BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

बुधवार, अगस्त 10, 2016

डबवाली में धरने पर बैठे किसान

#dabwalinews.com
किसानों द्वारा फसल बीमा योजना के खिलाफ एसडीएम कार्यालय के बाहर राष्ट्रीय किसान संगठन, किसान यूनियन, डॉ. स्वामीनाथ संघर्ष समिति व अन्य किसान जत्थेबंदियों के बैनर तले दिया जा रहा धरना मंगलवार को भी जारी रहा। विभिन्न गांवों के किसान सुबह 11 बजे संगठन के प्रदेशाध्यक्ष जसवीर सिंह भाटी के नेतृत्व में धरने पर बैठे पर सरकार के खिलाफ रोष प्रदर्शन किया। 1मंगलवार को डा. केवी सिंह, कुलदीप गदराना, कुलदीप भांभू ने भी धरना स्थल पर पहुंचकर किसानों का समर्थन किया। किसान नेता मलकीत सिंह खालसा ने कहा कि फसल बीमा योजना किसानों के लिए किसी भी तरह से फायदेमंद नहीं है। जो प्रावधान योजना में किए गए है उन्हे पढ़कर ऐसा लगता है कि यह योजना किसानों के लिए नहीं बल्कि बीमा कंपिनयों के हितों को ध्यान में रख कर बनाई गई है। उन्होंने कहा कि जिन किसानों के क्रेडिट खातों में से बैंकों ने जबरन प्रीमियम राशि काटी है उन्हें वापिस उनके खातों में डाला जाए। मलकीत सिंह ने कहा कि अगर सरकार किसान हितों को लेकर गंभीर है और इस योजना को लागू करना चाहती है तो सरकार किसानों का प्रीमियम खुद भरे व एक एकड़ को इकाई मान कर चले ताकि किसानों को योजना का लाभ मिल सके। प्राइवेट कंपनियों को छोड़कर बीमा करने का अधिकार ऑल इंडिया एग्रीकल्चर इंश्योरेंस कंपनी को दिया जाए। उनके अलावा जसवीर सिंह भाटी, वकील सिंह मौजगढ़ ने भी विचार रखे। धरने में लीलाधर बलिहारा, जग¨वद्र सरपंच, डा. सुरेंद्र पाल जस्सी, सुरेंद्र ठेकेदार, विजय सहारण, जयचंद रहेजा, राजेंद्र बिश्नोई गिदड़खेड़ा, रामजी लाल, जगदीश सिंह, इकबाल सिंह, हरबंस सिंह, अमरजीत सिंह पन्नीवाला मोरिका, बलजीत सिंह नंबरदार, बिल्लू सिंह जोगेवाला, जयदयाल मैहता, मंगत सिंह हस्सू, नरेंद्र सिंह दंदीवाल, देवेंद्र कुमार भोभिया, बलतेज सिंह नीलेयांवाली आदि उपस्थित थे।संवाद सूत्र, डबवाली : किसानों द्वारा फसल बीमा योजना के खिलाफ एसडीएम कार्यालय के बाहर राष्ट्रीय किसान संगठन, किसान यूनियन, डॉ. स्वामीनाथ संघर्ष समिति व अन्य किसान जत्थेबंदियों के बैनर तले दिया जा रहा धरना मंगलवार को भी जारी रहा। विभिन्न गांवों के किसान सुबह 11 बजे संगठन के प्रदेशाध्यक्ष जसवीर सिंह भाटी के नेतृत्व में धरने पर बैठे पर सरकार के खिलाफ रोष प्रदर्शन किया। 1मंगलवार को डा. केवी सिंह, कुलदीप गदराना, कुलदीप भांभू ने भी धरना स्थल पर पहुंचकर किसानों का समर्थन किया। किसान नेता मलकीत सिंह खालसा ने कहा कि फसल बीमा योजना किसानों के लिए किसी भी तरह से फायदेमंद नहीं है। जो प्रावधान योजना में किए गए है उन्हे पढ़कर ऐसा लगता है कि यह योजना किसानों के लिए नहीं बल्कि बीमा कंपिनयों के हितों को ध्यान में रख कर बनाई गई है। उन्होंने कहा कि जिन किसानों के क्रेडिट खातों में से बैंकों ने जबरन प्रीमियम राशि काटी है उन्हें वापिस उनके खातों में डाला जाए। मलकीत सिंह ने कहा कि अगर सरकार किसान हितों को लेकर गंभीर है और इस योजना को लागू करना चाहती है तो सरकार किसानों का प्रीमियम खुद भरे व एक एकड़ को इकाई मान कर चले ताकि किसानों को योजना का लाभ मिल सके। प्राइवेट कंपनियों को छोड़कर बीमा करने का अधिकार ऑल इंडिया एग्रीकल्चर इंश्योरेंस कंपनी को दिया जाए। उनके अलावा जसवीर सिंह भाटी, वकील सिंह मौजगढ़ ने भी विचार रखे। धरने में लीलाधर बलिहारा, जग¨वद्र सरपंच, डा. सुरेंद्र पाल जस्सी, सुरेंद्र ठेकेदार, विजय सहारण, जयचंद रहेजा, राजेंद्र बिश्नोई गिदड़खेड़ा, रामजी लाल, जगदीश सिंह, इकबाल सिंह, हरबंस सिंह, अमरजीत सिंह पन्नीवाला मोरिका, बलजीत सिंह नंबरदार, बिल्लू सिंह जोगेवाला, जयदयाल मैहता, मंगत सिंह हस्सू, नरेंद्र सिंह दंदीवाल, देवेंद्र कुमार भोभिया, बलतेज सिंह नीलेयांवाली आदि उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज