BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

गुरुवार, मार्च 19, 2015

गोल चौक से गुजरना मौत के कुंए से होकर आने से कम नहीं!

डबवाली।
डबवाली के गोल चौंक से गुजरना किसी मौत के कुंए से हो कर आने से कमतर साबित नहीं होता है। तीन किलो मीटर रेडियस दायरे से गुजरते समय वाहन चालकों का जब सामना एक से डेढ़ फूट तक गहरे गढ्ढे जो कि तीन चार मीटर तक फैल चुके है, से होता है तब उन्हें नाकों चने चबाने पड़ते है। यह चौंक देश के दो महत्वपूर्ण राष्ट्रीय राज मार्ग नंबर-9 और 64 को जोड़ता है लेकिन इसकी हालत देखते हुए यह लावारिस सा प्रतीत हो रहा है। रामां मंडी स्थित गुरुगोबिंद सिंह रिफायनरी और बठिंडा तथा सूरतगढ़ सेना की छावनी को जोडऩे वाले इस मार्ग पर भारी वाहनों का लगातार दवाब बना रहता है। इस उबड खाबड़ रास्ते को पार करते समय वाहन आपस में टकरा रहे है जो उनके झगड़ों के साथ-साथ जाम का भी कारण बन रहे है। मंगलवार को एक ट्रक तथा अल्टो कार इस चौंक के गढ्ढों को पार करते समय आपस में टकरा गये जिससे करीब आधा घंटे तक चौंक पर जाम लगा रहा । चौंक पर साइकिल रिपेयर का काम करने वाले मंगल सिंह का कहना है कि यहां पर वाहनों का आपस में टकराना और फिर जाम लगना रोज का काम हो गया है। जाम के दौरान वाहनों के बड़े-बड़े हार्न की आवाजों से उनके कान पक गये है वहीं इन गढ्ढे के कारण मोटर साइकिल और स्कूटर चालक हादसों के कारण घायल हो रहे है। सबसे ज्यादा समस्या स्कूल जाने वाले विद्यार्थियों को आ रही है। स्कूल जाते समय यहां से गुजना उनके लिए परीक्षा देने से कम नहीं है। बहरहाल यहां के लोगों को इसकी मुरम्मत का इंतजार है।टेडरों हो चुके है लेकिन पहले होगी रिपेयरइस बारे में संपर्क करने पर एनएच विभाग के एसडीओ रवि मोंगा ने बताया कि एनएच 9 को चार मार्गीय बनाने के टेंडर हो चुके है। लेकिन इसे बनाने में अभी समय लगेगा। उन्होंने बताया कि इससे पहले जनता की समस्या को देखते हुए इसकी रिपेयर करवाई जायेगी। आज ही विभाग के कनिष्ठ अभियंता इसका दौरा कर जायजा लेंग |

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज