BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

शुक्रवार, अगस्त 02, 2013

तीस घंटे बाद मिली डूबी कार


डबवाली--गांव अबूबशहर के पास राजस्थान कैनाल (इंदिरा गांधी नहर) में गिरी कार को 30 घंटे बाद गुरुवार देर रात को निकाल लिया गया। राष्ट्रीय आपदा राहतकार्य फोर्स की टीम ने कार को बाहर निकाला। दिनभर नहर किनारे आगंतुकों व प्रशासनिक अधिकारियों व पुलिस टीम का जमावड़ा लगा रहा।

गुरुवार को सुबह से ही सदर थाना प्रभारी भारतेंद्र कुमार के नेतृत्व में पुलिस बल मौके पर पहुंचा और बठिंडा से इंडियन तिब्बत सीमा सुरक्षा पुलिस की टुकड़ी मौके पर पहुंची। टीम सदस्यों ने राहत कार्य शुरू कर कार की तलाश शुरू की लेकिन पानी का बहाव व गहराई ज्यादा होने के कारण टीम को सफलता नहीं मिली। दोपहर तक नहर में फेंके गए रस्से के किसी भारी वस्तु में अटकने से कार होने की अंदेशा हुआ लेकिन उसे खींचते वक्त रस्सा टूट जाने से इसका पूरा पता नहीं चल पाया।

दोपहर बाद टीम सदस्यों की तैराकी के दौरान जरूरी ऑक्सीजन सिलेंडर खत्म हो जाने से राहत कार्य बाधित हो गया और शाम को दोबारा ऑक्सीजन सिलेंडर मंगवाकर राहत कार्य शुरू किया गया। इससे पहले बुधवार शाम को भी नहर में एक जगह रस्सा अटक गया था लेकिन बाद में वह पेड़ का तना गिरा हुआ मिला। रात करीब साढ़े दस बजे कार को बाहर निकाला गया।

बता दें, बुधवार शाम को करीब सवा 5 बजे एक फिगो कार राजस्थान कैनाल में उतर गई जिसका चालक मोबाइल पर किसी से बात कर रहा था। इस दौरान करीब 5 मिनट तक कार नहर के पानी में तैरती रही। कुछ देर बाद कार नहर में डूब गई और पानी पर तैरते मिले कागजों के अनुसार उसकी पहचान पंजाब के लंबी गांव निवासी व गांव गग्घड़ में साइंस अध्यापक सतबीर पुत्र डॉ. बलदेव सिंह के तौर पर हुई है। बाद में मौके पर आई उसकी मां ने बताया कि सतबीर की पत्नी भी उसके साथ इंग्लिश टीचर है और वह घर से राजस्थान जाने की बात कहकर निकला था। सतबीर के पिता लंबी अस्पताल में चिकित्सक थे और करीब दो वर्ष पहले रिटायर हुए हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज