Young Flame Young Flame Author
Title: खाद का संतुलित प्रयोग करें किसान
Author: Young Flame
Rating 5 of 5 Des:
खेतों में पहुंचकर कृषि विकास अधिकारियों ने दी किसानों को जानकारी  #dabwalinews.com   डबवाली उपमंडल में बुधवार को बारिश के बाद...


खेतों में पहुंचकर कृषि विकास अधिकारियों ने दी किसानों को जानकारी
 #dabwalinews.com 
 डबवाली
उपमंडल में बुधवार को बारिश के बाद किसानों को खेतों में कीट प्रकाेप कुछ राहत की उम्मीद जगी है वहीं कृषि विकास अधिकारियों ने भी खेतों में जाकर किसानों को कीट नियंत्रण के लिए जागरूक किया। अधिकारियों ने किसानों को नरमा कपास की फसल में सफेद मक्खी के प्रकोप अन्य रस चूसने वाले कीटों की पहचान और रोकथाम के लिए किसानों को जानकारी दी।
अभियान के तहत बुधवार को गांव भावदीन, संगरसांघा, कुसुंबी, कोटली, माधोसिंघाना, खैरेकां सहित गांवों में कृषि अधिकारियों वीपी बैनीवाल श्रीराम ने किसानों को बताया कि किसान अपने खेत एवं आसपास की जगह से खरपतवार को नष्ट करें। उन्होंने बताया कि फसल में यूरिया खाद की संतुलित मात्रा का ही प्रयोग करें। इसके अलावा देखादेखी में सफेद मच्छर रोकने के इंतजाम के तौर पर एसीफेट एंव एसिटामिपरिड सहित अन्य दवाइयां मिलाकर स्प्रे कर रहें हैं। इसके बावजूद कीट नियंत्रण नहीं हो रहा है। जिसका कारण है कि उक्त पाउडर नरमा को बढ़वार के लिए तैयार करते हैं। जिससे सफेद मक्खी मक्खी के नियंत्रण की बजाय प्रकोप को बढ़ावा मिलता है। इसलिए किसान अपने एरिया के एडीओ से जानकारी के बाद ही उचित खाद कीटनाशकों को प्रयोग करें। उन्होंने किसानों को बताया कि किसान पहली ऑर्गेनिक तरीके से नीम दवाई का स्प्रे करें। इसके पश्चात डाइमिथोसट 350 एमएल तथा 1 लीटर निमिसिडिन मिलाकर 150 लीटर पानी का स्प्रे प्रति एकड़ करें। इसके बाद तीसरा छीड़काव बदलकर करें ताकि फसल का बचाव हो सके। इस मौके पर किसान सुलतान सिंह, राजेश कुमार, हरीश चंद्र, पालाराम, विनाेद अन्य माैजूद थे। 
प्रतिक्रियाएँ:

About Author

Advertisement

एक टिप्पणी भेजें

 
Top