BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

शुक्रवार, अक्तूबर 23, 2015

गोद लिए गुडियाखेड़ा में फैला डेंगू, नियंत्रण के लिए बजट नहीं


दावे करोड़ों के, फाॅगिंंग के लिए पैसा नहीं 
सौ से अधिक मरीज 
dabwalinews.com
जिले में बढ़ रहे डेंगू के प्रकोप से अब आदर्श गांव गुडियाखेड़ा भी प्रभावित हो गया है। पिछले एक सप्ताह के अंदर ही गांव में एक दर्जन से अधिक डेंगू के मरीज सामने चुके हैं। जिनका इलाज निजी अस्पताल में चल रहा है। डेंगू से प्रभावित मरीज बाबूलाल, सुमन, सावित्री, प्रेमप्रकाश, रोहताश, अजयपाल, सुदेश ने बताया कि गांव में डेंगू का प्रकोप फैला हुआ है।
मच्छरों की भरमार है। मगर स्वास्थ्य विभाग फॉगिंग करने के लिए भी गांव में नहीं आया है। इसलिए पिछले एक सप्ताह के अंदर गांव में दो दर्जन से अधिक डेंगू संभावित मरीज हो गए हैं। वहीं एक दर्जन के तो डेंगू की पुष्टि हो गई है। गांव गुडियाखेड़ा में फॉगिंग के लिए प्रशासन के पास बजट नहीं है।
विभाग ने पत्र लिखकर फॉगिंग के लिए सरपंच से मांगा 70 लीटर डीजल 15 लीटर पेट्रोल 
स्वास्थ्य विभाग ने गांव के सरपंच के नाम पत्र लिखा है। जिसमें फॉगिंग के लिए पंचायत से 15 लीटर पेट्रोल देने 70 लीटर डीजल देने की गुहार लगाई है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों का कहना है कि फॉगिंग के लिए उनके पास अलग से बजट नहीं आता। इसलिए जिस गांव में फॉगिंग करनी होती हैं। वहां की पंचायत को बजट उपलब्ध करवाना होता।
गुडियाखेड़ा में फॉगिंग के लिए स्वास्थ्य विभाग ने डीजल पेट्रोल की मांग करने पर ग्रामीण कृष्ण गोदारा, सुरेश शर्मा, जगदीप गोदारा, जयप्रकाश गोदारा, रामकिशन मंडा, विकास पारीक का कहना है कि ऐसे तो प्रशासन गांव में करोड़ों रुपये लगाने के दावे करता है। कागजों में एडीसी गांव को विकास के मामले में प्रदेश में प्रथम बता रही हैं। मगर जब बात फॉगिंग की आई तो स्वास्थ्य विभाग ने गांव की पंचायत को ही पत्र लिखकर डीजल पेट्रोल की मांग कर ली। आदर्श गांव में विकास की बातें सिर्फ कागजी हैं। ग्रामीणों ने डीसी से अपील की है कि गांव में जल्द फॉगिंग करवाएं ताकि डेंगू से बचा जा सके।
सिरसा में डेंगू के मरीजों की संख्या 100 के आंकड़े को पार कर गई है। स्वास्थ्य विभाग ने अपनी तरफ से जो कोशिश की वे सभी डेंगू आगे नाकाम हो रही है। अब विभाग पानी में डालने की गोलियां सावधानी बरतने का सुझाव दे रहा है। शहर में फोगिंग का कार्य पूरा हो चुका है, मगर मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। संभावित मरीजों का आंकड़ा तो लगातार बढ़ता ही जा रहा है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज