BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

शुक्रवार, जुलाई 08, 2016

क्या ये मुमकिन है-थाने के सामने लिंग जांच होती रहे, पुलिस को पता ही लगे



सेटिंग का खेल-: बरनाला सिटीथाने से महज 25 गज की दूरी पर चल रहा था लिंग जांच का काम 
हमने तो वही किया जो सिरसा पुलिस ने कहा : डीएसपी 
सिरसा पुलिस ने कहा-सात लोगों पर केस दर्ज किया बरनाला पुलिस कह रही पर्चा चार आरोपियों पर ही ,
#dabwalinews.com
बरनाला में थाना सिटी के सामने वीरवार को पकड़े गए आरोपी पांच साल से बेखौफ होकर लिंग जांच का धंधा चला रहे थे। तो पुलिस को ही इसकी कोई खबर मिली और ही सेहत विभाग कभी यह पता लगा पाया कि ऐसा कुछ इतने समय से चल रहा है।
वहीं शहर के लोगों का आरोप है कि विश्वास नहीं होता कि पुलिस और सेहत विभाग को इसकी जानकारी हो। इस पूरे मामले में कहीं कहीं मिलीभगत की आशंका पैदा हो रही है। जैसे ही सिरसा सेहत विभाग और पुलिस द्वारा रेड की सूचना बरनाला सेहत विभाग को लगी तो तुरंत जिला टीकाकरण अफसर डाॅ.महिंदर सिंह, डाॅ.मनप्रीत सिद्धू और डाॅ. ज्योति कौशल मौके पर पहुंचे।
अस्पतालके मालिकों पर भी होगी कार्रवाई
सिरसा सेहत विभाग के डिप्टी सिविल सर्जन डाॅ.वीरेश भूषण ने बताया कि पिछले दस साल से अस्पताल बंद पड़ा है और अस्पताल के असल डॉ. टीएस मित्तल और डाॅ.चन्द्र रेखा बाहर यूएसए में रह रहे हैं जोकि बराबर के आरोपी हैं। उनकी गैर-मौजूदगी में इतने बड़े चल रहे गौरखधंधे बारे उन्हें क्यों नहीं पता था या फिर उनकी मिलीभगत थी इसकी भी जांच की जा रही है। क्योंकि गौरखधंधे को चला रही मोगा की महिला गुरमेल कौर इसी अस्पताल में कई साल पहले नर्स थी। पूरी जांच के बाद अस्पताल के असल डाॅक्टरों पर भी कार्रवाई की जाएगी। उधर, बरनाला के सिविल सर्जन डाॅ.कौशल सिंह सैणी ने कहा कि उन्हें इस गौरखधंधे बारे में जरा सी भी जानकारी नहीं थी। अब वह अपने तौर पर भी पूरे मामले की जांच करवा रहे हैं धंधे में और कौन-कौन लोग शामिल हैं।
बरनाला सिटी के डीएसपी पलविंदर चीमां ने कहा कि पुलिस ने चार आरोपियों पर केस दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार किया है। इनमें डबवाली के आरएमपी डॉक्टर रामदास, मोगा की महिला गुरमेल कौर जोकि इस गौरखधंधे को होकर चला रही थी, मोगा की गुरप्रीत कौर और मोगा के जगतार सिंह पर विभिन्न धाराओं के तहत सिटी थाना बरनाला में केस दर्ज किया गया है। डीएसपी ने बताया कि सिरसा पुलिस ने हमें जिन आरोपियों पर केस दर्ज करने को कहा था उन्हीं चारों आरोपियों पर ही केस दर्ज किया है।
सिरसा पुलिस का कहना है की पुलिस ने सेहत विभाग सिरसा की रिपोर्ट पर सात आरोपियों पर केस दर्ज किया है। इनमें पांच महिलाएं शामिल हैं। आरोपियों में डबवाली के आरएमपी डॉक्टर रामदास, मोगा की गुरमेल कौर जोकि इस धंधे को बेखौफ होकर चला रही थी, मोगा की गुरप्रीत कौर और मोगा के जगतार सिंह के अलावा बरनाला की रहने वाली तीन अमनदीप कौर, मनदीप कौर और बलजीत कौर पर भी मामला दर्ज किया है। ये तीनों अल्ट्रासाउंड टेस्ट करवाने अस्पताल पहुंचे थे। यह एफआईआर बरनाला सिटी पुलिस स्टेशन में हुई है। सिरसा सेहत विभाग के डिप्टी सिविल सर्जन डा.वीरेश भुशन ने बताया कि हमने बरनाला पुलिस को सात आरोपियों के नाम देकर उन सभी पर पर्चा करने को कहा था, अगर बरनाला पुलिस ने चार आरोपियों पर ही केस दर्ज किया है तो वह गलत है। वह अभी बरनाला पुलिस से संपर्क कर रहे हैं। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज