Dabwalinews.com Dabwalinews.com Author
Title: 9 साल की बच्ची ने जूस की पैकिंग में पकड़ी गलती, अब कंपनी करेगी बदलाव
Author: Dabwalinews.com
Rating 5 of 5 Des:
#dabwalinews.com कुछ दिन पहले गुवाहटी की 9 साल की बच्ची ने डाबर कंपनी के रियल जूस की पैकिंग पर स्कूल यूनिफॉर्म में एक लड़के की फोटो और क...
#dabwalinews.com
कुछ दिन पहले गुवाहटी की 9 साल की बच्ची ने डाबर कंपनी के रियल जूस की पैकिंग पर स्कूल यूनिफॉर्म में एक लड़के की फोटो और कैप्शन में लिखे 'him' देखकर इसे पीने से इनकार कर दिया। उसने पिता से पूछा कि क्या लड़के ही जूस पी सकते हैं। पापा ने कंपनी को मेल पर शिकायत की, लेकिन कोई जवाब नहीं आया। आखिर में उन्होंने वुमन एंड चाइल्ड डेवलपमेंट मिनिस्टर मेनका गांधी को चिट्ठी लिखी। अब कंपनी इसकी पैकिंग बदलने जा रही है। 
बेटियों को सम्मान मिले...
- बच्ची ने पिता मृगांका के. मजूमदार से पूछा- 'क्या लड़के ही इसे (रियल फ्रूट जूस) पी सकते हैं?’ मजूमदार हैरत में पड़ गए। उनके पास इसका जवाब नहीं था। उन्होंने सोचा कि डाबर को रियल जूस की पैकिंग में बेटियों को सम्मान देना चाहिए। वो कहते हैं- अब मुझे खुशी है कि कंपनी ने पैकिंग बदलने को राजी है।
- मजूमदार के मुताबिक- रियल जूस की पैकिंग पर स्कूल यूनिफॉर्म में एक लड़के की फोटो लगी होती है। कैप्शन में लिखा है- "something that's good for your child should also make him smile"
- ''बेटी ने इसी 200 ml पैकिंग पर मुझसे सवाल किए थे। जब उसने लड़के की फोटो और कैप्शन में him शब्द को देखा।''
मेनका गांधी को लिखा लेटर
- मजूमदार ने कंपनी को मेल किया। लेकिन जब कोई सुनवाई नहीं हुई तो उन्होंने मेनका गांधी को चिट्ठी लिखी। 
- इसमें उन्होंने कहा कि जूस की पैकिंग से लड़के-लड़कियों में भेदभाव जाहिर होता है। मेनका ने मामले पर डाबर से जबाव मांगा।
डाबर ने क्या दी सफाई?

- डाबर ने भेदभाव से इनकार किया है। कंपनी पैकिंग बदलने पर राजी हो गई है ताकि आगे किसी प्रोडक्ट में ऐसी गलतफहमी पैदा ना हो। 
- कंपनी की तरफ से जारी बयान में कहा गया, ''हम फिर भरोसा दिलाते हैं कि पैकेट पर लिखा 'him' शब्द किसी खास जेंडर के लिए इस्तेमाल नहीं किया गया है। इसे सभी बच्चों के लिए बनाया गया है।''
- ''रियल फ्रूट पावर प्रोडक्ट में एक हैप्पी फैमिली का फोटो छपा है। जिसमें एक बेटी भी शामिल है।''
प्रतिक्रियाएँ:

About Author

Advertisement

एक टिप्पणी भेजें