और डेरा मुखी रोजाना जगह-जगह घुमकर अपने इल्जाम छुपाने की कोशिश करते हैं। बाबा प्रदीप चांदपुरा ने कहा कि सिखों पर जुल्म हो रहे हैं जिन्हें रोका जाए और सरकार व प्रशासन निष्पक्ष होकर डेरामुखी के खिलाफ कार्रवाई करे ताकि आमजन को सच्चाई का पता चले। इस मौके पर करीब आधे घंटे तक सिख सड़क पर बैठकर नारेबाजी व रोष प्रदर्शन करते रहे। मौके पर एसडीएम सुभाष श्योराण व डीएसपी पूर्ण चंद पंवार ने सिखों से शांतिपूर्वक रोष प्रदर्शन की अपील की। जिस पर बाबा चांदपुरा व दादू समर्थकों ने 22 मिनट के लिए रोष प्रदर्शन की प्रशासनिक अनुमति के आधार पर सड़क पर धरना देकर प्रदर्शन किया।
**-पुलिस की कड़ी पहरेदारी रहीसुबह से ही शहर के सभी मार्गों पर पुलिस की कड़ी पहरेदारी रही, जिलेभर के आलाधिकारियों को ड्यूटी मैजिस्ट्रेट बनाकर थाना प्रभारियों को किया गया था तैनात, 9 कंपनियों करीब 250 पुलिसकर्मियों ने संभाली कमान, जाम से परेशान हुए वाहनचालक
**- मामले की अगली सुनवाई 1 को सुबह करीब साढ़े 9 बजे संत बलजीत सिंह दादू न्यायालय में पेश हुए और न्यायाधीश ने मामले में एक फरवरी की अगली तारीख तय कर दी। उल्लेखनीय है कि उन पर घुकांवाली में डेरामुखी पर जानलेवा हमला करने, चोरमार में रोड जाम करने और दोनों मामलों में ओढ़ां थाना पुलिस का भगौड़ा होने के मामले चल रहे हैं। तीनों मामलों में उनको अदालत में पेश किया गया था।
**-विश्वकर्मा गुरुद्वारा में हुई बैठकपेशी उपरांत संत बलजीत सिंह दादू अपने समर्थकों सहित बाबा विश्वकर्मा गुरुद्वारा में पहुंचे और यहां समर्थकों की बैठक को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि हरियाणा व दूसरे प्रदेशों की सरकारों और डेरामुखी में नोटों व वोटों की सांठगांठ है। जिस कारण अल्पसंख्यक सिखों पर बेवजह मामले दर्ज कर प्रताडि़त किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि वे पंथक सेवा के लिए कार्य करते हैं और प्रदेशभर सहित सिरसा जिले में आते रहें हैं लेकिन पुलिस ने कभी गिरफ्तार नहीं किया। वे सच के पहरेदार हैं और सच्च के पहरेदारों को सरकार सलाखों के पीछे रखना चाहती है ताकि समाज जागृत न हो जाए। उन्होंने आह्वान किया कि ऐसी सरकारों का जागृत समाज तख्तापलट कर सकता है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज