Young Flame Young Flame Author
Title: नशा माफिया के लोगों की सिफारिश करने वाले नेताओं पर भी कार्रवाई करें : सीजेएम
Author: Young Flame
Rating 5 of 5 Des:
मुहिम| जिला सेशन जज बिमलेश तंवर के निर्देशानुसार जिले में नशे के खिलाफ चल रहा जागरूकता अभियान #dabwalinews.com सीजेएम कम जिला विधिक सेवा ...


मुहिम| जिला सेशन जज बिमलेश तंवर के निर्देशानुसार जिले में नशे के खिलाफ चल रहा जागरूकता अभियान
#dabwalinews.com
सीजेएम कम जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सचिव सतीश कुमार ने कहा कि नशा माफिया के लोगों को बचाने के लिए नेताओं की सिफारिश आती है तो सिफारिश करने वालों पर भी कड़ी कानूनी कार्रवाई की जाए ताकि नशाखोरी का खात्मा हो। सीजेएम ने कहा कि आमजन की जागरूकता और सूचनाएं नशा गिरोह का खात्मा करने में सफलता का सूत्र हैं। इससे नशे के विरुद्ध जागरूकता से त्रिवेणी शहर नई सफलता पा सकता है।
सीजेएम कम जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सचिव सतीश कुमार ने जिला जज के निर्देशानुसार डबवाली शहर में सोमवार को नशा उखाड़ो अभियान के तहत जागरूकता रैली निकाली। इसकी शुरुआत के दौरान सीजेएम सतीश कुमार ने नशाखोरी को खत्म करने की अपील करते हुए वकीलों आमजनों से चर्चा की। सीजेएम ने कहा कि राजस्थान में नशे की पैदावार होती है जो अब काफी कंट्रोल कर दी गई है जबकि पंजाब में भी ज्यादा कारोबार है वह भी काफी काबू में है। इससे तीन राज्यों की सीमा में बसे उपमंडल को नशामुक्त करने के लिए पूर्ण जागरूकता की जरूरत है। इसके लिए पुलिस ड्रग्स विभाग को सख्ती के निर्देश दिए गए हैं।
नशा गिरोह की धरपकड़ में कोई कोताही नहीं होनी चाहिए। सीजेएम ने कहा कि ऐसे सुनने में अाता है कि नशा माफिया के लोगों को नेताओं की सिफारिश पर छोड़ दिया जाता है। ऐसा कतई नहीं होना चाहिए। ऐसा करने वालों को कानून कभी माफ नहीं करेगा। सीजेएम ने कहा कि नशा माफिया के लोगों को बचाने के लिए कोई सिफारिश आए तो ऐसे नेता लोगों पर कार्रवाई की जानी चाहिए। सीजेएम ने कहा कि नशा माफिया के ज्यादातर लोग नौजवानों का भविष्य खराब करने में लगे हैं। इससे स्कूल-कॉलेजों के आसपास भी नशा सप्लाई करते हैं। आमजन से मिली सूचनाओं पर सीजेएम सतीश कुमार ने पुलिस प्रशासन ड्रग इंस्पेक्टर को सीमाओं पर नाका बंदी कर वाहनों की चेकिंग करने की अपील की।
उन्होंने आमजन से कहा कि शहर गांव या आसपास के मेडिकलों दुकानों पर कहीं भी नशा सप्लाई किया जाता है वह पुलिस प्रशासन को सूचित करे। कोई सुनवाई हो तो प्राधिकरण को बताएं ताकि कानूनी एक्शन लिया जाए और लोगों को नशे से बचाया जा सके।
फाटक बंद होने से कोर्ट की ओर किया टर्न
शहर के अतिव्यस्त कॉलोनी रोड पर सीजेएम के नेतृत्व में वकीलों और सामाजिक सदस्यों ने रैली शुरू की। वहीं पीएनबी रेलवे फाटक बंद होने से गाेल बाजार की ओर जाने की बजाय फाटक से कोर्ट की ओर अनाज मंडी रोड पर टर्न कर दिया। रैली के दौरान वकीलों ने लोगों से नशा सप्लाई करने वाले गिरोह के विरुद्ध आवाज उठाने और सूचनाएं पुलिस को देने की अपील की। मौके पर एसएमओ डाॅ. एमके भादू, पैनल एडवोकेट दयाराम जोइया, बार प्रधान जितेंद्र खेरां, डाॅ. विवेक करीर, चरणजीत सिंधू, गुरजंट चौहान, बीएस रावला, गुरविंद्र मान, सुरेंद्र पारीक, मुखत्यार सिंह, गुरपाल सिंह, गुरभेज, दलीप, दिनेश, जसकरण अन्य मौजूद थे।
पंजाब-राजस्थान सीमा के कारण बढ़ा नशा
सीजेएम सतीश कुमार ने कहा कि डबवाली शहर तीन राज्यों की सीमावर्ती क्षेत्रों पर है। इससे त्रिवेणी शहर में नशावृत्ति और अपराध का ग्राफ अक्सर बढ़ता है। उन्होंने कहा कि राजस्थान में नशे की उपज पर काफी कंट्रोल किया गया है। उन्होंने कहा कि आमजन नशा बेचने वालों की सूचना शिकायत दें जबकि भांग अन्य नशे में प्रयुक्त होने वाले पौधों को तुरंत हटाने का काम करें। सीजेएम सतीश कुमार ने कहा कि कानूनी सहायता सूचनाओं के लिए आमजन जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के हेल्पलाइन नंबर 01666-247002 पर बात कर सकते हैं।
जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की ओर से नशे के खिलाफ सिरसा में 16 जागरूकता शिविरों का आयोजन किया गया है जबकि उपमंडल डबवाली में 6 शिविरों और ऐलनाबाद में 6 शिविर लगाए गए हैं। अभियान के तहत 30 सितंबर को विवेकानंद वरिष्ठ माध्यमिक स्कूल सिरसा में एक सेमिनार भी किया जाएगा। सेमिनार में स्वास्थ्य विभाग े अधिकारी, नशा मुक्ति केंद्र के अधिकारी और विश्वविद्यालय के प्राध्यापक, जिला औषधी नियंत्रण अधिकारी, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के पैनल एडवोकेट नशे के दुष्प्रभाव के बारे में विचार व्यक्त करेंगे।


प्रतिक्रियाएँ:

About Author

Advertisement

एक टिप्पणी भेजें