Dabwalinews.com Dabwalinews.com Author
Title: अग्निकांड पीड़ितों ने नौकरी और सुरक्षा के आश्वासन देने वालों को सुनाई खरी-खोटी
Author: Dabwalinews.com
Rating 5 of 5 Des:
#dabwalinews.com अग्निकांड स्मारक स्थल पर 21वीं बरसी पर शुक्रवार को सर्वधर्म सभा का आयोजन हुआ। इसमें दिवंगतों की याद में स्थल...
#dabwalinews.com


अग्निकांड स्मारक स्थल पर 21वीं बरसी पर शुक्रवार को सर्वधर्म सभा का आयोजन हुआ। इसमें दिवंगतों की याद में स्थल पर तस्वीरें लगाई गई। इसी दौरान पीडितों के परिजन आसपास लोग उपस्थित हुए और उनकी आत्मिक शांति के लिए तस्वीरों के समक्ष पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। इसी दौरान अपने संस्था द्वारा लगाए रक्तदान शिविर में लोगों ने रक्तदान किया। श्रद्धांजलि में नेताओं ने हर बार की तरह नौकरी और सुरक्षा पैरवी का आश्वासन दिया जबकि 21 सालों से मांगे अधूरी होने से पीडितों ने नेताओं को खरीखोटी सुनाई।
चौटाला रोड़ स्थित अग्निकांड की 21वीं बरसी पर कराए गए रामायण पाठ के समापन पर यज्ञ अनुष्ठान हुआ। जबकि दोपहर में अखंड पाठ का भोग डाला गया। इस दौरान स्मारक पर पीडितों के परिवारों शहरवासियों ने स्मारक पर दिवंगतों को श्रद्धांजलि दी। इस उपरांत हुई सर्वधर्म सभा में सभी ने 2 मिनट का मौन रखकर दिवंगतों को याद किया। कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष अशोक तंवर ने कहा कि घटना बड़ी होने के कारण आज भी हम इसे भूला नहीं पाए है। ऐसे में सबक लेने में भी पीछे रहे है। उन्होंने कहा कि लोगों की भावनाओं को सभी समझते है परंतु उन्हें अपनों की याद में रोते रहना कोई समाधान नहीं है। ऐसे में उन्हें अपने आंसू पोंछकर आगे बढ़ना चाहिए। उन्होंने वायदा किया कि अग्निकांड पीडितों को नौकरी दिलवाने की आवाज उनकी पार्टी के विधायक विधानसभा में शीतकालीन में उठाएंगे।
उनका पूरा प्रयास पीडितों के साथ है और इसे राजकीय स्मारक बनाये जाने को लेकर सीएम से बात करेगे और शिष्टमंडल तैयार र सीएम से बात करेगा। वहीं पर्यटन निगम चेयरमैन भाजपा नेता जगदीश चोपड़ा ने कहा कि यह बहुत ही दुखद दिन है, इस दर्द को किसी भी शब्द में व्यक्त नहीं किया जा सकता, सरकार की तरफ से जो सक्षम होगा उसको उसका हक दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि लोगों को लगता है सीएम इस मामले को नजर अंदाज कर रही है परंतु ऐसा कुछ नहीं है क्योंकि वह भी आखिरकार एक इंसान है। जो दिवंगतों पीडितों के दर्द को अच्छे से समझते है। उनकी मांगों को सरकार के सामने प्रस्तुत कर समाधान अवश्य कराया जाएगा।
वही देव कुमार शर्मा ने कहा कि अग्निकांड उनको याद करते है क्योंकि इन्हे भुलाया नहीं जा सकता। उन्होंने कहा कि सीएम रैली के दौरान अग्निकांड का जिक्र करते हुए इससे उभरने का आह्वान किया है। उन्होंने कहा कि विधायक नैना चौटाला के साथ पीड़िता सुमन कौशल पहले सीएम के पास गए तो उन्होंने उनकी भावनाओं की कदर करते हुए उसे योग्यता परीक्षा पास करने को कहा था और इंटरव्यु आने पर सहायता करने का आश्वासन दिया हुआ है। एसडीएम संगीता तेत्रवाल ने कहा कि अग्निकांड हादसे में जिन लोगों की जाने गई उन्हें वापिस तो नहीं लाया जा सकता पंरतु उस घटना को याद रखकर लोगों को सतर्कता बरतने के लिए प्रेरित किया।
इसी तरह उन्होंने पीडितों की मांग को उच्चाधिकारियों के समक्ष पहुंचाने का आश्वासन दिया। पूर्व ओएसडी कांग्रेस नेता डा. केवी सिंह ने कहा कि 21 साल पहले हुए अग्निकांड के दर्द को वह समझते है क्योंकि उन्होंने भी अपने 4 लोगों को खोया है ओर वह खुद भी इससे ग्रस्त है। ऐसे में उनकी सहायता के लिए सरकार द्वारा हर बार कोई ना कोई कार्य किया गया है। उन्होंने कहा कि अग्निकांड पीडितों की सहायता के लिए इसे राजनीतिक मुद्दों से जोड़ने की बजाय इसमें सभी पार्टी सदस्यों को मिलकर कार्य करे का सकंल्प ले। इसी तरह उन्होंने स्मारक पर अग्निशामक प्रशिक्षण संबंधी केंद्र बनाए जाने की सलाह दी। इसमें अग्निकांड पीडितों को भर्ती कर कार्य को चलाने पर विचार विमर्श किया गया।
इसी तरह सांसद चरणजीत सिंह रोड़ी ने रक्तदान करके अपने श्रद्धासुमन अर्पित किए। रक्तदान सोसायटी अपने संस्था की ओर से लगाए गए रक्तदान शिविर में विशेष रूप से शिरकत करते हुए सांसद चरणजीत रोड़ी ने कहा कि अग्निकांड में बिछड़ी हुई 442 जिंदगियों की याद में पर हर वर्ष रक्तदान शिविर लगाने वाली दोनों संस्थाएं बधाई की पात्र है। सांसद रोड़ी ने अग्निकांड समिति के सचिव विनोद बांसल से स्मारक की पूरी जानकारी ली।
स्मारक स्थल पर दिवंगतों की आत्मिक की याद में 2 मिनट मौन रखा गया।

प्रतिक्रियाएँ:

About Author

Advertisement

एक टिप्पणी भेजें