Young Flame Young Flame Author
Title: ऑटो चालकों का अनुबंध खत्म, शहर में फैला कचरा
Author: Young Flame
Rating 5 of 5 Des:
    परेशानी |शहरवासी बोले-समधान नहीं हुआ तो एसडीएम से मिलेंगे   डबवाली शहर में कूड़ा उठाने के लिए नगरपरिषद के लगाए गए ...


 
 
परेशानी |शहरवासी बोले-समधान नहीं हुआ तो एसडीएम से मिलेंगे 
 डबवाली
शहर में कूड़ा उठाने के लिए नगरपरिषद के लगाए गए डंपिंग थ्री व्हीलर 20 दिनों से कूड़ा एकत्रित करने गलियों में नहीं जा रहे। इस कारण घरों में कूड़ा इक्ट्ठा हो गया है और अब लोगों को फेंकने की समस्या हो रही है। उल्लेखनीय है कि चालकों का अनुबंध खत्म होने के कारण उन्होंने थ्री व्हीलर कार्यालय में थमा दिए हैं।
शहर के सभी वार्डों में घर-घर जाकर कूड़ा उठाने के लिए नगर परिषद ने कई साल पहले पांच डंपिंग थ्री व्हीलर लिए थे। इन थ्री व्हीलरों को चलाने के लिए अनुबंध पर कर्मचारी रखे गए थे। 19 जून को कर्मचारियों का अनुबंध समाप्त हो गया जिससे उन्होंने काम करना बंद कर दिया थ्री व्हीलरों को नगरपरिषद कार्यालय में खड़ा कर दिया। ऐसे में घर-घर कूड़ा उठाने की नगरपरिषद की योजना भी अधर में लटक गई है। 20 दिनों से थ्री व्हीलर गलियों में नहीं आने से शहरवासियों के लिए घरों में प्रतिदिन इक्ट्ठा हो रहा कूड़ा फेंकने की समस्या गंभीर होने लगी है। इससे शहर की सफाई व्यवस्था भी बिगड़ने लगी है। कूड़ा फेंकने का कोई विकल्प नहीं होने के कारण लोग अपने डस्टबिन खाली प्लाटों सड़क किनारे खाली करने लगे हैं। इससे जहां-तहां कूड़े के ढेर लग रहे हैं।

19 जून को अनुबंध खत्म होने के कारण थ्री व्हीलर चलाने के लिए चालक नहीं हैं इसीलिए थ्री व्हीलर कूड़ा उठाने के लिए गलियों में नहीं भेज पा रहे हैं। नगरपरिषद ने मई माह में ही चालकों का अनुबंध बढ़ाने के लिए डीसी को पत्र भेज दिया था मगर वहां से अभी तक मंजूरी नहीं आई है। मंजूरी मिलने के बाद थ्री व्हीलर दोबारा चला दिए जाएंगे।'' राजकुमार,सफाई निरीक्षक, नगरपरिषद, डबवाली

पूर्व नगर पार्षद लवली मेहता, मुरारी लाल, रमेश, गुरदयाल सिंह, बिमला देवी, यशोदा, नरेश कुमार अन्य ने कहा कि एक तरफ सरकार सफाई अभियान पर जोर दे रही है। वहीं कूड़ा फेंकने की योजना पर ध्यान नहीं दे रही। बारिश के दिनों में इधर-उधर लग रहे कूड़े के ढेरों से बीमारियां फैलने का भी खतरा है। कूड़े को घर से बाहर फैंकना लोगों की मजबूरी है और कूड़ा फेंकने की सही व्यवस्था देना नगरपरिषद का काम है। पूर्व पार्षद लवली मेहता ने चेतावनी दी कि यदि जल्द ही थ्री-व्हीलर चलाकर घरों से कूड़ा उठाने का प्रबंध नहीं किया तो शहरवासी लामबंद होकर एसडीएम से मिलेंगे। 
प्रतिक्रियाएँ:

About Author

Advertisement

एक टिप्पणी भेजें

 
Top