BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

रविवार, मार्च 15, 2015

बिजली गिरने से एक घर में दरारें, आधा दर्जन घरों के बिजली उपकरण खराब

बरसात ने बढ़ाई किसानों की मुश्किलें

डबवाली । शनिवार को हुई बारिश ने अन्नदाताओं की धड़कन बढ़ा दी है। पहले हुई बारिश की मार झेल रहे किसानों के लिए चेपा रोग सिरदर्द बना हुआ था। एक बार फिर हुई बारिश ने इस रोग के बढ़ने की आशंका पैदा कर दी है। वहीं शहर के वार्ड सात के अंतर्गत आने वाले प्रेमनगर में आसमानी बिजली गिरने से एक घर में दरारें आ गई। आधा दर्जन घरों की बिजली गुल हो गई। बिजली उपकरण खराब हो गए।
दिन में छा गया अंधेरा
सुबह खिली धूप दोपहर होते-होते गायब हो गई। आसमान को काले बादलों ने ढक लिया। विजिबलिटी कम होने के कारण वाहनों की लाइट ऑन हो गई। इसी दौरान प्रेमनगर में कश्मीरी लाल मोंगा के घर आसमानी बिजली गिर गई। उस समय उनकी पत्नी आशा रानी घर के मुख्य द्वार में खड़ी थी। बिजली तीन बार गिरी। पहली बार बिजली के मेन स्विच पर गिरी। दूसरी बार दीवार से टकराई। तीसरी दफा लोहे के दरवाजे से टकरा गई। बिजली गिरने से बिजली उपकरण जलने के साथ घर की बिजली गुल हो गई। आशा रानी बाल-बाल बच गई। साथ लगते पूर्ण, संपूर्ण, देवेंद्र तथा खुशी मोहम्मद के घरों में भी बिजली उपकरण जल गए। दूसरी ओर शाम तक आसमान में काले बादल छाए रहने से वाहनों की लाइट ऑन रही।
किसानों को नुकसान
गेहूं पर पहले ही चेपा रोग ने हमला बोला हुआ है। ऐसे में बारिश ने इस रोग को संजीवनी देने का काम किया है। कृषि विशेषज्ञ सुखदेव सिंह ने बताया कि गेहूं पर काला, हरा चेपा फैला हुआ है। चेपा पौधे का रस चूस लेता है। इससे पौधे पर फूल नहीं आता। बारिश की वजह से नमी अधिक रहेगी। ऐसे में चेपा रोग ज्यादा फैल सकता है।
फसल बिछी, किसान बाेले छोटा रहेगा दाना
नाथूसरी चोपटा (सिरसा)। चोपटा क्षेत्र में मौसम में आए अचानक बदलाव ने क्षेत्र के किसानों की नींद उड़ा दी है। शनिवार शाम को अचानक चली तेज आंधी व बे मौसमी बारिश से पकने के कगार पर खड़ी रबी की फसल के लिए घातक सिद्ध हो रही है। किसानों का कहना है कि बारिश के साथ तेज हवा चलने से हजारों एकड़ में खड़ी गेहूं, सरसों व चने की फसल को काफी नुकसान हुआ है। करीब चार बजे पैतालिसा क्षेत्र में अचानक तेज आंधी चलने लगी व बाद में बारिश होने सरसों व गेहूं की फसल जमीन पर बिछ गई। क्षेत्र के किसान ओमप्रकाश, रामकुमार, दूनी राम, श्रवण कुमार, सुभाष चंद्र, जगदीश का कहना है कि फसल जमीन पर बिछने से गेहूं का दाना छोटा होगा।
और उपज कम होगी। किसान विक्रम सिहं, मदन लाल का कहना है कि सरसों की फसल की डालियां टूट गई हैं। चने की फसल पर भी आंधी व तूफानी बारिश नुकसानदेह साबित हुई।

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज