BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

बुधवार, जून 14, 2017

गैंगस्टर मारे गए पर अनसुलझी रह गई गुत्थी

चौटाला डबल मर्डर में था तीनों का हाथ, ग्रामीणों ने की थी सीबीआइ जांच की मांग, मर्डर मामले में दो गैंगस्टर अभी पकड़ से बाहर  #dabwalinews.com

डबवाली : इनेलो नेता पीके गोदारा के किन्नू प्लांट पर फायरिंग करके चौटाला निवासी अमित सहारण उर्फ घन्ना तथा सतबीर पूनियां को मौत के घाट उतारने वाले पंजाब के तीन गैंगस्टर जसप्रीत उर्फ जिंपी डॉन, बंटी ढिल्लों तथा निशान सिंह की मौत हो गई है। जबकि उनके दो साथी हरसिमरनदीप तथा सुखप्रीत उर्फ बुड्ढा की तलाश जारी है। गांव सुकेराखेड़ा की ढाणी में गैंगस्टरों की मौत होने के मामले को ग्रामीण पचा नहीं पा रहे हैं। चूंकि ग्रामीण चौटाला मर्डर मामले की सीबीआइ जांच की मांग कर रहे थे।
ग्रामीणों के अनुसार गैंगस्टर ही वही कड़ी थे, जो बड़ा राज खोल सकते थे। ग्रामीणों को अब उम्मीद है हरियाणा पुलिस शेष दोनों गैंगस्टर को पकड़कर ग्रामीणों को संतुष्ट करेगी। चूंकि वारदात का मास्टर माइंड छोटू भाट 13 अप्रैल को आत्मसमर्पण कर चुका है। ग्रामीणों को संदेह है कि इनेलो नेता के किन्नू प्लांट में पर हुआ डबल मर्डर योजनाबद्ध तरीके से है। इसमें कई बड़े लोग शामिल हैं। अभी तक पुलिस यह खुलासा नहीं कर पाई है कि हत्या क्यों करवाई गई है। जबकि मामले की जांच स्टेट क्राइम ब्रांच कर रही है। 11 जनवरी 2017 की रात को हुई वारदात के आरोपी पुलिस की पकड़ से दूर रहे। पुलिस राजस्थान तथा पंजाब में उनके ठिकानों पर रेड करने के दावे करती रही। जबकि वे सरेआम चौटाला पुलिस चौकी से महज 20-25 किलोमीटर की दूरी पर स्थित सुकेराखेड़ा की ढाणी में पनाह लिए हुए थे। इसकी भनक पुलिस को नहीं लगी। जबकि दूसरे राज्य की पुलिस ने आकर ऑपरेशन अंजाम दिया। चौटाला डबल मर्डर मामले की गुत्थी अभी तक अनसुलझी है। मर्डर क्यों किया, पुलिस इसका खुलासा नहीं कर पाई है। जबकि मास्टर माइंड समेत आधा दर्जन से ज्यादा आरोपी पकड़े जा चुके हैं।
लूट की स्कॉर्पियो से आए थे
गैंगस्टर मोहाली में लूटी स्कॉर्पियो पर सवार होकर आए थे। स्कॉर्पियो में से पुलिस को नंबर प्लेट बरामद हुई हैं। आशंका है कि नाकों को क्रॉस करने के लिए अलग नंबर प्लेट लगाते थे। आइजी एमएस छिन्ना ने बताया कि बंटी ढिल्लों तथा जिंपी डॉन पर पंजाब में हत्या, डकैती, किडने¨पग, लूटपाट के 14 मामले चल रहे थे जबकि हरियाणा में दोनों पर दो मामले चल रहे हैं।






कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज