BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

सोमवार, अक्तूबर 27, 2014

संत निरंकारी साध संगत ब्रांच का गठन , डा. राजेंद्र यादव मुखिया नियुक्त

डबवाली
गांव चौटाला में संत निरंकारी साध संगत ब्रांच का गठन किया गया है व डा. राजेंद्र यादव को इसका मुखिया
नियुक्त किया है। अंतराष्ट्रीय निरंकारी मिशन के प्रमुख सदगुरू बाबा हरदेव सिंह जी महाराज के आदेशों से डा. राजेंद्र यादव की नियुक्ति हुई है। रविवार शाम को गांव चौटाला में आयोजित निरंकारी संत समागम में जोनल इंचार्ज गोबिंद राम टोहाना वालों ने सदगुरू के आदेश पढ़कर सुनाए व उन्हें नियुक्ति पत्र सौंपा। इसके उपरांत डा. राजेंद्र यादव के गले में सफेद दुपट्टा पहनाकर उन्हें सम्मानित करते हुए गद्दीनशीन किया गया। इस अवसर पर हिसार के सांसद दुष्यंत चौटाला भी पहुंचे व डा. राजेंद्र यादव को बधाई देते उन्हें शाल ओढ़ाकर उनका सम्मान किया। श्री चौटाला ने निरंकारी मिशन द्वारा मानव भलाई के लिए किए जा रहे कार्यों की प्रशंसा की व अपनी ओर से हर संभव सहयोग देने का आश्वासन दिया। उनके अलावा जिला परिषद चेयरमैन डा. सीता राम, नामधारी साध संगत के प्रधान इक ओंकार सिंह नामधारी, भगवान श्री परशुराम ब्राह्मण सभा के प्रधान राकेश शर्मा, पंचायत की ओर से गांव के सरपंच आत्मा राम छिंपा व अन्य लोगों ने फूलमालाएं पहनाकर डा. राजेंद्र यादव को बधाई दी। इस मौके पर डा. राजेंद्र यादव ने इस नईं जिम्मेदारी के लिए सदगुरू बाबा हरदेव सिंह जी व साध संगत का आभार जताया। उन्होंने कहा कि दुनियावी जिम्मेदारी व आध्यात्मिक जिम्मेदारी में अंतर होता है। आध्यात्मिक जिम्मेदारी में अपने आप को भूल कर नम्रता, प्यार, सहनशीलता, करूणा व दया आदि भावों को आत्मसात कर सबके चरणरज बन कर रहना पड़ता है। उन्होंने उपस्थित लोगों को निरंकारी मिशन के साथ जुडऩे का आह्वान किया।

इस मौके पर पंजाब के सूफी गायक मघर अली खां, मानक, भगवान दास पंछी, मनोहर व अजय ने गीत, कविताएं व कव्वालियां सुनाकर श्रद्धालुओं को मंत्रमुग्ध कर दिया।
अंत में अपने अध्यक्षीय प्रवचनों में गोबिंद राम राम जी ने कहा कि ब्रह्म को जाने बिना कल्याण संभव नही है और निरंकार प्रभु की जानकारी सदगुरू से ही संभव है। जो सदगुरू के साथ जुड़ जाते हैं उन्हें अनेक खुशियां प्राप्त होती हैं। समागम में गांव चौटाला के साथ-साथ, डबवाली, अबूबशहर, लोहगढ़, सुकेराखेड़ा, कालूआना, भारूखेड़ा, तेजाखेड़ा, आसाखेड़ा, जंडवाला, संगरिया, खाराखेड़ा, गुडिय़ा, साबूआना, हनुमानगढ़, कालांवाली, पन्नीवाला मोटा व अन्य स्थानों से भारी तादाद में निरंकारी श्रद्धालु भाग लेने के लिए पहुंचे। समागम के लिए प्रांगण को भव्य तरीके से सजाया गया था। निरंकारी मिशन की किताबें व अन्य साहित्यिक सामग्री की स्टाल भी समागम में लगाई गई थी। इसके अलावा गुरू का अटूट लंगर भी बरताया गया।
समागम के उपरांत पूर्व उपप्रधानमंत्री चौ. देवीलाल की पुत्रवधू सीमा देवी पत्नी स्व. जगदीश चंद्र सिहाग ने अपने घर पर जोनल इंचार्ज गोबिंद राम, उनकी पत्नी शशि व नवनियुक्त मुखी डा. राजेंद्र यादव के सम्मान में एक कार्यक्रम का आयोजन किया। सीमा देवी ने उन सभी का स्वागत करते हुए उन्हें शाल भेंट कर सम्मानित किया व डा. राजेंद्र यादव की नियुक्ति पर निरंकारी पदाधिकारियों का आभार जताया। इस मौके पर गोबिंद राम जी ने कहा कि चौ. देवीलाल की कर्मस्थली पर हुए स्वागत व सम्मान से वे अभिभूत हुए हैं व इसे वे हमेशा याद रखेंगे।

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज