Dabwalinews.com Dabwalinews.com Author
Title: शहीद भगत सिंह ब्रिगेड ने शहर में निकाली जागरूकता रैली 'स्वदेशी अपनाओ, चीन को सबक सिखाओ'
Author: Dabwalinews.com
Rating 5 of 5 Des:
  युवाओं से स्वदेशी वस्तुओं का ही प्रयाेग करने का आह्वान #dabwalinews.com चीन द्वारा पाकिस्तान का साथ देने के विरोध में शहीदों के ...

 

युवाओं से स्वदेशी वस्तुओं का ही प्रयाेग करने का आह्वान
#dabwalinews.com
चीन द्वारा पाकिस्तान का साथ देने के विरोध में शहीदों के सम्मान में शहीद भगत सिंह ब्रिगेड के नेतृत्व में छात्र संगठनों ग्रामीण आंचल रक्षा दल माधोसिंघाना, युवा क्लब लक्ष्य 2020 खैरेकां, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने सोमवार को शहर में पैदल यात्रा निकाली।
सोमवार सुबह छात्र आईटीआई कॉलेज के पास एकत्रित हुए और हाथों में 'चाइनीज चीजों का बहिष्कार करो, 'जब-जब युवा जागा है, देश का संकट भागा है, 'शहीदों के सम्मान में युवा है मैदान मेंं के बैनर लिए सड़कों पर उतरे। बाद में युवा आईटीआई कॉलेज से शिव चौक, सूरत गढिय़ा चौक, घंटाघर चौक, सुभाष चौक, रोड़ी बाजार, शहीद भगत सिंह चौक, सदर बाजार से होते हुए टाउन पार्क पहुंचे, जहां शहीदों को श्रद्धासुमन अर्पित किए। इस पैदल यात्रा के दौरान शहीद भगत सिंह ब्रिगेड युवाओं ने एक स्वर में कहा कि शहीदों का सम्मान करें, वह समूचे देश की धरोहर है। शहीदों के जीवन का अनुसरण कर उनके दिखाए मार्ग पर चलें। उन्होंने कहा कि अगर हम चाइनीज वस्तुओं को खरीदते है, तो वह पैसा चीन के पास जाएगा और चीन पाकिस्तान का साथ दे रहा है, तो संभावित यह पैसा हमारे देश को नुकसान पहुंचाने में इस्तेमाल होगा।
शहीदों के बारे में जानकारी रखें 
उन्होंने कहा कि जिस देश ने हमारे देश के लाल हमसे छीने है, उस देश का साथ देने वाले चीन को हमें सबक सिखाना होगा। यह तभी संभव है, जब हम एकजुट होकर चीन का विरोध करेंगे। युवाओं ने लोगों से आह्वान किया कि देश में निर्मित वस्तुओं को ही अपनी जीवनशैली का हिस्सा बनाए और भारत देश को आर्थिक रूप से मजबूत कर अपना नैतिक दायित्व निभाए। शहीद भगत सिंह ब्रिगेड के जिला प्रभारी कुलदीप सुथार सह प्रभारी कुलदीप राजा जांदू ने इस अवसर पर कहा कि चाइनीज वस्तुओं का बहिष्कार करने के साथ साथ हमें शहीदों के लिए संग्रहालय निर्माण हेतु भी एकजुट होना होगा, ताकि सभी शहीदों के बारे में पूर्ण ज्ञान मिल सके। इस मौके पर कुलदीप सुथार, कुलदीप राजा जांदू, अशोक भाखर जमाल, रोहित दड़बी, आईटीआई प्रधान अनिल गोदारा, सोनू भाटी, जगदीप गोदारा एनएसयूआई युवा मौजूद रहे।
प्रतिक्रियाएँ:

About Author

Advertisement

एक टिप्पणी भेजें

 
Top