BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

गुरुवार, अक्तूबर 17, 2013

लक्ष्य से अधिक बिजली पैदा की जा रही है--कैप्टन अजय सिंह

डबवाली(सुखपाल सिंह)
प्रदेश में राज्य सरकार द्वारा रखे गए लक्ष्य से भी ऊपर उठ कर 5300 मैगावाट बिजली पैदा की जा रही है जबकि वर्तमान सरकार ने 2005 में  5000 मैगावाट बिजली पैदा करने का लक्ष्य रखा था।  इस प्रकार से अब राज्य में स्व: उत्पादन व अन्य संसाधनों से 9921 मैगावाट बिजली मिल रही है जो एक कीर्तिमान है।  यह बात प्रदेश के बिजली मंत्री

कैप्टन अजय सिंह ने आज बाहिया, चोरमार 33 केवी सबस्टेशन का शिलान्यास करने उपरांत चोरमार गांव में जनसभा को सम्बोधित करते हुए कही। इसके बाद ख्योवाली व मल्ल्ेावाला में 33 केवी सबस्टेशनों केा शिलान्यास सिरसा के सांसद डा अशोक तंवर ने किया।
बिजली मंत्री कैप्टन अजय सिंह ने कहा कि वर्ष 2004-05 में प्रदेश में केवल 1587 मैगावाट बिजली पैदा होती थी। सरकार द्वारा यमुनानगर, खेदड़ और झाड़ली में स्थापित किए गए बिजली प्लांट से  5300 मैगावाट से भी अधिक बिजली पैदा करके प्रदेश को बिजली के मामले में आत्म निर्भर बनाया है जिसकी बदौलत वर्तमान में ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में उभोक्ताओं को तय शैड्युल से पांच से सात घंटे अधिक बिजली मिल रही है इतना ही नहीं कई बार तो ऐसी स्थिति भी आई प्रदेश को दूसरे राज्यों  को बिजली बेचनी पड़ी है।
उन्होंने कहा कि पिछले लगभग साढे आठ साल के समय के दौरान जिला सिरसा में बिजली विकास कार्यो पर 573 करोड़ रूपए खर्च किए गए है जिसके तहत 400 केवी 220 केवी , 132 केवी और 33 केवी स्तर के 36 नए सबस्टेशन  चालु किए गए है । इस समय के दौरान जिला सिरसा में विभिन्न स्तर के 43 पुराने सब स्टेशन की क्षमें बढोतरी की गई है। 140 करोड़ की लागत का 400 केवी सबस्टेशन नुईयांवाली में चालु किया गया है इस दौरान 24493 नए बिजली वितरक ट्रांसफार्मर लगाए गए है और बिजली लाईनों के घने जाल में 4919 किलोमीटर लम्बाई की अतिरिक्त वितरक लाईनें की बढोतरी की गई है। उन्होंने कहा कि सिरसा जिला में बिजली के इतने अधिक कार्य होने का श्रेय सांसद डा अशोक तंवर व डा केवी सिंह को जाता है जिन्होंने समय समय पर राज्य सरकार के समक्ष विकास कार्यो की मांग रखी और निरंतर परियोजनाएं लाने में कामयाब रहे।
कैप्टन अजय सिंह ने कहा कि प्रदेश में बिजली की तारों, खम्बो  व अन्य ढंाचागत सुविधाएं  मजबूत करने में तीन हजारकरोड रूपए की राशि खर्च की जाएगी । सिरसा जिला में ढांचागत सविधाओं को  सुदृढ़ करने के लिए 200 करोड़ रूपए खर्च होंगे । इसके साथ-साथ  बिजली विभाग द्वारा 2005 के बाद जिन उपभोक्ताओं ने बिजली के बिल नहीं भरे। उन्हें दो रूपए 98 पैसे प्रति युनिट के हिसाब से छह किस्तों में बिजली का बिल अदा करने का मौका दिया। इससे जिन उपभोक्ताओं के बिजली के बिल बकाया है उन्हें  बिल अदा करने में आसानी होगी और उनका काफी बकाया माफ भी होगा।
इस मौके पर सांसद डा अशोक तंवर ने कहा कि केंद्र व राज्य सरकार की विभिन्न नितियों के तहत सिरसा जिला में वर्तमान सरकार के कार्यकाल में 4000 करोड रूपए से भी अधिक की राशि खर्च हुईहै। विपक्ष का यह कहना कि  विकास के मामले में सरकार ने भेद भाव किया है यह केवल भ्रामक प्रचार है उन्होंने आंकड़े प्रस्तुत करते हुए कहा कि  आरोही मॉडल स्कूल, कस्तुरबा गाधी बालिका विद्यालय, राजकीय महाविद्यालय, आई टी आई के साथ साथ अन्य संस्थाएं सिरसा जिला में अन्य जिलों से अधिक खोली गईहै।  इसी प्रकार से  हिसारसे डबवाली नेश्रल हाइवें को फोर लाईन बनवाने की 1500 करोड की योजना, डबवाली में आर ओ बी बनाए जाने की योजना और अन्य कई योजनाएं भी सिरसा में शुरू होनी हैे केंद्र सरकार की  रेलवे की परियोजनाएं भी सिरसा जिला मे आई है इन परियोजनाओं से राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से सिरसा की कनैक्टिीविटी बढेगी और युवाओं को रोजगार मिलेगा। उन्होंने कहा कि आगामी 10 नवम्बर को होने वाली गोहाना रैली में सिरसा से ज्यादा से ज्यादा लोग हिस्सा लेंगे उन्होंने लोगो से भी अपील की कि सिरसा जिले की हाजिरी रैली में सबसे ज्यादा हो।
मुख्यमंत्री हरियाणा के विशेषकार्याधिकारी (मीडिया) डा केवी सिंह ने बिजली मंत्री कैप्टन अजय सिंह का स्वागत करते हुए कहा कि पिछले पांच साल में  डबवाली क्षेत्र में 11 नए बिजली घरों को निर्माण कार्य शुरू है। जिनमें से 9 बिजली घर बनकर तैयार होगए है। विपक्ष की सरकार में डबवाली क्षेत्र में केवल एक बिजली घर का दर्जा बढाया गया था। उन्होंने कहा कि  वर्तमान सरकार ने बिजली के साथ साथ अन्य विकास कार्यो में भी इस क्षेत्र को प्राथमिकता दी है विपक्ष के छह वर्ष के कार्यकाल में विभिन्न विकास कार्यो पर केवल 190 करोड़ रूपए की राशि खर्च हुईथी जबकि वर्तमान सरकार के कार्यकाल में अबतक 670 करोड रूपए से भी अधिक की राशि खर्च की जा चुकी है। सिंचाई की भी कई परियोजनाए स्वीकृत हुई है जिनमें कालुआना खरीफ चैनल, रत्ता खेड़ा खरीफ चैनल शामिलहै उन्होंने कहा कि डबवाली क्षेत्र के लोगो को भी विश्वास हो चुका है कि केवल इस क्षेत्र का प्रयोग केवल वर्तमान सरकार ही करवा सकते है। जिस प्रकार 12 अक्तुबर को चौटाला गांव में रोहतक के सांसद दीपेंद्र सिंह का भव्य स्वागत हुआ है। उससे इस क्षेत्र में  सरकार की लोकप्रियता का ग्राफ बढा है। उन्होंने कहा कि चौटाला गांव से शुरू हुईसरकार व पार्टी  के पक्ष की हवा हरियाणा के दूसरे छोर पलवल तक बहेगी।  उन्होंने उपस्थित लोगो से आगामी 10 नवम्बर को गोहाना में होने वाली रैली मेंबढचढ कर पहुंचने की अपील भी की।  इस अवसर पर  डी एच बी वी  एन  के डायरेक्टर वी के सिंह, बाबा गोपाल सिंह, पवन गर्ग, जगसीर मिठड़ी, दिलजीत त्रिलोकेवाला सुखदेव सिंह, दिलबाग सिंह व अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज