Young Flame Young Flame Author
Title: प्लाॅटों की बिक्री में करोड़ों की हेराफेरी,कोडिय़ों के दामों पर आवंटन करने का मामला
Author: Young Flame
Rating 5 of 5 Des:
#Dabwalinews.com डबवाली की प्रसिद्ध दी राजीव नगर गृह निर्माण सहकारी समिति लि. में करोड़ों रुपयों के प्लांट में कोडिय़ों के दामों पर आवंटन क...
#Dabwalinews.com
डबवाली की प्रसिद्ध दी राजीव नगर गृह निर्माण सहकारी समिति लि. में करोड़ों रुपयों के प्लांट में कोडिय़ों के दामों पर आवंटन करने का मामला सामने आया है। इस घोटाले में सोसायटी की प्रबंधक समिति के 5 सदस्यों सहित सोसायटी के तीन अन्य सदस्यों को भी प्लांट आवंटित किये गये है। मजेदार तथ्य यह भी है कि एक 200 वर्ग गज के प्लाट धारक को 220 वर्ग गज का प्लाट आवंटित कर दिया गया। इस घोटाले को अंजाम तक पहुंचाने वालों में ज्यादातर सरकारी या सेवानिवृत सरकारी कर्मचारी है।  इस आवंटन को लेकर सोसयाटी में विरोध के स्वर गूंज रहे है तथा सोसायटी के शेष सदस्यों ने इन प्लांटों के आवंटन को रोकने के लिए एआरओ विभाग तथा विभाग के रजिस्ट्रार को लिखित शिकायत दर्ज करवाई है। विभाग ने इस मामले को नोटिस में आते ही समिति का रिकार्ड कब्जे में लेकर जांच आरंभ कर दी है। विभाग के निरीक्षक नरेश कुमार गर्ग ने इस मामले में मंगलवार 15 सितंबर 2015 को सोसायटी के सदस्यों के ब्यान कलमबध किये जिसमें सदस्यों ने बताया कि प्रबंधक समिति के पांच सदस्यों सहित कुल आठ जनों को 1500 रुपये गज के हिसाब से प्लाट आवंटित किये गये है। जबकि वहां इस समय मार्केट रेट 15 हजार रुपये प्रति वर्ग गज से अधिक का रेट है। राजीव नगर प्रबंधक समिति के सदस्य दर्शन सिह सोनी, बलबीर सिंह, अधिवक्ता धर्मवीर कुलडिया, धर्मपाल मेहता, ज्योति तुल्सी, हरचरण सिंह अहलुवालिया, दविंद्र सिंह अहलुवालिया, विकास कुमार, रमन गोदारा, प्रमोद बागड़ी, जसकरण सिंह, दीदार सिंह कोच व राकेश भसीन ने बताया कि इस प्लाटों के आवंटन से जहां सोसायटी को करोड़ों रुपयों का नुकसान हुआ है वहीं इसके प्रस्तावों में ओवर राईटिंग कर छेडछाड़ की गई है। प्रधान और प्रबंधक समिति के सदस्यों ने अपने पद का दुरूपयोग किया है। इससे सोसायटी में ग्रीन बैल्ट और सुंदरता दोनो प्रभावित होंगे ही, आने जाने के लिए गलियां भी तंग हो जायेंगी। उन्होंने सहकारी समितियां विभाग के अधिकारी से इन प्रस्तावों को रद्द करने की मांग की है।
क्या है मामला
पिछले दो तीन सालों से रिकार्ड से सोसायटी में कुल आठ प्लांट रियासती दरों पर आवंटित किये गये है  जिनका कुल रकबा करीब 950 वर्ग गज बनता है सोसयटी के सदस्यों के अनुसार इन्हें नियम व कानून को ताक पर रख कर 1500 प्रति वर्ग गज के हिसाब से आवंटित किया गया है जबकि बाजार रेट 15हजार रुपये प्रति वर्ग तक का है। इस हिसाब से सोसयाटी को करीब साढे 14 लाख रुपये आये है जबकि बाजार भाव एक करोड़ चालिस लाख रुपये से ज्यादा का बनता है। अभी यह मामला विभाग के विचाराधीन है।

इनको हुए है प्लाट आवंटित
दी राजीव नगर गृह निर्माण सहकारी समिति में 7 सदस्यों को प्रबंधक समिति के तौर पर चुना गया था जिसमें से गुरजंट सिंह ने प्रबंधक समिति से त्याग पत्र दे दिया था इस समय 6 प्रबंध समिति के सदस्य है जिनमें एक दर्शन सोनी को छोड़ कर शेष पांच सदस्यों को प्लांट आवंटित हुए है। इसके अलावा तीन अन्य सदस्यों ने भी बहती गंगा में हाथ धोये है।
प्रबंधक समिति इन सदस्यों को आवंटित हुए है प्लांट
सोमजीत शर्मा प्रधान प्रबंधक समिति. -138 वर्ग गज,
निर्मल सिंह सदस्य प्रबंधक समिति 111 वर्ग गज,
श्रीमति राज रानी सदस्य प्रबंधक समिति 150 वर्ग गज,
कृष्ण नैन सदस्य प्रबंधक समिति 97 वर्ग गज
प्रीतम सिंह पटवारी सदस्य प्रबंधक समिति 20 वर्ग गज
इसके अलावा तीन अन्य इन सदस्यों को भी प्लाट आवंटित किये गये है
अमृत बांसल- 220 वर्ग गज
अनुकूल चौधरी- 148 वर्ग गज
श्रीमति रमेश चोपड़ा -63 वर्ग गज

 सोसायटी प्रधान ने टिप्पणी करने से किया इंकार
सोसायटी की प्रबंध समिति के प्रधान सोमजीत शर्मा ने इस मामले में संपर्क करने पर कोई भी टिप्पणी करने से इंकार किया है।

जांच जारी है निरीक्षक
इस मामले में सहकारी समितियां विभाग के निरीक्षण नरेश कुमार ने बताया कि उन्होंने सोसायटी का रिकार्ड कब्जे में ले लिया है। सोसयटी के सदस्यों के ब्यान ले लिया है। रिकार्ड का अवलोकन करने पर उसमें कई खामिया भी पाई गई है। रिकार्ड के साथ इसकी रिपोर्ट उच्चाधिकारियों को प्रेषित की गई है।

प्रतिक्रियाएँ:

About Author

Advertisement

एक टिप्पणी भेजें