Young Flame Young Flame Author
Title: नौवीं, ग्यारहवीं के विद्यार्थियों के बहाने अध्यापकों का टेस्ट
Author: Young Flame
Rating 5 of 5 Des:
25 से 31 जुलाई तक होंगे मंथली असेसमेंट टेस्ट, रिजल्ट खराब हुआ तो संबंधित टीचर पर गिर सकती है गाज #dabwalinews.com डबवाली । हरियाणा सरक...
25 से 31 जुलाई तक होंगे मंथली असेसमेंट टेस्ट, रिजल्ट खराब हुआ तो संबंधित टीचर पर गिर सकती है गाज
#dabwalinews.com
डबवाली । हरियाणा सरकार ने प्राथमिक एवं मिडिल स्कूलों की तर्ज पर अब कक्षा नौवीं तथा ग्यारहवीं के विद्यार्थियों का शैक्षणिक ज्ञान जानने के लिए मंथली असेसमेंट टेस्ट शुरू कर दिए हैं। जुलाई माह के टेस्ट 25 से 31 जुलाई 2015 तक होंगे। शिक्षा विभाग का कहना है कि खराब रिजल्ट आने पर संबंधित टीचर पर कार्रवाई होगी। पूर्ववर्ती राज्य सरकार ने एक महत्वपूर्ण निर्णय लेते हुए सेमेस्टर सिस्टम समाप्त कर दिया था। सेमेस्टर की जगह पर मंथली टेस्ट शुरू किए हैं। सरकार का मकसद बच्चों के साथ-साथ अध्यापकों की परीक्षा माना जा रहा है।
नौवीं तथा ग्यारहवी कक्षा के टेस्ट संबंधी सेकेंडरी एजूकेशन हरियाणा, पंचकूला के डिप्टी डायरेक्टर वंदना गुप्ता ने प्रदेश के सभी जिला शिक्षा अधिकारियों को आदेश जारी किए हैं। जुलाई माह के मंथली टेस्ट के लिए प्रश्न पत्र स्थानीय स्तर पर प्रिंसिपल की देखरेख में तैयार होंगे। अगस्त माह से प्रश्न पत्र डायरेक्टर स्कूल एजूकेशन की ओर से आना शुरू हो जाएंगे। प्रश्न पत्र कुल 20 अंक का होगा। नौवीं तथा ग्यारहवीं के बच्चों के ज्ञान परीक्षण के लिए संबंधित माह में पढ़ाए गए सिलेबस में से 10 प्रश्न पूछे जाएंगे। जिनको हल करने के लिए 60 मिनट का समय मिलेगा। जिसमें 1-1 अंक वाले एमसीक्यू (अधिक विकल्प वाले) प्रश्नों की संख्या पांच होगी। इसके अतिरिक्त वेरि शॉर्ट आंसर तथा शॉर्ट आंसर वाले प्रश्नों की संख्या 4 रखी गई है। एक प्रश्न का उत्तर अधिक शब्दों में देना होगा।
परीक्षा के बाद उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन के बाद संबंधित अध्यापक को एक साल तक उपरोक्त पुस्तिकाओं की संभाल करनी होगी। डिप्टी डायरेक्टर ने अपने आदेशों में स्पष्ट किया है कि उत्तर पुस्तिकाओं का ओचक्क निरीक्षण किया जाएगा। विभाग को भेजे रिजल्ट तथा मौका पर कोई परिवर्तन मिला तो संबंधित अध्यापक के खिलाफ कार्रवाई होगी।
दसवीं तथा बारहवीं के रिजल्ट को बेहतर बनाने के लिए हरियाणा सरकार ने नौवीं तथा ग्यारहवी के विद्यार्थियों का मंथली असेसमेंट टेस्ट शुरू किया है। खराब रिजल्ट वाले अध्यापकों पर विभागी गाज गिर सकती है। संबंधित विद्यालयों को टेस्ट पहली पीरियड में लेना होगा। ताकि अन्य पीरियड प्रभावित न हो सकें। दो दिनों के भीतर मंथली टेस्ट की रिपोर्ट देनी होगी।
-संत कुमार, बीईओ, डबवाली
प्रतिक्रियाएँ:

About Author

Advertisement

एक टिप्पणी भेजें

 
Top