Young Flame Young Flame Author
Title: आढ़ती की दुकान से ढाई लाख ले भागे कार सवार, दुकानदार भड़के
Author: Young Flame
Rating 5 of 5 Des:
#dabwalinews.com कालांवाली। अनाज मंडी में एक आढ़ती की दुकान से वीरवार को अज्ञात लुटेरे रुपयों से भरा बैग लूटकर फरार हो गए। घटना के ब...

#dabwalinews.com

कालांवाली। अनाज मंडी में एक आढ़ती की दुकान से वीरवार को अज्ञात लुटेरे रुपयों से भरा बैग लूटकर फरार हो गए। घटना के बाद मंडी में सनसनी फैल गई। व्यापारी के पुलिस को सूचना देने के बाद कालांवाली पुलिस मौके पर पहुंची आरै मौके का निरीक्षण किया। घटना को लेकर आढ़ती एसोसिएशन ने मंडी बंद कर पुलिस के खिलाफ नारेबाजी कर रोष जताया।
ऐसे दिया वारदात को अंजाम
अनाज मंडी में एक आढ़त फर्म के मालिक ओम प्रकाश करीब 10 बजे दुकान पर पहुंचे। वह दुकान में पूजा-पाठ कर रहे थे तभी एक युवक दुकान में आया और दुकान के काउंटर पर रखा थैला लेकर फरार हो गया। आढ़ती ओम प्रकाश के अनुसार थैले में करीब ढाई लाख रुपये व जरूरी कागजात थे। लुटेरे उसकी दुकान से थैला लेकर बाहर खड़ी कार में सवार होकर फरार हो गया। उन्होंने लुटेरों का पीछा भी किया, लेकिन लुटेरे हाथ नहीं आए। लूट की सूचना पुलिस को दी गई। पुलिस मौके पर पहुंची, लेकिन तब तक लुटेरे पुलिस की पहुंच से दूर जा चुके थे।
अनाजमंडी बंद कर जताया रोष
क्षेत्र में लगातार हो रही लूट की घटनाओं को लेकर आढ़तियों ने मंडी बंद करके अपना रोष जताया। विरोध करने वालों मेें आढ़ती एसोसिएशन के प्रधान संजीव बांसल, सुरेंद्र नेहरू, कैलाश सोनी, महेंद्र जैन, पिंटा ठेकेदार, हरीश रोडी, बिट्टू असीर, विनोद मितल, श्याम सुंदर, चरण दास, नामी महेश्वरी, मोहन सिंह उपस्थित थे।
वहीं, पुलिस व्यापारी की शिकायत पर लुटेरों की तलाश में जुट गई और मंडी में मुख्य मार्ग पर निजी स्थानों पर लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली। मामले की जांच कर रहे एसआई रामकुमार ने बताया कि पुलिस ने आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है। पीड़ित की शिकायत पर मामला दर्ज कर लिया गया है।
सात मार्चः मंडी में बलवंत सिंह नामक व्यक्ति की गाड़ी छीनी। 28 अप्रैल ः आढ़ती की कार व लोहा व्यापारी से कार छीनी। 15 मई ः जूता दुकानदार से वरना गाड़ी छीनी व उसी दिन एक महिला की बालियां छीनी गईं। 15 दिन पहले मंडी के एक चिकित्सक की चेन छीनी, पांच दिन पहले किरयाणा दुकानदार से लूटपाट की गई। इसके अलावा भी कई ऐसे छोटे मामले हैं जिनको लेकर पुलिस की कार्रवाई पर सवालिया निशान लग रहे हैं।
प्रतिक्रियाएँ:

About Author

Advertisement

एक टिप्पणी भेजें