Young Flame Young Flame Author
Title: पांच साल से लापता मास्टरजी को ढूंढ रहा विभाग
Author: Young Flame
Rating 5 of 5 Des:
अक्तूबर 2010 में एक दिन की छुट्टी पर गए थे, नहीं लौटे, एक साल पहले इस्तीफा भेजा #dabwalinews.com डबवाली। पांच साल पहले एक दिन की छुट्ट...
अक्तूबर 2010 में एक दिन की छुट्टी पर गए थे, नहीं लौटे, एक साल पहले इस्तीफा भेजा
#dabwalinews.com
डबवाली। पांच साल पहले एक दिन की छुट्टी लेकर गए मास्टरजी पुन: स्कूल नहीं लौटे। लापता अध्यापक को ढूंढते-ढूंढते हरियाणा शिक्षा विभाग थक गया है। विभाग ने इस अध्यापक पर एफआईआर दर्ज करवाने की तैयारी कर ली है। मामला गांव गंगा के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय का है।
सिरसा के रहने वाले नीरज बांगा बतौर गणित अध्यापक राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में कार्यरत थे। अक्तूबर 2010 में एक दिवसीय छुट्टी लेकर वे चले गए। इसके बाद कभी नहीं लौटे। विद्यालय प्रबंधन ने अध्यापक के हुडा सेक्टर सिरसा के पते पर कई बार पत्र भेजे। पत्र का जवाब आना तो दूर की बात भेजे गए पत्र पुन: वापस आ गए। पता चला कि घर पर ताला लटका हुआ है। यहां तक की अध्यापक ने शिक्षा विभाग को दिया अपना मोबाइल नंबर भी बंद कर दिया।
चार साल तक उधेड़बुन में रहने के बाद आखिरकार वर्ष 2014 में विभाग को सख्त निर्णय लेने के लिए मजबूर होना पड़ा। विभाग ने पुन: पत्र जारी करते हुए नौकरी से इस्तीफे के साथ-साथ एक माह का वेतन जमा करवाने तथा शपथपत्र देने के आदेश दिए। इस बार दिल्ली के पते से अध्यापक ने इस्तीफा के लिए अपना पत्र विभाग को भेज दिया। लेकिन इस्तीफे की शर्त को दरकिनार कर दिया। करीब एक साल से शिक्षा विभाग उपरोक्त अध्यापक के एक माह के वेतन तथा शपथ पत्र के इंतजार करने के बाद थक चुका है। विभाग ने गणित अध्यापक पर एफआईआर दर्ज करवाने की प्रक्रिया शुरू कर दी है।
पढ़ाई हो रही प्रभावित
लापता गणित अध्यापक को ढूंढकर पुन: स्कूल में लाने के लिए विभाग ने ऐड़ी चोटी का जोर लगा दिया। चूंकि विद्यालय के पास एकमात्र गणित अध्यापक नीरज बांगा के रूप में था। वर्तमान में स्कूल में छठी से बारहवीं तक छात्रों की संख्या करीब साढ़े छह सौ है। गणित अध्यापक न होने के कारण अन्य विषयों के अध्यापक नही बच्चों को गणित पढ़ा रहे हैं। जिसका सीधा प्रभाव बच्चों की शिक्षा पर पढ़ रहा है।
मामला शिक्षा विभाग के निदेशक के ध्यान में है। विभाग के पत्र के बाद ही गणित अध्यापक नीरज बांगा से जवाब तलब किया गया था। उन्होंने अपना इस्तीफा भेजा है। विभाग ने एक माह का वेतन तथा इस्तीफा से संबंधित शपथपत्र देने के लिए कहा था। यह अध्यापक ने नहीं किया। वर्तमान में अध्यापक कहां है, क्या कर रहा है, इसके बारे में मालूम नहीं। ऐसी सूरत में एफआईआर दर्ज करवाई जाएगी। आगामी कार्रवाई के लिए रिपोर्ट बनाकर उच्च अधिकारियों को भेजी जा रही है।
-संत कुमार बिश्नोई, बीईओ, डबवाली
प्रतिक्रियाएँ:

About Author

Advertisement

एक टिप्पणी भेजें

 
Top