Young Flame Young Flame Author
Title: लावारिस पशु ने ली एक और जान
Author: Young Flame
Rating 5 of 5 Des:
#dabwalinews.com डबवाली। बुधवार सुबह गांव मसीतां के नजदीक लावारिस पशु ने एक परिवार का सहारा छीन लिया। जिला सिरसा में प्रशासनिक लापरवाही क...
#dabwalinews.com
डबवाली। बुधवार सुबह गांव मसीतां के नजदीक लावारिस पशु ने एक परिवार का सहारा छीन लिया। जिला सिरसा में प्रशासनिक लापरवाही के चलते यह 18वीं मौत है। मृतक हरियाणा शिक्षा विभाग में बतौर लिपिक कार्यरत था। हादसे के दौरान वह ड्यूटी पर जा रहा था। मृतक के बेटे के बयान पर पुलिस ने इत्तफाकिया मौत की कार्रवाई अमल में लाई है। गांव मौजगढ़ निवासी 42 वर्षीय कमलजीत सिंह राजकीय उच्च विद्यालय मसीतां में बतौर लिपिक कार्यरत था। सुबह करीब साढ़े सात बजे वह अपने बेटे अर्शपिंद्र के साथ ड्यूटी करने के लिए आ रहा था। कार को वह खुद चला रहा था। गांव मसीतां के नजदीक कार के आगे गाय आ गई। उसे बचाते हुए कार डबवाली-ऐलनाबाद मार्ग के बीचोबीच बने चौक से टकरा गई। हादसे में वह बुरी तरह से जख्मी हो गया। जबकि उसका बेटा बाल-बाल बच गया। ग्रामीणों ने बाप-बेटा को बाहर निकाला। इसी दौरान कार को आग लग गई। ग्रामीणों ने आग पर काबू पाया। बस अड्डा पर खड़े राजकीय उच्च विद्यालय के इंचार्ज रणजीत सिंह ने स्टाफ तथा ग्रामीणों की मदद से उसे उपचार के लिए डबवाली के सिविल अस्पताल में दाखिल करवाया। चिकित्सक ने उसे मृत घोषित कर दिया। मृतक के इकलौते बेटे अर्शपिंद्र ने बताया कि उसके पिता दो दिन की छुट्टी काटने के बाद ड्यूटी पर आ रहे थे। उल्लेखनीय है कि लावारिस पशुओं के चलते अभी तक जिले में 18 लोगों की मौत हो चुकी है। इसके बाद भ्‍ाा अभी तक प्रशासन ने इसके लिए कोई पुख्ता प्रबंध नहीं किए हैं।
प्रतिक्रियाएँ:

About Author

Advertisement

एक टिप्पणी भेजें

 
Top