BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

मंगलवार, अक्तूबर 14, 2014

मैं ज्योतिषी तो नहीं है परन्तु सियासी ज्योतिषी हूं। हरियाणा में चौटाला के नाम की आंधी चल रही है-- प्रकाश सिंह बादल

डबवाली
मैं ज्योतिषी तो नहीं है परन्तु सियासी ज्योतिषी हूं। मैं एक चक्कर लगाकर बता सकता हूं कि सियासी रूख क्या है। मैंने पूरे हरियाणा का चक्कर लगाया है, मैंने देखा है कि हरियाणा में ओमप्रकाश चौटाला के नाम की आंधी चल रही है और लोगों के दिल में उनके जेल भेजने के खिलाफ बदला लेने की भावना हिलौरे ले रही। यह शब्द चुनाव के स्टार प्रचारक पंजाब के मुख्यमंत्री सरदार प्रकाश सिंह बादल  ने संबोधित करते हुए कहे । रैली में उमड़े जनसैलाब को रैला की संज्ञा देते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री सरदार प्रकाश सिंह बादल ने कहा कि प्रदेश में इनेलो में लहर चल रही है और आपके पास अपनी सरकार बनाने का मौका है, इस मौके को हाथ से मत जाने देना। उन्होंने कहा कि आपको अपना मुख्यमंत्री बनाने के लिए नैना चौटाला को रिकार्डतोड़ मतों से विजयी बना दो। उन्होंने कहा कि अपना-अपना होता है, पराया पराया होता है। यह बात आप अच्छी तरह से समझते हो। इस इलाके की तरक्की तब होगी जब जनता के बीच का मुख्यमंत्री होगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस तो केवल उन लोगों को मुख्यमंत्री बनाते हैं जो सोनिया और राहुल गांधी की खुशमद करें और उनके लिए आकुत दौलत कमा कर दे। इसलिए कांग्रेस के मुख्यमंत्री 24 घंटे

जनता का धन लूटने और सोनिया परिवार को खुश करने की सोचते हैं। उन्होंने कहा कि ओमप्रकाश चौटाला जनता और जमीन से जुड़े व्यक्ति हैं और वे सीएम बनने पर जनता के सुख-सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए नीतियां बनाते हैं।
श्री बादल ने नैना चौटाला को अपनी बेटी और बहु की संज्ञा देते हुए कहा कि डबवाली हलके में चुनाव सिर्फ जीतने का नहीं है बल्कि यह पूरे क्षेत्र में सर्वाधिक मतों से नैना चौटाला को विजयी बनाने और कांग्रेस को सबक सीखाने का है। बादल ने सीएम हुड्डा पर वार करते हुए कहा कि हुड्डा ने हिसार  सिरसा व फतेहाबाद के साथ यह सोच कर भेदभाव किया क्योंकि ये इनेलो के गढ़ हैं। उन्होंने सवाल किया कि हुड्डा साहब बताएं कि उन्होंने यहां पर कितने उद्योग लगाए। उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र के लोग तो बिजली के लिए तरसते रहे। सड़कों की हालत यह है कि कमर में दर्द होने के डर से कमर पर पेटी बांध कर चलते हैं।
डबवाली हलके में इनेलो ने चुनाव प्रचार के आखिरी दिन धमाकेदार रैली कर मास्टर स्ट्रोक खेल दिया। प्रचार के अतिंम दिन अनाज मंडी में आई भीड़ ने से न केवल इनेलो ने अपनी पकड़ साबित की बल्कि यह भी जता दिया कि हवा का रूख क्या है।


कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज