BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

शुक्रवार, जनवरी 29, 2016

कोऑपरेटिव बैंक में सेंध लगाकर एक लाख चोरी ,जांच चलती रही, पर सेफ खोली ही नहीं!

-- मामला दर्ज करने की हिदायत के काफी समय बाद खोलकर देखी सेफ 
-- सेफ खोलकर देखने पर पता चला करीब साढ़े 8 लाख तो सेफ में ही हैं

#dabwalinews.com
मानसा (नरिंदर सलूजा)
मानसा सेंट्रल कोऑपरेटिव बैंक की गांव उभ्भा ढिलवां शाखा को निशाना बनाते हुए चोरों ने बैंक से 1 लाख 6 हजार 879 रुपये की नगदी पर हाथ साफ कर दिया। वीरवार की रात चोरों ने बैंक की दीवार में सेंध लगाकर इस वारदात को अंजाम दिया।
चोरी की सूचना मिलते ही एसएसपी रघवीर सिंह संधू, डीएसपी रुपिंदर भारद्वाज व एसएचओ जोगा चन्नण सिंह ने पुलिस टीम समेत पहुंचकर जांच शुरू कर दी है।
बैंक मैनेजर गुरमेल सिंह ने बताया कि चोरों ने बैंक में रात के समय दीवार में सेंध लगाकर अंदर प्रवेश किया। इसके बाद बैंक में अलमारियों व सेफ को तोड़ डाला और 1 लाख 6 हजार 879 रुपये चोरी कर ली। चोरों ने बैंक में लगे कुछेक कैमरों व अन्य समान की भी तोड़फोड़ की। डीएसपी रुपिंदर भारद्वाज ने बताया कि जोगा पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर तफ्तीश शुरू कर दी है। फिलहाल बैंक में लगे सीसीटीवी की फुटेज में दो लोग नजर आएं है, जिसके आधार पर पुलिस जांच कर रही है।
 जिले के गांव उभ्भा में मानसा कोआपरेटिव बैंक की उभ्भा ढिलवां शाखा में चोरी की घटना की सूचना पाकर पहुंची पुलिस द्वारा जांच दौरान सेफ खोलकर देखने से पहले ही एफआईआर के आदेश दे दिए, लेकिन एन वक्त पर सीआईए स्टाफ के एएसआई द्वारा आकर सेफ खुलवाने पर पता चला सेफ में करीब साढे 8 लाख रुपये तो सुरक्षित पड़े हैं।  वीरवार को सुबह जैसे ही बैंक अधिकारियों को बैंक में चोरी की घटना का पता चला तुरंत आला अफसरों को सूचित करने के साथ पुलिस को भी सूचना दे दी गई। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस को बैंक अधिकारियों ने बताया कि सेफ में करीब 10 लाख रुपये की राशी थी। फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट टीम सहित पहुंची पुलिस ने चारों तरफ विभिन्न पहलुओं से बैंक की छानबीन की तथा अंत में पुलिस अफसरों ने कार्रवाई को आगे बढ़ाते हुए एफआईआर लांच करने के आदेश दे दिए। हालांकि अभी एफआईआर की जानी ही थी कि इससे पूर्व मौके पर पहुंचे सीआईए स्टाफ के गुरमेल सिंह ने सेफ खुलवाकर देखने की बात कही तो सेफ खुलवाने पर पता चला करीब साढ़े 8 लाख रुपये तो सेफ में सुरक्षित हैं। पता चलने के बाद पुलिस द्वारा नुकसान के हिसाब से एफआईआर दर्ज की गई। डीएसपी रुपिंदर भारद्वाज ने बताया कि इस घटना में 1 लाख 6 हजार 879 रुपये का नुकसान हुआ है तथा शेष राशी सुरक्षित है। 

कई वारदातों को नहीं सुलझा पाई है पुलिस
इससे पहले कस्बा भीखी में 14 दिसंबर की रात को चोरों ने पंजाब नैशनल बैंक के एटीएम को उखाड़ लिया था, लेकिन कैश की लूट से बचाव रहा था। इसी तरह 3 नवंबर को मानसा के कस्बा सरदूलगढ़ में एटीएम उखाड़ा गया था। डीएसपी कार्यालय के पास स्थित पंजाब नैशनल बैंक के एटीएम को उखाड़ ले गए थे, जिसमें साढ़े 9 लाख से अधिक कैश था। पुलिस अभी तक इन मामलों को सुलझा नहीं पाई है।


कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज