BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

गुरुवार, मार्च 12, 2015

घटिया सामग्री लगाने पर की नारेबाजी

रेलवे की बनाई सड़कें टूटीं लोगों ने जांच की मांग की 


डबवाली | शहरके आदर्श रेलवे स्टेशन पर जीएम के दौरे को लेकर रेलवे स्टेशन, मेन गेट पार्किग स्थल के सामने सड़कें बनाई गई थीं। इनमें घटिया सामग्री का प्रयोग करने के कारण ये सड़कें अभी से टूटने लगी हैं। इसमें लगी बजरी सड़क पर बिखरने लगी है जिससे दुर्घटना होने का खतरा भी रहता है।
शहरवासी सतीश कुमार, सोहन लाल, रमेश कुमार, आत्माराम ने बताया कि जीएम के निरीक्षण से पहले रेलवे विभाग की ओर से रेलवे स्टेशन बाहर पार्किंग स्टेशन पर सड़क निर्माण किया गया था। उन्होंने बताया कि एक बार रोड निर्माण होने पर रोड पांच साल तक चलती है। परंतु रेलवे स्टेशन पर रोड निर्माण में घटिया सामग्री का प्रयोग होने के कारण रोड 20 दिनों में ही जगह-जगह से टूटनी शुरू हो चुकी है। बजरी रोड पर फैलने के कारण दो पहिया वाहनों के स्लिप होने का खतरा भी रहता है। लोगों ने रेलवे के उच्चाधिकारियों से मांग की है कि निरीक्षण करवाकर ठेकेदारों के खिलाफ कार्रवाई की जाए। स्टेशन मास्टर सुशील कुमार ने बताया कि रेलवे रोड निर्माण कार्य उच्चाधिकारियों के अंतर्गत होता है। उन्हें इस बारे में सूचित किया जाएगा।

विरोध | पाइप लाइन डालने में गड़बड़ी की शिकायत पर पहुंचे अधिकारी 

डबवाली-नईअनाज मंडी के बी-ब्लॉक में पानी निकासी पाइप डालने के लिए की गई खुदाई निर्माण कार्य में बुधवार को भी घटिया सामग्री इस्तेमाल किए जाने पर आढ़ती बिफर गए। सरकार तथा मार्केटिंग बोर्ड के खिलाफ नारेबाजी करते हुए उन्होंने प्रदर्शन किया। वहीं भास्कर में खबर प्रकाशित होने के बाद सिरसा से मार्केटिंग बोर्ड के एसडीओ ओम प्रकाश शहर पहुंचे। निर्माण कार्य का निरीक्षण करने के बाद अनियमितताओं को लेकर उन्होंने ठेकेदार मनदीप को निर्देश दिए।
प्रदर्शनकारियों को नेतृत्व कर रहे आढ़ती एवं पूर्व नपा प्रधान टेकचंद छाबड़ा ने कहा कि आढ़तियों के सामने ही ठेकेदार निर्माण कार्य में घटिया सामान लगा रहा है। मंडी गेट के नजदीक एक टूटी हुई पाइप डालकर उसे मिट्टी के नीचे दबा कर छिपा दिया। कई अन्य जगह पर भी ऐसा किया गया। डाली गई पाइपों में मिट्टी भर चुकी है इनमें पानी की निकासी कैसे हो सकती है। पिछले दिनों आई बारिश के कारण कुछ चेंबर भी टूट गए हैं। कई बार ध्यान दिलाए जाने के बावजूद अधिकारी ठेकेदार सुनवाई नहीं कर रहे। आढ़ती मंगल चंद सेठी, अशोक, कृष्ण मेहता, नरेश कुमार, सुभाष अग्रवाल, विकास बंसल, कृष्ण छाबड़ा ने नारेबाजी कर आरोप लगाए। बाद में निरीक्षण के लिए पहुंचे मार्केटिंग बोर्ड के एसडीओ ओमप्रकाश को निर्माण कार्य में बरती जा रही अनियमितताएं दिखाई गईं। एसडीओ ने ठेकेदार को टूटी पाइपें बदलने तथा धंसे हुए चेंबरों को दोबारा बनाने की हिदायत दी।
^निर्माण कार्य पर लगातार नजर रखी जाएगी किसी प्रकार की अनियमितता ठेकेदार को नहीं करने देंगे। उसे टूटी पाइप बदलने तथा चेंबर दोबारा बनाने के निर्देश दिए हैं। नए टेंडर नियमों के मुताबिक कार्य पूर्ण होने के 15 महीनों के बाद ठेकेदार की गारंटी होती है। कोई समस्या आई तो उसी से ठीक करवाया जाएगा।'' 
ओमप्रकाश, एसडीओ, मार्केटिंग बोर्ड


कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज