Young Flame Young Flame Author
Title: कांग्रेस नेता के अस्पताल में 50 भ्रूण की करवाई गई लिंग जांच
Author: Young Flame
Rating 5 of 5 Des:
लिंग जांच मामले में सामने आया एक बड़े नेता का नाम, आरोपी ने कहा #dabwalinews.com डबवाली। लिंग जांच करते पकड़े गए गांव घुकांवाली निवा...
लिंग जांच मामले में सामने आया एक बड़े नेता का नाम, आरोपी ने कहा
#dabwalinews.com

डबवाली। लिंग जांच करते पकड़े गए गांव घुकांवाली निवासी जगदीश गोदारा ने पुलिस के समक्ष डबवाली के एक बड़े कांग्रेस नेता का नाम उगला है। जो अस्पताल चलाता है जहां उसने 50 भ्रूण लिंग जांच करवाए थे। इसके अतिरिक्त मंडी किलियांवाली, सिरसा, औढ़ां तथा संगरिया में अस्पताल की आड़ में गोरखधंधा चला रहे डॉक्टर भी शामिल है। पुलिस ने आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास शुरू कर दिए हैं।
दस साल से गोरखधंधा
आरोपी ने खुलासा किया है कि करीब दस साल पहले वह सिरसा में सरकुलर रोड स्थित अल्ट्रासाउंड केंद्र से लिंग जांच करवाता था। बाद में संगरिया के एक चिकित्सक से करवाने लगा। संगरिया में करीब 20 महिलाओं को लेकर गया था। आरोपी ने डबवाली के एक बड़े कांग्रेस नेता का नाम उगलते हुए बताया कि उसके अस्पताल में उसने 50 भ्रूण लिंग जांच करवाए थे। बाद में औढ़ां स्थित एक नर्सिंग होम से संपर्क साधा। चिकित्सक ने उसकी मुलाकात मंडी किलियांवाली के एक चिकित्सक से करवाई। चिकित्सक पैसों के लालच में औढ़ा तथा नाथूसरी चौपटा आकर लिंग जांच करने लगा। इसके बाद वह डॉ. जितेंद्र निवासी मोगा से मिला। 31 दिसंबर 2014 वे लोग गांव मांगेआना में मोबाइल अल्ट्रासाउंड चलाते हुए पकड़े जाने गए। जेल में डॉ. जितेंद्र ने उसे डॉ. सुनित मित्तल के बारे में जानकारी दी। जमानत के बाद उसने मित्तल से संपर्क कर लिंग जांच का धंधा पुन: शुरू कर लिया। इस धंधे में सिरसा स्थित मेडिकल संस्थानों के कारिंदे, डबवाली स्थित एक अस्पताल का कंपाउंडर व लैब का मालिक शामिल हैं। पुलिस पूछताछ में आरोपी ने यह भी बताया कि उसका भाई नशे का कारोबार करता है। शहर थाना पुलिस ने डॉ. सुनित मित्तल तथा आरएमपी जगदीश गोदारा की निशानदेही पर दमदमा निवासी डॉ. संदीप को गिरफ्तार किया था। शुक्रवार को तीनों आरोपियों को पुलिस ने अदालत में पेश किया। मित्तल तथा गोदारा को अदालत ने न्यायिक हिरासत में भेज दिया। जबकि संदीप को एक दिन के रिमांड पर भेज दिया। रिमांड अवधि खत्म होने के बाद पुलिस ने उसे अदालत में पेश किया, जहां से उसे न्यायिक हिरासत में भेजने के आदेश दिए।
आरोपियों ने जिन नामों का खुलासा किया है, उन लोगों को पकड़ने के लिए संदिग्ध स्थानों पर छापामारी की जा रही है।
-कैलाश चंद्र, जांच अधिकारी, शहर थाना, डबवाली
पुलिस ने अभी चालान पेश नहीं किया है। जैसे ही रिपोर्ट आएगी, संबंधित चिकित्सकों के खिलाफ कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।
-डॉ. सुरेंद्र नैन, सीएमओ, सिरसा
प्रतिक्रियाएँ:

About Author

Advertisement

एक टिप्पणी भेजें

 
Top