Young Flame Young Flame Author
Title: सीएम फ्लाइंग की डबवाली में दस्तक
Author: Young Flame
Rating 5 of 5 Des:
 नगर परिषद में हुए घोटाले की जांच करने आई टीम, सामान का रिकॉर्ड तलब किया #dabwalinews.com डबवाली । नगर परिषद में हुए घपलों की जांच के ...
 नगर परिषद में हुए घोटाले की जांच करने आई टीम, सामान का रिकॉर्ड तलब किया
#dabwalinews.com
डबवाली । नगर परिषद में हुए घपलों की जांच के लिए शुक्रवार को सीएम फ्लाइंग ने एक बार फिर शहर में दस्तक दी। 11 बिंदुओं पर जांच कर रही टीम ने गलियों के बाद स्ट्रीट लाइट तथा मिट्टी भराई के कार्यों की जांच की।
जांच अधिकारी गुरमीत सिंह चोटियां तथा पुलिस हाऊसिंग कार्पोरेशन की इलेक्ट्रिक विंग के जेई नवदीप सिंह के नेतृत्व में तीन सदस्यीय टीम सुबह करीब 11 बजे डबवाली नगर परिषद में पहुंची। टीम ने वर्ष 2010 से शिकायत अवधि तक शहर में लगी स्ट्रीट लाइट, खरीदे गए सामान का रिकॉर्ड नगर परिषद से तलब किया। बाद में उपरोक्त लाइटों की वेरिफिकेशन के लिए शहर में निकल गई। टीम भवन निरीक्षण सुमित ढांडा, जेई महेंद्र तथा जेई सतपाल को लेकर बठिंडा रोड, सिरसा रोड तथा चौटाला रोड पर गई। टीम ने उपरोक्त मार्गों पर लगे बिजली के पोल की गिनती की। स्ट्रीट लाइट की वीडियोग्राफी की। इसके बाद टीम कबीर बस्ती में पहुंची। टीम ने महक हत्याकांड के बाद कबीर बस्ती मार्ग पर लगाई गई स्ट्रीट लाइटों का निरीक्षण किया। बताया जा रहा है कि एक पोल तथा लाइट लगाने पर करीब बीस हजार रुपये खर्च किए गए हैं। जबकि सभी पोलों की हालत दयनीय हो चुकी है। इतनी घटिया क्वालिटी प्रयोग की गई है कि पोल बीच में से ही तिरछे हो गए हैं। इसके बाद टीम ने वार्ड नं. 13 की चर्चित गली वाल्मीकि मंदिर संबंधी रिकॉर्ड जनस्वास्थ्य विभाग से तलब किया। रिकॉर्ड में खुलासा हुआ है कि गली में पाईप लाइन डालने का कार्य हुआ था। सीवरेज नहीं बिछाया गया। रिपोर्ट आने से पहले एक तथाकथित नेता तथा ठेकेदार गली में सीवरेज लाईन का कार्य होने की दुहाई दे रहे थे। टीम देर शाम तक डबवाली में रूकी रही। इस दौरान उपरोक्त जेई के ब्यान कलमबद्ध किए।
11 बिन्दुओं की जांच
स्ट्रीट लाईट के संबंध में नगर परिषद ने अधूरा रिकॉर्ड दिया है। शेष रिकॉर्ड मांगा गया है। रिकॉर्ड उपलब्ध होने के बाद संबंधित स्ट्रीट लाईट के बिलों की जांच की जाएगी। जनस्वास्थ्य विभाग ने पुष्टि की है कि वाल्मीकि मंदिर वाली गली में एक दफा पेयजल पाईप डाली गई थी। सीवेरज नहीं। ऐसे में वेरिफिकेशन की जाएगी कि क्या वास्तव में पुन: गली बनाने की जरूरत थी या फिर रिपेयर से काम चल सकता था। अभी जांच चल रही है। 11 बिंदुओं पर जांच होनी है।
-गुरमीत सिंह चोटियां, जांच अधिकारी, सीएम फ्लाइंग, हिसार
22वें दिन भी जारी रहा धरना
सिरसा। फर्जी गली निर्माण मामले में नगर परिषद के भ्रष्ट अधिकारियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर थाना शहर के समक्ष शुक्रवार को 22वें दिन क्रमिक अनशन व धरना दिया गया। इंटरनेशनल ह्यूमन राइट कौंसिल के जिला सचिव अमरजीत सिंह सोहल और वार्ड नंबर 11 के समाजसेवी राधेश्याम सैनी अनशन पर रहे। इस अवसर पर हरियाणा रोडवेज सिरसा डिपो के प्रधान मदन लाल खोथ, व्यापारी नेता मोहनजीत सिंह, राधेश्याम सैनी, हरियाणा पंजाबी मंच के प्रांतीय महासचिव देवेंद्र टक्कर, हरियाणा रोडवेज सिरसा डिपो के सचिव सुरजीत अरोड़ा, रतिराम थे।
प्रतिक्रियाएँ:

About Author

Advertisement

एक टिप्पणी भेजें