BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

रविवार, मार्च 09, 2014

बिना इंजन दौड़ीं बोगियां, लोगों की जान पर बनी

गेटमैन की लापरवाही के कारण शनिवार को डबवाली रेलवे स्टेशन पर मालगाड़ी की चार बोगियां बिना इंजन के ही ट्रैक पर चल पड़ीं। शनिवार सुबह कॉलोनी रोड पर बने रेलवे फाटक गेहू के लदान के लिए खड़ी मालगाड़ी के चार डिब्बे अचानक पीछे खिसक कर रेलवे फाटक के बीच सड़क पर आ गए। जिससे वहा से गुजर रहे राहगीरों व वाहन चालकों में हड़कम्प मच गया। देव योग से उस समय वहा से कोई रेल गाड़ी नहीं गुजर रही थी जिस कारण एक बड़ा हादसा टल गया। उक्त डिब्बों में गेहू का लदान कर रहे मजदूरों ने रेलगाड़ी के डिब्बों को खिसकते देख शोर मचा कर लोगों को रेलवे ट्रैक से हटाया और हादसे होने से रोका। सड़क के बीचों-बीच डिब्बे के रुकने के कारण यातायात में बाधा उत्पन्न हो गई।

आधे घटे के बाद हुआ फाटक बंद
सुबह 10:28 पर माल गाड़ी के डिब्बे खिसकने के बाद घंटा भर डिब्बे रेलवे फाटक पर खड़े रहे। 10.51 पर अन्य रेल गाड़ी आने पर रेलवे फाटक को बंद किया गया। इसके बाद मजदूरों और ट्रकों की सहायता से एक डिब्बे को राम बाग की ओर कर धकेल कर फाटक के बीच स्थित सड़क से हटाया गया और यातायात बहाल किया गया। दो घटे तक चली इस कवायद में वाहन चालक जाम के कारण हलकान रहे।

कप्लिंग खुलने से खिसके डिब्बे
घटना के कारण का खुलासा करते हुए वहा


पर कार्य कर रहे मजदूरों ने बताया कि माल गाड़ी के डिब्बों को आपस में जोड़ने वाली कप्लिंग खुलने के कारण ही चारों डिब्बे खिसक गये थे। बताया जाता है कि माल गाड़ी के खड़ा होने के बाद उसे रोकने के लिए अंतिम डिब्बे को लोहे के जंजीरों के साथ रेलवे लाईन के साथ बाधने का प्रावधान है लेकिन अक्सर इस नियम की लापरवाहीवश अवेहलना की जाती है इस बार भी ऐसा ही हुआ। कर्मचारियों की लापरवाही किसी की भी जान ले सकती थी लेकिन देवयोग से हादसा टल गया।

रेलवे ने बरती लापरवाही
जब मजदूर मालगाड़ी में गेहूं भर रहे थे, तभी यह घटना हुई। गनीमत यह रही कि कोई हताहत नहीं हुआ। यह रेलवे की लापरवाही है। मालगाड़ी लोडिंग लाइन पर खड़ी थी। लाइन एक तरफ झुकी हुई है। गाड़ी को रोकने के बाद रेलवे ने कोई स्टॉपर नहीं लगाया।
-मजूदर नेता प्रेम कुमार
यह हादसा गेटमैन की लापरवाही से हुआ है। उसने बोगियों को स्टॉपर नहीं लगाए थे। दोषी के खिलाफ रेलवे कार्रवाई करेगा। भविष्य में ऐसी घटना न हो इसके लिए प्रयास किए जाएंगे।
-महेश सरीन, स्टेशन अधीक्षक

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज