BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

शुक्रवार, मई 26, 2017

देवर तड़पता रहा, बदमाश मेरा रेप करते रहे: यमुना एक्सप्रेस वे गैंगरेप विक्टिम ने कहा

#dabwalinews.com
ग्रेटर नोएडा (यूपी). 
यहां यमुना एक्सप्रेस वे पर बुधवार को 4 महिलाओं के साथ गैंगरेप किया गया। विरोध करने पर उनके साथ मौजूद एक शख्स की हत्या कर दी गई। गैंगरेप पीड़िता ने जो आपबीती बताई है, वो रोंगटे खड़े कर देने वाली है। उसने बताया, "जब मेरे देवर ने गैंगरेप का विरोध किया तो बदमाशों ने उसे गोली मार दी, वो (देवर) जमीन पर तड़पता रहा और उसके सामने ही मेरा गैंगरेप हुआ। मैंने बदमाशों को ये भी बताया कि मेरा बच्चेदानी का ऑपरेशन हुआ है, लेकिन उन्होंने एक न सुनी।" 
हाथ-पैर बांध दिए, कोई सुनने वाला नहीं था...

- पीड़िता ने बताया, ''बदमाशों ने हथियारों के बल पर हमें बंधक बनाया। जब हमने विरोध किया तो उन्होंने हमारी पिटाई कर दी। सड़क से दूर खेतों में ले जाकर हमें नीचे बैठने को कहा। हमने बदमाशों से कहा, "आपको पैसा, जेवर जो लेना है ले लो, लेकिन हमें छोड़ दो। हमारी इस बात को बदमाशों ने अनसुना कर दिया। बदमाशों ने हमारी ही चुन्नी फाड़कर सभी के हाथ-पैर बांध दिए। इसके बाद जहां हमें बंधक बनाया गया था, वहीं से कुछ दूरी पर एक-एक महिला को उठाकर ले जाने लगे। मेरे देवर ने इसका विरोध किया। उसने तेज-तेज से चिल्ला कर मदद भी मांगी, लेकिन अंधेरा और सुनसान जगह होने की वजह से किसी ने उसकी आवाज नहीं सुनी।''
- ''मेरे देवर को बदमाशों ने पहले डराने के लिए एक गोली जमीन में मारी, इसके बाद भी वो विरोध करता रहा तो गोली मार दी, वो जमीन पर गिर गया। इसके बाद वो जमीन पर तड़पता रहा और दूसरी तरफ बदमाश मेरे साथ रेप करते रहे। थोड़ी ही देर में देवर की मौत हो गई।''
तुम्हारी मां जैसी हूं, छोड़ दो हमें
- पीड़िता ने बताया, ''जब बदमाश हमारा रेप करने जा रहे थे तो हमने उनसे बड़ी मिन्नते कीं। उनसे कहा, "तुम्हें जो चाहिए ले लो। हम घर से भी पैसे लाकर दे देंगे। इसके बाद भी वो नहीं माने। इसके बाद हमने उनके पैर पकड़ लिया। मैंने कहा कि तुम्हारी मां जैसी हूं, छोड़ दो हमें। हम उनसे रहम की भीख मांगते रहे, लेकिन उन्होंने एक न सुनी।''
- ''मैंने बदमाशों काे बताया कि कुछ दिनों पहले मेरी बच्चेदानी का ऑपरेशन हुआ है। इसके बाद भी वो लोग नहीं माने। मैंने जब उनसे ये बात बताई तो वो हंसने लगे। मैं दर्द से तड़प रही थी, लेकिन उन्होंने कोई रहम नहीं दिखाया।''
क्या है मामला?
- यमुना एक्सप्रेस वे पर बुधवार रात जेवर से बुलंदशहर जा रही फैमिली से बदमाशों ने लूटपाट की। एक फैमिली मेंबर (पुरुष) की गोली मारकर हत्या कर दी। 4 महिलाओं का आरोप है कि उनके साथ गैंगरेप किया गया। पुलिस ने बताया कि विक्टिम्स की मेडिकल रिपोर्ट का इंतजार है।
- वारदात के दौरान पुलिस से 100 नंबर पर कॉल कर मदद मांगी गई, लेक‍िन पुलिस वारदात के डेढ़ घंटे बाद मौके पर पहुंची। उस वक्त तक बदमाश घटना को अंजाम दे चुके थे।

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज