Young Flame Young Flame Author
Title: दो बार रिपेयर हुए ट्रांसफार्मर से बिजली देने की तैयारी में निगम
Author: Young Flame
Rating 5 of 5 Des:
डबवाली में ब्लैक आउट छह साल पहले की गलती दोहरा रहा बिजली निगम डबवाली। ब्लैक आउट हुए 12 फीडरों का अंधेरा दूर करने के लिए बिजली निगम ...
डबवाली में ब्लैक आउट छह साल पहले की गलती दोहरा रहा बिजली निगम


डबवाली। ब्लैक आउट हुए 12 फीडरों का अंधेरा दूर करने के लिए बिजली निगम छह साल पहले हुई गलती की दोहराने जा रहा है। अब तक नया ट्रांसफार्मर रखने का दावा जताने वाले विभाग ने इस बार भी दो बार रिपेयर हो चुके ट्रांसफार्मर को फिट कर दिया है। सवाल उठता है कि पहले बना रिपेयर ट्रांसफार्मर छह साल तक चला था, अब यह कितनी देर चलेगा? इस ट्रांसफार्मर के रेडियेटर तक गल चुके हैं।
बुधवार शाम करीब साढ़े छह बजे 132केवी सबस्टेशन पर रखा 16एमवीए का ट्रांसफार्मर ठप हो गया। तीन दिन बीतने के बावजूद सबस्टेशन से 12 फीडरों बिजली आपूर्ति बहाल नहीं हो पाई है। निगम बेकार हो चुके ट्रांसफार्मर के स्थान पर नया ट्रांसफार्मर रखने की दलील दे रहा था। शुक्रवार को अचानक निगम ने गल रहे ट्रांसफार्मर को डबवाली में उतारकर फिट कर दिया। यह ट्रांसफार्मर दो बार रिपेयर हो चुका है। हालांकि ट्रांसफार्मर को निर्मित हुए अभी नौ वर्ष हुए हैं। दो बार रिपेयर हो चुका यह ट्रांसफार्मर अधिक लोड वाले डबवाली क्षेत्र में कितनी देर चलेगा, इस पर अभी से सवाल उठने शुरू हो गए हैं। चूंकि डबवाली में वर्ष 2009 में पहले ही 19 वर्ष पूर्व निर्मित हुआ ट्रांसफार्मर रखा गया था। जो मुश्किल से छह वर्ष काट सका है। शहर के साथ-साथ एपी फीडरों का लोड दिन ब दिन बढ़ रहा है। इसके बावजूद भी न तो निगम ने कोई सबक सीखा और न ही हरियाणा सरकार ने। दूसरी ओर डबवाली में हुए ब्लैक आऊट को दूर करने के लिए गांव देसूजोधा तथा शेरगढ़ स्थित 33केवी बिजलीघरों से बिजली देने के प्रयास भी नाकाफी साबित हो रहे हैं।
निगम ने जैसा ट्रांसफार्मर उपलब्ध करवाया है, वैसा फिट करवा रहे हैं। बेशक बाहर से ट्रांसफार्मर गल रहा हो, लेकिन भीतर से क्वाइल नई हैं। इससे ही बिजली आपूर्ति होनी हैं। मैं कोई कमेंट नहीं करना चाहता।
-आरएस ढुल, एसएसई, हरियाणा विद्युत प्रसारण निगम, डबवाली
यह हरियाणा विद्युत प्रसारण निगम का कार्य है। 132 केवी को 11केवी में कनवर्ट करने के लिए 16केवीए के ट्रांसफार्मर बनने बंद हो गए हैं। अब 132 केवी/33 केवीए के ट्रांसफार्मर बनने लगे हैं। पूरे हरियाणा में कहीं भी ऐसा ट्रांसफार्मर नहीं है। इसलिए एचवीपीएन को पुराना ट्रांसफर लगाना पड़ा है।
-एमआर सचदेवा, कार्यकारी अभियंता, दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम, डबवाली

प्रतिक्रियाएँ:

About Author

Advertisement

एक टिप्पणी भेजें

 
Top