BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

शनिवार, अगस्त 31, 2013

मलिकपुरा में दिन-दिहाड़े लूट,ग्रामीणों ने लगाया जाम


70 हजार रूपए की नगदी व 10 तोले सोने  के स्वर्णाभूषण लेकर फरार हो गए
डबवाली-उपमंडल के गांव मलिकपुरा में शुक्रवार को दिन-दिहाड़े घर में घुस कर लूटपाट की वारदात से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। वारदात के बाद अज्ञात युवक मौके से फरार हो गए। ग्रामीणों द्वारा वारदात की सूचना पुलिस को तुरन्त दे दी गई थी परन्तु काफी समय बीत जाने के बाद भी जब पुलिस मौके पर नहीं पहुंची तो पुलिस की लेटलतीफी से क्षुब्ध ग्रामीणों ने गांव मिठड़ी के पास नेशनल हाईवे जाम कर दिया।
मिली जानकारी के अनुसार गांव मलिकपुरा में आज सुबह करीब 9 बजे गांववासी अजैब सिंह पुत्र सरवन सिंह के घर में अज्ञात व्यक्ति घुस गए। उस समय घर में अजैब सिंह की पुत्रवधू सर्वजीत कौर पत्नी संदीप सिंह व वृद्ध कुटुम्ब टेक
सिंह घर पर अकेले थे। सर्वजीत घरेलु कार्यों में व्यस्त थी कि अचानक कुछ अज्ञात व्यक्ति आए ओर उन्होंने सर्वजीत के मुंह पर पॉऊडरनुमा कोई जहरीली वस्तु डाली। जिससे वह एकदम चीख मारकर बेसुध हो गई। बेहोशी की हालत में उक्त लोगों ने सर्वजीत के कानों से सोने की बालियां व नाक में पहना कोका निकाल लिया। इसके बाद उक्त लोग घर के कमरों में दाखिल हुए और अलमारी तोड़ कर उसमें रखी करीब 70 हजार रूपए की नगदी व 10 तोले सोने  के स्वर्णाभूषण लेकर फरार हो गए। शौर सुनकर वृद्ध टेक सिंह ने जब अन्दर जाकर देखा तो सर्वजीत बेहोश पड़ी थी तथा अल्मारी टूटी पड़ी थी और घर का सामान बिखरा पड़ा था। इसके बाद उन्होंने शोर मचा दिया। शोर सुनकर आसपास के लोग एकत्रित हो गए लेकिन तब तक लुटेरे मौके से फरार हो चुके थे। घटना की सूचना पाकर थाना शहर पुलिस की पीसीआर काफी देर बाद घटनास्थल पर पहुंची और मौका मुआयना में जुट गई।

क्या कहते  है पीडि़त :
अजैब सिंह ने बताया कि उन्हें कुछ दिन पूर्व ही अपनी जेन कार 70 हजार रूपए में बेची थी। जो राशि घर में ही रखी थी तथा वह सुबह करीब 8 बजे अपने खेतों में काम करने चले गए थे। घर के अन्य सदस्य भी चारा आदि लेने के लिए चले गए थे। उन्होंने बताया कि उनके घर में हुई इस वारदात से उन्हें करीब साढ़े चार लाख रूपयों का नुक्सान हुआ है।

ग्रामीणों ने लगाया जाम :
गांव में वारदात के बाद पुलिस के काफी देर तक न पहुंचने पर ग्रामीणों ने मिठड़ी के पास आड़ी-तिरछी टै्रक्टर-ट्राली व पेड़ के टहनों को गिराकर सड़क पर जाम लगा दिया और पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। गांव के सरपंच इकबाल सिंह व ग्रामीण का. बलजीत सिंह बिट्टू, काला सिंह, भगत सिंह, जगराज सिंह, अमन, यादविन्द्र, जगजीत, जसपाल सिंह, लाभ सिंह, रवि, कुलदीप सिंह, बलजिन्द्र सिंह, सुखपाल सिंह, जगतार सिंह, बलवीर सिंह, बिमला देवी, लवप्रीत, रानी कौर, गुरप्रीत कौर आदि ने बताया कि पुलिस न तो उनके गांव में गश्त करती है और न ही वारदात होने के बाद समय पर पहुंचती है। उन्होंने पुलिस की कार्यप्रणाली के खिलाफ जमकर रोष प्रदर्शन किया। जाम की सूचना मिलते ही थाना औढ़ां प्रभारी दलजीत सिंह मौके पर पहुंचे और ग्रामीणों को समझाने का प्रयास किया लेकिन ग्रामीण अपनी बात पर अड़े रहे। जाम के कारण सड़क के दोनों ओर वाहनों की लम्बी कतारें लग गई और वाहन चालक ग्रामीणों से मान मनुहार भी करते दिखाई दिए। इसके बाद सदर थाना प्रभारी भारतेन्द्र सिंह ढिल्लों और कालांवाली के थाना प्रभारी विक्रम नेहरा भी मौके पर पहुंचे और ग्रामीणों से बातचीत कर जाम खुलवाने का प्रयास किया। थाना प्रभारियों द्वारा गांव में गश्त बढ़ाने व आरोपियों को जल्द गिरपु्तार करने के आश्वासन के बाद करीब दो घंटे उपरान्त ग्रामीणों ने जाम हटा दिया और चेतावनी दी कि अगर जल्द ही लुटेरों को काबू नहीं किया गया तो वह दौबारा आन्दोलन करने को मजबूर होंगे।

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज