BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

गुरुवार, मार्च 26, 2015

आरोपों में घिरे सरपंच, जांच को पहुंचे अधिकारी ,टीम को सफाई देते रहे सरंपच

धांधली | चोरमार में पीएवाई योजना की जांच करने पहुंचे अधिकारी 
डबवाली 
गांवचोरमार में पीएवाई योजना के तहत करवाए गए विकास कार्यों की जांच करने एडीसी कार्यालय से तकनीकी विशेषज्ञ राजाराम एसके सिंगला ने जांच शुरू कर दी। अधिकारियों ने विकास कार्यस्थलों पर जाकर करीब 3 घंटे तक मौका देखकर जांच की। गांव के जसबीर सिंह, जगदीश, हरमंद्र सिंह बलदेव सिंह ने ग्राम सरपंच सुखदेव सिंह पर पीएवाई योजना के तहत करवाए गए विकास कार्यों में राशि का गोलमाल करने के आरोप लगाए थे।
जांच अधिकारियों ने गांव में पहुंचकर शिकायतकर्ताओं सरपंच को साथ लेकर गांव के स्कूल, स्वास्थ्य केंद्र, राजीव गांधी सेवा केंद्र, बस स्टैंड, कुछ पंचों के घरों सहित अन्य स्थानों पर जाकर कार्यों की जांच की जहां ग्राम सरपंच अपनी सफाई देते नजर आए। लेकिन अधिकारियों ने अपनी कार्रवाई पूर्ण करते हुए वहां पर मौजूद कुछ लोगों की उपस्थिति भी दर्ज की। शिकायतकर्ता जसबीर सिंह का आरोप था कि सरपंच ने उसके द्वारा मांगी गई आरटीआई में वाटर कूलर आरओ सिस्टम बारे जानकारी में दो बिल दिए थे जिनमें उसने 81 हजार 800 रुपये की खरीद दिखाई है जिसे पंच बिकर सिंह ने एक आरओ गांव के स्कूल में लगाने की बात कही थी लेकिन स्कूल की मुख्याध्यापिका ने इस बात से स्पष्ट इंकार करते हुए लिखित में अधिकारियों को दिया। वहीं वाटर कूलर बारे सरपंच से पूछा गया तो उन्होंने अपने घर पर लगे होने की बात कही और कहा कि उन्होंने बाद में उसे राजीव गांधी सेवा केंद्र में रखवा दिया लेकिन शिकायतकर्ताओं का आरोप है कि वह वाटर कूलर सरपंच ने जांच के भय से रातों रात पुराना लाकर वहां रखा है जहां तो बिजली है और ना ही पानी की सप्लाई थी।
शिकायतकर्ता ने अधिकारियों को मौका दिखाते हुए आरोप लगाया कि सरपंच ने वाटर कूलर आरओ में करीब एक लाख रुपये का गोलमाल किया है। वहीं अधिकारियों ने सबमर्सिबल पंप लगाए जाने के स्थानों का निरीक्षण किया जहां भी अनियमितताएं पाई गई क्योंकि आरटीआई में बताया गया था कि सबमर्सिबल पंप घरों के निकट लगे हुए हैं जबकि वे मेंबरों के घरों के अंदर लगे हुए थे जिन्हें जांच के भय से रातों रात सप्लाई बाहर कर दी गई। अधिकारियों द्वारा इसका पूरा निरीक्षण किया गया तो दीवार तोड़कर सप्लाई बाहर निकाले जाने के प्रमाण मिले। शिकायतकर्ता ने बताया कि आरटीआई में जंडवाला बस स्टैंड पर जो नलकूप लगे होने की जानकारी दी गई थी उसे भी आनन फानन में दो दिन पहले ही लगाया गया है जिसकी जांच अधिकारियों ने फोटो भी ली है।
^हमने शिकायतकर्ताओं को साथ लेकर निरीक्षण किया है और कुछ लोगों की उपस्थित भी दर्ज की है। सरपंच को एक अप्रैल को रिकार्ड सहित कार्यालय में बुलाया है, इसकी रिपोर्ट उच्चाधिकारियों को भेजेंगे।'' राजाराम,जांच अधिकारी सिरसा

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज