BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

शनिवार, अगस्त 17, 2013

डेरा प्रमुख के खिलाफ पर्याप्त सबूत : जांच अधिकारी


यौन शोषण व हत्या मामलों में हुई सुनवाई

सीबीआई के तत्कालीन डीआईजी सहित कई गवाह हुए पेश

सिरसा(बलबीर 08813006786)  पंचकूला स्थित सीबीआई की विशेष अदालत में आज पत्रकार छ
त्रपति, रणजीत मर्डर केस व साध्वी यौन शोषण मामले में सुनवाई हुई। इस दौरान तीनों मामलों में गवाहों ने अदालत के समक्ष अपनी गवाही दर्ज करवाई। न्यायालय ने साध्वी यौन शोषण मामले में 24 अगस्त व छत्रपति व रणजीत मर्डर मामले में तीन सितंबर की तारीख मुकर्रर की है।
            ज्ञातव्य हो कि पत्रकार छत्रपति व रणजीत हत्याकांड और साध्वी यौन शोषण प्रकरण की सुनवाई सीबीआई की विशेष अदालत में चल रही है। उक्त मामलों में सीबीआई ने डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत सिंह को मुख्य आरोपी बनाया है। तीनों मामलों में डेरा प्रमुख गुरमीत सिंह को अदालत के चक्कर लगाने पड़ रहे हैं। आज उक्त तीनों मामलों में अदालत के समक्ष गवाह पेश हुए। साध्वी यौन शोषण प्रकरण में सीबीआई के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सतीश डागर से जिरह हुई। डागर उक्त तीनों मामलों में जांच अधिकारी हैं और अदालत के समक्ष साध्वी यौन शोषण प्रकरण में गवाही दर्ज करवा चुके हैं। विगत तीन तारीखों से डागर को जिरह में आरोपी पक्ष के वकीलों द्वारा उलझाने का प्रयास किया जा रहा है। डागर ने अदालत को बताया था कि यौन शोषण मामले में जांच के दौरान डेरा प्रमुख के खिलाफ उन्होंने पुख्ता सबूत जुटाए हैं व दुष्कर्म पीडि़त साध्वियां भी उक्त मामले में अदालत के समक्ष सच्चाई बयां कर चुकी हैं।
              दूसरी ओर पत्रकार छत्रपति व रणजीत हत्याकांड मामले में सीबीआई के तत्कालीन उपमहानिरीक्षक बी.एल. सोनी ने अपनी गवाही दर्ज करवाई। सोनी ने अदालत को बताया कि उक्त मामलों के गवाह खट्टा सिंह ने उनके समक्ष पेश होकर सुरक्षा की गुहार लगाई थी। सोनी ने बताया कि खट्टा सिंह उनके कार्यालय में आया और डेरा सच्चा सौदा से जान का खतरा बताते हुए सुरक्षा मांगी। डीआईजी के अनुसार खट्टा सिंह ने बताया था कि उसे डेरा सच्चा सौदा की ओर से बयान बदलने को लेकर धमकियां मिल रही हैं। इसी के चलते उसे व उसके परिवार को खतरा बना हुआ है।
          गौरतलब है कि खट्टा सिंह सीबीआई अदालत में अपने बयानों से मुकर गया था। इसी के चलते सीबीआई ने तत्कालीन डीआईजी बी.एल. सोनी को गवाह बनाए जाने के लिए अदालत के समक्ष याचिका लगाई थी। अदालत ने याचिका को स्वीकार करते हुए सोनी को आज गवाही के लिए तलब किया था। इसके अलावा खट्टा सिंह के बयानों के आधार पर समाचार पत्र में खबर प्रकाशित करने वाले कई मीडियाकर्मियों को भी अदालत में पेश होने के लिए समन किया गया था। आज दॅ ट्रिब्यून व दैनिक भास्कर के प्रतिनिधि अदालत में पेश हुए और अपना पक्ष रखा।
FOR MORE DETAIL ABOUT THIS NEWS U CAN CONTACT AT  +91 8813006786,

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज