Young Flame Young Flame Author
Title: दो गांवों में पेयजल संकट गहराया पीने के लिए ग्रामीण खरीद रहे पानी
Author: Young Flame
Rating 5 of 5 Des:
Dabwalinews.com डबवाली। गांव लखुआना तथा आसाखेड़ा में पेयजल संकट गहरा गया है। दोनों गांवों में लोग खरीदकर पानी पीने को मजबूर हैं। गां...
Dabwalinews.com

डबवाली। गांव लखुआना तथा आसाखेड़ा में पेयजल संकट गहरा गया है। दोनों गांवों में लोग खरीदकर पानी पीने को मजबूर हैं।
गांव आसाखेड़ा निवासी संदीप जालंधरा, संजय चीनिया ने बताया कि जनस्वास्थ्य विभाग ट्यूबवेल का पानी सप्लाई कर रहा था। जिसकी वजह से गांव में बीमारी फैल रही थी। इसे बंद करवाने से बीमारी थम गई लेकिन पूरा गांव पानी के लिए त्राहि-त्राहि कर रहा है। पिछले दिनों जनस्वास्थ्य विभाग के आश्वासन के बाद उन्होंने धरना उठाया था। पेयजल किल्लत को लेकर पूर्व सरंपच रामकुमार एडीसी शरणदीप कौर से भी मिले थे। लेकिन समस्या जस की तस है। करीब एक सप्ताह से ग्रामीण मोल में पानी लेने को मजबूर हैं। गांव चौटाला से टैंकर आ रहा है। एक टैंकर की कीमत करीब 350 से 500 रुपये है। ग्रामीणों के अनुसार नहरी पानी उपलब्ध करवाने का जनस्वास्थ्य विभाग के पास कोई इंतजाम नहीं है। नहर भी करीब चार-पांच दिन बाद आनी है। ऐसे में मुश्किल खड़ी हो गई है।
जनसहयोग के साथ जलघर की डिग्गियां साफ करवाई जा रही हैं। पूरी तरह साफ होने के बाद पेयजल आपूर्ति सामान्य हो जाएगी।
-सतपाल रोज, जेई, जनस्वास्थ्य विभाग, डबवाली
प्रतिक्रियाएँ:

About Author

Advertisement

एक टिप्पणी भेजें

Atma Ram ने कहा… 5 अक्तूबर 2015 को 7:18 pm

आसाखेड़ा में गांव चौटाला से नहरी पानी का टेंकर जा रहा है लेकिन गांव चौटाला में आसाखेड़ा रोड पर डेरा सच्चा सौदा के पास के वाटर वर्क्स से गांव वासियों को काफी लम्बे समय से नहरी पानी के साथ ट्यूबवेल का पानी सप्लाई दिया जा रहा जो कि बिमारियों को न्योता दे रहे हैं | इस वाटर वर्क्स में सीधे नहर से ही पानी के लिए एक पाइप लाइन है परन्तु फिर भी वाटर वर्क्स वाले पानी कि कमी काक रोना रो कर गांववालों को ट्यूबवेल का गन्दा पानी सप्लाई दे रहे हैं जिस से आमजन कि रोग-प्रतिरोधक क्षमता कम हो रही है और वो दिन प्रतिदिन बिमारियों से घिरता जा रहा है |

 
Top