Young Flame Young Flame Author
Title: बिजली सप्लाई व्यवस्था बदहाल इनवर्टर भी दे गए जवाब, दिन का चैन और रातों की नींद उड़ी
Author: Young Flame
Rating 5 of 5 Des:
ग्रामीण फीडरों पर भी असर पड़ने से किसान चिंतित,  डबवाली  उपमंडल में बिजली सप्लाई व्यवस्था बदहाल होने से आमजन को सोमवार दिनभर गर्...

ग्रामीण फीडरों पर भी असर पड़ने से किसान चिंतित, 
डबवाली 
उपमंडल में बिजली सप्लाई व्यवस्था बदहाल होने से आमजन को सोमवार दिनभर गर्मी और उमस का सामना करना पड़ा। रात को भी बिजली कट लगने से लोगों की नींद हराम हो गई। आगामी दिनों में भी मौसम उमस भरा रहने से बिजली समस्या में समाधान की उम्मीद नहीं है।
सोमवार को सुबह से शहर गांवों में बार-बार बिजली कट लगने से आमजन परेशान हो गए। इससे पहले रविवार को रातभर भी लंबे बिजली कटों से शहरवासियों को दुविधा का सामना करना पड़ा और उमस के कारण अधिकतर लोग सो नहीं आए। शहरवासी हजारी लाल, देवीदयाल, कपिल कुमार, अंजनी, राजदेवी, सुनीता अन्य ने बताया कि रविवार देर शाम काे खाना पकाने और खाने के वक्त बिजली गुल हो गई। इससे बेचैनी में रहे जबकि रात को सोने के वक्त भी बिजली का लंबा कट लग जाने से खुद बच्चों का सोना भी दूभर हो गया। सोमवार सुबह से फिर बिजली कट लगने शुरू हो गए और शाम तक लंबे कट लगने बदस्तूर जारी रहे।
इससे इन्वर्टर भी जवाब दे गए और शाम काे लोगों को अंधेरे गर्मी में परेशानी का सामना करना पड़ा। उपभोक्ताओं ने कहा कि बिजली निगम हर माह बिजली बिल अौर हर वर्ष बिजली के रेट बढ़ा देता है लेकिन सुविधाओं में कोई सुधार नहीं किया जाता। जिससे उपभोक्ताओं को ज्यादा बिल चुकाने पर भी परेशानी का सामना करना पड़ता है। इसलिए क्रमवार लोड वाले फीडरों को कट करना पड़ रहा है।
लोड बढ़ने से रही दिक्कत 
बिजली निगम के अधिकारियों ने बताया कि गर्मी और उमस के चलते तापमान और लोड बढ़ रहा है। इससे लाइनें ट्रिप हो रही हैं। लोड ज्यादा होने के चलते पीछे से भी कट लग रहे हैं। इसी कारण शहर गांवों की बिजली कट होने के साथ एग्रीकल्चर फीडर भी प्रभावित हो रहे हैं। हरियाणा बिजली वितरण निगम के एसएसई राजेंद्र ढुल ने बताया कि व्यापक स्तर पर एेसी परेशानी हो रही है। किसी भी एरिया में बारिश होने के बाद स्थिति को जल्द सुधार लिया जाएगा। जबकि इससे पहले लोड सैट करने के लिए प्रयास किए जा सकते हैं। जिसके लिए डीएचबीवीएन को शेरगढ़ देसुजोधा बिजलीघरों से शहरी फीडरों को जोड़कर लोड सैट किया जा सकता है। अभी शहर के फीडरों को लोड 890 एम्पियर से भी अधिक हो रहा है। इसे कम रखने के
बारिश की उम्मीद
मौसम विभाग के अनुसार आगामी तीन दिन तक इसी प्रकार उमस और बारिश होने की उम्मीद है। मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार प्री मानसून के लिए हवा का दबाव बन रहा है। जिससे उमस बढ़ने के बाद बारिश हो सकती है। इसके बाद मानसून सक्रिय होने से लोगों को गर्मी से राहत मिलेगी वहीं तीन दिन बाद फिर से धूप खिलने की उम्मीद है।
उमस से हुए बेहाल
पिछले दो दिन से बने उमस का मौसम सोमवार को दिनरात कायम रहा। जिससे आमजन को गर्मी से परेशानी का सामना करना पड़ा। आर्द्रता ज्यादा होने से पसीने से बचाव करना मुश्किल हो गया। दुकानदार रामसिंह, कालुराम, अंग्रेज सिंह, दिनेश चंद्र, हनुमान अन्य ने बताया कि उमस के चलते दुकान घरों में बैठे रहना भी दूभर हो गया है। ऐसे में बिजली नहीं होने से तो स्थिति ओर बदतर हो रही है। विभाग को इसके लिए व्यापक प्रबंधन करना चाहिए।
प्रतिक्रियाएँ:

About Author

Advertisement

एक टिप्पणी भेजें