Young Flame Young Flame Author
Title: बाल मजदूरों की तलाश में गई टीम का घेराव
Author: Young Flame
Rating 5 of 5 Des:
अधिकारियों ने भागकर छुड़ाया पीछा, दुकानदारों ने रोष स्वरूप दुकानें की बंद, थाने में हुआ समझौता  #dabwalinews.com कालांवाली। सरकार ...
अधिकारियों ने भागकर छुड़ाया पीछा, दुकानदारों ने रोष स्वरूप दुकानें की बंद,
थाने में हुआ समझौता
 #dabwalinews.com

कालांवाली। सरकार की ओर से शुरू किए गए ऑपरेशन मुस्कान के तहत जिला बाल संरक्षण विभाग की टीम वीरवार को मंडी स्थित दुकानों पर जांच के लिए पहुंची। जांच के दौरान टीम को दुकानदारों के गुस्से का शिकार होना पड़ा। टीम की कार्रवाई को लेकर दुकानदारों ने दुकानें बंद कर रोष जताया और अधिकारियों की गाड़ी का घेराव किया। टीम ने भाग कर पीछा छुड़वाया।
जिला बाल संरक्षण विभाग की एक टीम दुकानों पर कार्य कर रहे नाबालिग बच्चों की जांच करने पहुंची थी। टीम का नेतृत्व विभाग की अधिकारी मीनाक्षी कर रही थीं। उनके साथ महिला पुलिसकर्मी सादी वर्दी में और दो पुलिस कर्मी व दो अन्य कर्मचारी शामिल थे। टीम ने कई दुकानों पर जाकर जांच की। इनमें से दो दुकानों पर नाबालिग बच्चे पाए गए, जिन्हें चेतवानी व निर्देश दिए गए। जब टीम रेलवे फाटक के पास स्थित एक वैरायटी स्टोर पर पहुंची तो दुकानदार ने टीम द्वारा की जा रही कार्रवाई का विरोध किया। अन्य दुकानदार भी वहां एकत्रित हो गए ओर कार्रवाई का विरोध कर दुकानें बंद कर रोष जताया। मामला बढ़ता देख टीम के सदस्य गाड़ी में बैठ गए। इस पर भीड़ ने गाड़ी को घेर लिया, लेकिन चालक गाड़ी को भगाकर थाना में ले गया।
दुकानदारों ने आरोप लगाया कि विभाग की टीम नाबालिग बच्चों के नाम पर दुकानदार को डराती है और सुविधा शुल्क मांगते हैं। नहीं देने पर कारवाई करने की धमकी देते हैं। बाद में दुकानदार थाने पहुंचे। मामला बढ़ता देख भाजपा नेता राजेंद्र सिंह देसूजोधा मौके पर पहुंचे और मामले की जानकारी ली।शाम तक चले इस घटनाक्रम में राजेंद्र सिंह देसूजोधा, डीएसपी संता सिंह ने दुकानदारों को आश्वासन दिया कि विभाग व प्रशासन उनके खिलाफ कोई कारवाई नहीं करेगा और दुकानदार द्वारा विभाग के नियमों की पालना करने का आश्वासन देने के बाद दोनों पक्षों में समझौता करवाया गया। मौके पर पूर्व पालिका प्रधान तरसेम स्टार, बोबी सिंगला, बब्बू माहेश्वरी, विशाल, सोनू शर्मा, छांगा शर्मा, नीटा बांसल, राजू सोनी, अशोक कुमार, जगन नाथ, दुल्ला लुहानी उपस्थित रहे।

प्रतिक्रियाएँ:

About Author

Advertisement

एक टिप्पणी भेजें

 
Top